सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

शेयर
Views
  • अवस्था संपादित करने के स्वीकृत

पंगेसियस के लिए नर्सरी तालाब प्रबंधन

इस लेख में पंगेसियस के लिए उपयुक्त नर्सरी तालब प्रबंधन की जानकारी दी गयी है|

परिचय

नर्सरी तालाब में स्पान से फ्राई का उत्पादन पंगेसियस मत्स्य पालन का सबसे महत्वपूर्ण चरण माना जाता है | अत: इसका उचित प्रबंधन आर्थिक दृष्टिकोण से बहुत ही महत्वपूर्ण है | स्पान के संचयन से पहले पानी को पूर्णत: निकालकर तालाब को सूरज की रोशनी में छोड़ दिया जाता है ताकि मिटटी पूरी तरह से सूख जाए | तालाबों में जहां सालों भर पानी रहता है, जल की निकासी संभव नहीं है वहां जल के खर-पतवार के हाथ से चुनकर या जाल चलाकर हटा देना चाहिए | सतह पर तैरने वाले जलीय पौधों के 2, 4-D नामक रसायन का प्रयोग का उन्मूलन किया जा सकता है, इसके लिए 3-4 किलोग्राम/ एकड़ / की दर से प्रयोग कर सकते हैं | अधिक जलीय शैवाल का होना भी अच्छा नहीं माना जाता है | जलीय शैवालों के समूह के उन्मूलन के लिए सीमाजाईन का प्रयोग 1-2 किलोग्राम / एकड़ की दर से किया जाना चाहिए |

तालाबों में अवांछित मछलियों का उन्मूलन आवश्यक है | खाऊ मछलियाँ, मछलियों के जीरों को खा जाती है जबकि अन्य छोटी जंगली मछलियाँ लाताब में उपस्थित अधिकांश भोजन को हड़प जाती है | संचयन के पूर्व इनका उन्मूलन करना अति आवश्यक है –

रसायन

मात्रा

पानी में जहर की असर

ब्लीचिंग पाउडर

(30 प्रति० क्लोरिन)

120-140 किलोग्राम/एकड़/मी.

7-8 दिन

महुआ खल्ली

1000 किलोग्राम/एकड़/मी.

20-25 दिन

डेरीस रूट पाउडर

60-70 किलोग्राम/एकड़/मी.

25-30 दिन

तालाबों में संचयन के पहले हानिकारक जलीय कीटों का उन्मूलन कर लेना आवश्यक है | बार-बार जाल चलाकर इन्हे हटा लेना चाहिए | इसके अलावा डीजल या कैरोसिन तेल 20-25 लीटर/ एकड़ की दर से प्रयोग करना चाहिए | आजकल नुभान का प्रयोग 70-100 मी.ली. प्रति एकड़ की दर से उपयोग कर कीटों का उन्मूलन कर लेते हैं |

तालाब में चूना का प्रयोग (200 किलोग्राम/एकड़) की दर से करना चाहिए | चूना के प्रयोग के एक सप्ताह बाद प्लवक का उत्पादन के लिए कार्बनिक खाद (गोबर) के साथ-साथ रासायनिक खाद के रूप में यूरिया एवं एस०एस०पी० या डी०एस०पी० एवं म्यूरेट आफ पोटाश का प्रयोग करना चाहिए |

खाद

मात्रा/प्रति एकड़ में

यूरिया

10 किलोग्राम

एस०एस०पी०

10 किलोग्राम

पोटास

1-2 किलोग्राम

कच्चा गोबर

2000 किलोग्राम

पंगेसियस प्राम्भिक अवस्था में स्वजन भक्षी होता है | अत: इसकी रोकथाम के लिए तालाब में जन्तु प्लवक का समुचित स्तर बरकरार रखना बहुत ही आवशयक है | इसके अतिरिक्त पाउडर फीड के रूप में कृत्रिम आहार बाहर से देते रहना चाहिए | नर्सरी तालाब के 50 लीटर पानी में प्लवक की मात्रा कम से कम 4 मी.ली. होना अच्छा माना जाता है | नर्सरी तालाब में स्पान को 400-500/वर्ग मी.की दर संचयन करना चाहिए | चार सप्ताह के उपरान्त इसका आकार 0.8-1.0 ग्राम हो जाता है | इसके बाद इन्हें बड़े नर्सरी तालाब में संचयन करना चाहिए | अगले दो महीने में पंगास 15-20 ग्राम वजन प्राप्त कर लेती है, जो बड़े तालाबों में संचयन हेतु उत्तम आकर है|

संचयन तालाब प्रबंधन

पंगेसियस की अंगुलिकाओं को स्थानांतरण के 1 दिन पहले किसी भी प्रकार का कृत्रिम भोजन नहीं दिया जाना चाहिए ताकि सथानान्तरण के समय ज्यादा मल-मूत्र त्याग न करें तथा आक्सीजन की मात्रा ज्यादा कम न हो | तालाबों में पंगेसियस का पालन दो विधि द्वारा किया जाता है –

1) एकल पालन – 10-15 ग्राम की अंगुलिकाओं का संचयन 10000-20000/प्रति हेक्टेयर के दर से कर सकते हैं जिससे 15-20 टन/हे. उत्पादन लिया जा सकता है |

2) मिश्रित पालन – जब कार्प या अन्य प्रजातियों के साथ पंगेसियस का पालन किया जाता है तो इसकी संचयन दर 10000/ हे. से ज्यादा नहीं रखी जाती है | इस विधि में 10-12 टन/हे. उत्पादन प्राप्त किया जा सकता है | संचयन तालाब का आकार से अधिक 5 एकड़ एवं पानी की गहराई 1.5 मी. तक रखना ठीक है | चूना का प्रयोग 200 किग्रा/ एकड़ संचयन के पूर्ण करना चाहिए | जैविक खाद के रूप में गोबर या मुर्गी का खाद 1000 किग्रा/ एकड़ को 10 भागों में बाँट कर संचयन काल के दौरान प्रयोग करते रहना चाहिए |

 

स्त्रोत: मत्स्य निदेशालय, झारखण्ड सरकार

3.07317073171

अपना सुझाव दें

(यदि दी गई विषय सामग्री पर आपके पास कोई सुझाव/टिप्पणी है तो कृपया उसे यहां लिखें ।)

Enter the word
नेवीगेशन
Back to top

T612019/07/16 09:31:14.002736 GMT+0530

T622019/07/16 09:31:14.025117 GMT+0530

T632019/07/16 09:31:14.220786 GMT+0530

T642019/07/16 09:31:14.221264 GMT+0530

T12019/07/16 09:31:13.978129 GMT+0530

T22019/07/16 09:31:13.978306 GMT+0530

T32019/07/16 09:31:13.978448 GMT+0530

T42019/07/16 09:31:13.978582 GMT+0530

T52019/07/16 09:31:13.978676 GMT+0530

T62019/07/16 09:31:13.978748 GMT+0530

T72019/07/16 09:31:13.979554 GMT+0530

T82019/07/16 09:31:13.979749 GMT+0530

T92019/07/16 09:31:13.979965 GMT+0530

T102019/07/16 09:31:13.980199 GMT+0530

T112019/07/16 09:31:13.980244 GMT+0530

T122019/07/16 09:31:13.980334 GMT+0530