सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

होम (घर) / कृषि / बाजार संबंधी जानकारियां / न्यूनतम समर्थन मूल्य
शेयर
Views
  • अवस्था संपादित करने के स्वीकृत

न्यूनतम समर्थन मूल्य

कृषि उपज में महत्वपूर्ण न्यूनतम समर्थन मूल्य की जानकारी प्रस्तुत है।

न्यूनतम समर्थन मूल्य का निर्धारण

न्यूनतम समर्थन मूल्य आयोग और अन्य गैर-कीमत उपायों के स्तर के संबंध में सिफारिशें तैयार करने में निम्नलिखित कारकों के अलावा समस्त वस्तुओं या विशेष वस्तु या वस्तु समूह की पूरी आर्थिक संरचना एवं उन पर एक व्यापक दृष्टिकोण से विचार करने के बाद तय करता है-

उत्पादन लागत आगत कीमतों में परिवर्तन आगत, निर्गत मूल्य समतुल्यता
बाजार की कीमतों में रुझान मांग और आपूर्ति अंतरफसलीय मूल्य समतुल्यता
औद्योगिक ढांचे पर लागत का प्रभाव जीवन यापन पर लागत का प्रभाव सामान्य मूल्य स्तर पर प्रभाव
अंतर्राष्ट्रीय कीमतों की स्थिति किसानों द्वारा प्राप्त भुगतान की कीमतों और कीमतों के बीच समानता जारी कीमतों पर प्रभाव और सब्सिडी पर उसके निहितार्थ

आयोग जिला, राज्य और देश के स्तर पर सूक्ष्म स्तर पर संग्रहित डेटा इकठा कर इस्तेमाल में लाता है। आयोग द्वारा उपयोग में लाई गई जानकारी/डेटा व अन्य बातों के साथ निम्नलिखित बिंदु में इसमे  शामिल होते हैं-

  • देश के विभिन्न क्षेत्रों में प्रति हेक्टेयर लागत और कृषि के अन्य खर्च और उनमें आने वाले बदलाव
  • देश के विभिन्न क्षेत्रों में प्रति क्विंटल उत्पादन की लागत और उसमें होने वाले परिवर्तन
  • विभिन्न आदानों की कीमतों और उसमें होने वाले परिवर्तन
  • उत्पादों की बाजार कीमतों और उनमें होने वाले परिवर्तन
  • किसानों द्वारा बेची जाने वाली वस्तुओं की और उनके द्वारा खरीदी गई वस्तुएं और उनकी कीमतों में परिवर्तन
  • आपूर्ति-सरकारी/सार्वजनिक एजेंसियों या उद्योग के क्षेत्र, उपज और उत्पादन, आयात, निर्यात और घरेलू उपलब्धता और अन्य भागों से संबंधित जानकारी;
  • मांग संबंधी जानकारी- कुल और प्रति व्यक्ति खपत, प्रवृत्तियों और प्रसंस्करण, उद्योग की क्षमता;
  • अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कीमतें और उसमें परिवर्तन, विश्व बाजार में मांग और आपूर्ति की स्थिति;
  • कृषि उत्पादों के डेरिवेटिव जैसे चीनी, गुड़, जूट के सामान, खाद्य/गैर खाद्य तेल और सूती धागे इत्यादि की कीमतें
  • कृषि उत्पादों और उनके प्रसंस्करण की लागत
  • विपणन की लागत - भंडारण, परिवहन, प्रसंस्करण, विपणन सेवाओं, करों/बाजार पदाधिकारियों द्वारा बनाए रखा जाने वाला लाभ
  • सामान्य कीमतों के स्तर, उपभोक्ता मूल्य सूचकांक और राजकोषीय स्तर औरवृहद आर्थिक स्तर

जैसा की पहले ही उल्लेख किया गया है, वर्तमान कीमत नीति के संबंध में 25 कृषि जिंसों के लिए ही सरकार को सलाह देने के लिए सीएसीपी निर्देशित है। आयोग को अच्छी फसल की बुआई के लिए मौसम से पहले सरकार को अपनी सिफारिशें संप्रेषित करना आवश्यक है। विभिन्न समूहों के साथ बातचीत करने के लिए आयोग का नीचे लिखे संकेत चरणों का क्रम इस प्रकार है: -

  • आयोग आगामी सत्र के लिए प्रासंगिकता के मुख्य मुद्दों (लघु, मध्यम या लंबी बारी) को निर्धारित करता है।
  • आयोग केन्द्रीय मंत्रालयों, राज्य सरकारों और अन्य संगठनों व्यापार से संबंधित, उद्योग, प्रोसेसर, और सहकारी में दोनों किसानों और निजी क्षेत्र के लिए एक प्रश्नावली भेजता है और कुछ मुद्दों और संबंधित मद पर तथ्यात्मक जानकारी और उनके विचारों को प्राप्त करता है।
  • कदम (दो) के बाद, आयोग राज्य सरकारों, केन्द्रीय मंत्रालयों / विभागों और अन्य संगठनों के साथ अलग से विचार विमर्श करता है. आयोग अनुसंधान और अकादमिक संस्थानों के साथ सूचना का आदान प्रदान और प्रासंगिक अध्ययन और उनके निष्कर्षों पर भी नजर रखता है।
  • आयोग मौके पर टिप्पणियों के लिए कुछ क्षेत्रों का दौरा और स्थानीय स्तर के संगठनों और किसानों से भी जानकारी हासिल करता है।
  • वर्ष 2015-16 ऋतु के लिए खरीफ फसलों का न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य

    (रुपये प्रति क्विंटल )

    फसल का नाम

    किस्‍म

    2014-15 ऋतु के लिए न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य (रु प्रति क्विंटल)

    2015-16 ऋतु के लिए न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य (रु प्रति क्विंटल )

    पिछले वर्ष की तुलना में वृद्धि ( रुपये प्रति क्विंटल में )

    बोनस

    (रु प्रति क्विंटल में)

    धान

    सामान्‍य

    1360

    1410

    50

    ---

    ग्रेड ए

    1400

    1450

    50

    ---

    ज्‍वार

    शंकर

    1530

    1570

    40

    ---

    मालदांडी

    1550

    1590

    40

    ---

    बाजरा

    ---

    1250

    1275

    25

    ---

    मक्‍का

    ---

    1310

    1325

    15

    ---

    रागी

    ---

    1550

    1650

    100

    ---

    तुर (अरहर)

    ---

    4350

    4625

    (रु.200/-बोनस सहित)

    275

    200

    मूंग

    ---

    4600

    4850

    (रु.200/-बोनस सहित)

    250

    200

    उड़द

    ---

    4350

    4625

    (रु.200/-बोनस सहित)

    275

    200

    मूंगफली छिलके में

    ---

    4000

    4030

    30

    ---

    सोयाबीन

    काली

    2500

    ----

    ---

    ---

    पीली

    2560

    2600

    40

    ---

    सूरजमुखी बीज

    ---

    3750

    3800

    50

    ---

    सीसम

    ---

    4600

    4700

    100

    ---

    नाइजर सीड

    ---

    3600

    3650

    50

    ---

    कपास

    मध्‍यम रेशा

    3750

    3800

    50

    ---

    लंबे रेशे

    4050

    4100

    50

    ---

     

2.84210526316

रमेश कुमार Oct 25, 2017 01:16 PM

किसानों के हित के लिए समर्थन मूल्य बढ़ना चाहिए ।

जय बहादुर सिंह Oct 11, 2017 06:46 PM

विधायका एवं कार्XXालिका के सापेक्ष न्यूनतम समर्थन मूल्य का निर्धारण होना चाहिए

राम सिंह रावत Oct 01, 2017 11:38 AM

सो हैवी हार्डवर्कर ऑफ़ फार्मर इन रिस्क ऑफ़ स्नेक ..... जो समर्थन मूल्य है बहुत क है उसे बढ़ाया जाना चाहिए खास कर कपास और मूंगफल्ली म्हणत बहुत ज्यादा और लगत भी फिर उसका रेट बहुत काम है किसान सुसडे कर रहे है इसे गोवेर्Xेंट सकती से ध्यान दे.....

विजय singh Sep 25, 2017 03:31 PM

समर्थन मूल्य बढ़ाना चाहिए

Rajkumar narwariya Jun 06, 2017 02:11 PM

mere pas bhi masur hai tuar hai

अपना सुझाव दें

(यदि दी गई विषय सामग्री पर आपके पास कोई सुझाव/टिप्पणी है तो कृपया उसे यहां लिखें ।)

Enter the word
Back to top

T612017/12/18 20:21:5.323718 GMT+0530

T622017/12/18 20:21:5.954217 GMT+0530

T632017/12/18 20:21:5.960388 GMT+0530

T642017/12/18 20:21:5.960726 GMT+0530

T12017/12/18 20:21:5.256735 GMT+0530

T22017/12/18 20:21:5.256985 GMT+0530

T32017/12/18 20:21:5.257138 GMT+0530

T42017/12/18 20:21:5.257304 GMT+0530

T52017/12/18 20:21:5.257400 GMT+0530

T62017/12/18 20:21:5.257473 GMT+0530

T72017/12/18 20:21:5.258312 GMT+0530

T82017/12/18 20:21:5.258519 GMT+0530

T92017/12/18 20:21:5.258756 GMT+0530

T102017/12/18 20:21:5.258983 GMT+0530

T112017/12/18 20:21:5.259029 GMT+0530

T122017/12/18 20:21:5.259136 GMT+0530