सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

शेयर
Views
  • अवस्था संपादित करने के स्वीकृत

पशुपालन ने बनाया गृहणी को स्वाबलंबी

इस पृष्ठ में पशुपालन ने कैसे बनाया गृहणी को स्वाबलंबी, इसकी जानकारी दी गयी है।

परिचय

श्रीमती बन्तो  रानी पत्नी श्री महिंद्र कुमार गाँव गढ़ी खजूर जिला करनाल में पिछड़ी जाति से एक गरीब महिला है। उनके पति को शराब पीने की आदत थी और वह अपने घर का खर्च चलाने में असमर्थ थी। इन्होने सोचा कि क्यों न मैं ही कुछ काम करूं।

प्रशिक्षण से जानी पशुपालन की बारीकियां

यह अर्पणा ट्रस्ट मधुबन के द्वारा बनाये गये सहायता समूह से जुड़ व भैंस रखकर अपनी आर्थिक स्थिति सुधारने की इच्छा  जताई। इन्होने कृषि विज्ञान केंद्र रा.डे.अनु.सं., करनाल से वर्ष 1999 में वैज्ञानिक तरीके से पशुपालन में प्रशिक्षण लिया। इस प्रशिक्षण में श्रीमती बन्तो रानी ने पूरी रूचि व उत्साह के साथ भाग लिया। प्रशिक्षण के तुरंत बाद श्रीमती बन्तो ने ऋण की किस्ते चुकाई व घर का खर्च चलाने में भी मदद मिली। समय-समय पर ये इस केंद्र से पशुओं की समस्याओं के बारे में समाधान के लिए सम्पर्क में रहती है। ये निरंतर अच्छी नस्ल की दुधारू भैसन रखती है।

जीवन में आया बदलाव

दूध बेचकर हुई आई से श्रीमती बन्तो ने अपने घर के लिए टेलीविजन, रसोई गैस, मोबाईल फोन भी खरीद लिया है। अपने तीन बच्चों को भी स्कूल में पढ़ा रही है। इनकी आर्थिक व सामजिक स्थिति में बहुत सुधार आया है और इनके पति ने शराब पीना भी छोड़ दिया है जिससे ये और इनका परिवार सुखी जीवन व्यतीत कर रहा है।

स्त्रोत: कृषि विभाग, झारखण्ड सरकार

 

5.0

अपना सुझाव दें

(यदि दी गई विषय सामग्री पर आपके पास कोई सुझाव/टिप्पणी है तो कृपया उसे यहां लिखें ।)

Enter the word
नेवीगेशन
Back to top

T612018/06/21 02:10:28.085209 GMT+0530

T622018/06/21 02:10:28.102875 GMT+0530

T632018/06/21 02:10:28.240683 GMT+0530

T642018/06/21 02:10:28.241200 GMT+0530

T12018/06/21 02:10:28.062765 GMT+0530

T22018/06/21 02:10:28.062979 GMT+0530

T32018/06/21 02:10:28.063122 GMT+0530

T42018/06/21 02:10:28.063262 GMT+0530

T52018/06/21 02:10:28.063356 GMT+0530

T62018/06/21 02:10:28.063430 GMT+0530

T72018/06/21 02:10:28.064217 GMT+0530

T82018/06/21 02:10:28.064444 GMT+0530

T92018/06/21 02:10:28.064662 GMT+0530

T102018/06/21 02:10:28.064881 GMT+0530

T112018/06/21 02:10:28.064926 GMT+0530

T122018/06/21 02:10:28.065017 GMT+0530