सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

होम (घर) / ई-शासन / डिजिटल इंडिया / डिजिटल लॉकर डिजिटल भारत कार्यक्रम
शेयर
Views
  • अवस्था संपादित करने के स्वीकृत

डिजिटल लॉकर डिजिटल भारत कार्यक्रम

इसमें डिजिटल लॉकर डिजिटल भारत कार्यक्रम की जानकारी दी गयी है|

भूमिका

डिजिटल लॉकर डिजिटल इंडिया प्रोग्राम का महत्वपूर्ण हिस्सा है। इस वेब सेवा के जरिये आप जन्म प्रमाण पत्र, पासपोर्ट,शैक्षणिक प्रमाण पत्र जैसे अहम दस्तावेजों को ऑनलाइन स्टोर कर सकते हैं। यह सुविधा पाने के लिए बस आपके पास आधार कार्ड होना चाहिए। आधार का नंबर फीड कर आप डिजीटल लॉकर अकाउंट खोल सकते हैं। इस सर्विस की सबसे खास बात यह है कि आप कहीं भी अपने दस्तावेज में डिजिटल लिंक पेस्ट कर दीजिये, अब आपको बार-बार कागजों का प्रयोग नहीं करना होगा। डिपार्टमेंट ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी (डीईआईटीवाई) ने हाल ही में डिजिटल लॉकर का बीटा वर्जन लॉन्च किया है।

इसे बनाने के लिए आपको डिजिटल लॉकर पर लॉग इन करना होगा, उसके बाद आपको आईडी बनानी होगी। उसके बाद आपको आधार कार्ड नंबर लॉग इन कर दीजिये। उसके बाद आपसे जुड़े कुछ सवाल आपसे पूछे जायेंगे जिसके बाद आपका अकाउंट बन जायेगा और उसके बाद आप उसमें सारे निजी दस्तावेज डाउनलोड कर दीजिये, जो हमेशा के लिए उसमें लोड हो जायेगा। आपका लाग इन आईडी और पासवर्ड आपका अपना होगा जिसे आप कहीं भी खोल सकते हैं। सबसे बड़ा फायदा इस लॉकर के जरिये धोखाधड़ी नहीं हो सकती है और ना ही नकली दस्तावेजों का चक्कर होता है, यह पूरी तरह से नीट एंड क्लीन प्रोसेस है।

सरकार ने डिजिटल इंडिया मिशन के तहत सभी देशवासियों को डिजिटल लाकर उपलब्ध कराएगी जहां संबंधित व्यक्ति के सभी प्रमाण पत्र सुरक्षित रखे जाएंगे।

डिजिलॉकर - ऑनलाइन दस्तावेज़ भंडारण सुविधा

डिजिटल लॉकर डिजिटल भारत कार्यक्रम यह बाहरी वेबसाइट जो एक नई विंडो में खुलती है के तहत प्रमुख पहलों में से एक है। इसका एक बीटा संस्करण इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी विभाग (डीईआईटीवाई), भारत सरकार द्वारा जारी किया गया है। डिजिटल लॉकर का उद्देश्य भौतिक दस्तावेजों के उपयोग को कम करना और एजेंसियों के बीच में ई-दस्तावेजों के आदान-प्रदान को सक्षम करना है।

इस पोर्टल की मदद से ई-दस्तावेजों का आदान-प्रदान पंजीकृत कोष के माध्यम से किया जाएगा, जिससे ऑनलाइन दस्तावेजों की प्रामाणिकता सुनिश्चित होगी। आवेदक अपने इलेक्ट्रॉनिक दस्तावेजों को अपलोड कर सकते है और डिजिटल ई-साइन सुविधा का उपयोग कर उन पर हस्ताक्षर कर सकते हैं। इन डिजिटली हस्ताक्षरित दस्तावेजों को सरकारी संगठनों या अन्य संस्थाओं के साथ साझा किया जा सकता है।

डिजिटल लॉकर प्रणाली के उद्देश्य

  • क्लाउड पर डिजिटल लॉकर प्रदान करने के द्वारा आवेदक का डिजिटल सशक्तिकरण
  • दस्तावेजों को ई-हस्ताक्षर सक्षम बनाकर उन्हें इलेक्ट्रॉनिक एवं ऑनलाइन उपलब्ध बनाना जिससे भौतिक दस्तावेजों का उपयोग कम से कम हो
  • ई दस्तावेजों की प्रामाणिकता सुनिश्चित करके फर्जी दस्तावेजों के उपयोग को खत्म करना
  • वेब पोर्टल एवं मोबाइल अनुप्रयोग के माध्यम से नागरिकों को सरकार द्वारा जारी किए गए दस्तावेजों का सुरक्षित अभिगम प्रदान करना
  • सरकारी विभागों और एजेंसियों के प्रशासकीय उपरिव्यय को कम करना एवं नागरिकों के लिये सेवा प्राप्त करना आसान बनाना
  • नागरिकों हेतु दस्तावेजों के कभी भी- कहीं भी पहुंच प्रदान करना
  • ओपन और इंटरऑपरेबल मानकों पर आधारित संरचना प्रदान करना जिससे अच्छी तरह से संरचित मानक दस्तावेज़ के माध्यम से विभागों और एजेंसियों के बीच दस्तावेजों को आसानी से साझा किया जा सके
  • आवेदक के आंकड़ों लिए गोपनीयता और अधिकृत पहुँच सुनिश्चित करना|

डिजिटल लॉकर प्रणाली के घटक

  • रिपोजिटरी ई

दस्तावेजों का संग्रह है जो जारीकर्ता द्वारा एक मानक प्रारूप में अपलोड की गई और मानक एपीआई के द्वारा सुरक्षित तरीके से वास्तविक समय में खोज और उपयोग के लिये उपलब्ध है।

  • एक्सेस गेटवे

एक सुरक्षित ऑनलाइन तंत्र है जिससे अनुरोधकर्ता वास्तविक समय में यूआरआई (यूनिफ़ॉर्म रिसोर्स संकेतक) का उपयोग करके प्राप्त कर सकते हैं। यूआरआई एक कोष में जारीकर्ता द्वारा अपलोड की गई ई-दस्तावेज़ के लिए एक कड़ी है। यूआरआई के आधार पर गेटवे कोष का पता पहचान करेगा और उस कोष से ई-दस्तावेज को प्रस्तुत करेगा।

डिजिटल लॉकर क्या है

  • प्रत्येक आवेदक के आधार से जुड़ा हुआ 10MB का समर्पित व्यक्तिगत भंडारण स्पेस, जहॉ सुरक्षित रूप से ई-दस्तावेजों एवं यूआरआई लिंक को संग्रहित एवं एक्सेस किया जा सके
  • अनुरोधकर्ताओं के साथ सुरक्षित ई-दस्तावेजों की साझेदारी
  • वर्तमान में वेब पोर्टल के माध्यम से सुलभ, भविष्य में मोबाइल एप्लीकेशन के माध्यम से भी सुलभ कराया जाएगा
  • डिजिटल दस्तावेजों पर हस्ताक्षर करने के लिए इंटीग्रेटेड ई-साइन सेवा|

डिजिटल लॉकर पोर्टल

  • आधार संख्या का उपयोग कर डिजिटल लॉकर के लिए साइन अप करने के लिए digitallocker.gov.in - बाहरी वेबसाइट जो एक नई विंडो में खुलती है पर जाएँ।
  • आवेदक डिजिटल लॉकर प्रणाली पर पंजीकृत जारीकर्ता और अनुरोधकर्ताओं की सूची देख सकते हैं।

 

डिजिटल लॉकर का उपयोग कैसे करें

आवेदक के लिए

डिजिटल लॉकर के लिए साइन अप करने के लिए आवेदक के पास आधार संख्या होनी चाहिए। डिजिटल लॉकर के लिए साइन अप करने से पहले यह आवश्यक है कि आपका मोबाइल नंबर यूआईडीएआई सिस्टम में आपकी आधार संख्या से जुड़ा हुआ हो।

लॉगिन क्षेत्र में अपना आधार संख्या दर्ज करें। यूआईडीएआई पर पंजीकृत मोबाइल नंबर पर ओ टी पी भेजा जाएगा। ओ टी पी दर्ज करने पर यूआईडीएआई से ई-केवाईसी की प्रक्रिया पूरी की जायेगी।

ई-केवाईसी सफल हो जाने पर, आवेदक विभिन्न जारीकर्ता द्वारा डिजिटल लॉकर में अपलोड किया गए दस्तावेजों की यूआरआई देख सकते हैं। आवेदक अपने डिजिटल लॉकर में ई-दस्तावेजों को अपलोड और उन्हें ई-साईन भी कर सकते हैं।

आवेदक अनुरोधकर्ता के ईमेल पते पर ई-दस्तावेज़ के लिए लिंक साझा करके निजी दस्तावेजों को साझा कर सकते हैं।

जारीकर्ताओं के लिए

आवेदक को आईडी प्राप्त करने के लिए डिजिटल लॉकर प्रणाली पर रजिस्टर करना होगा।

आवेदक को आईडी मिलने के बाद, जारीकर्ता रिपोजिटरी सेवा प्रदाता एपीआई का उपयोग कर नामित कोष में एक मानक एक्सएमएल फॉर्मेट में दस्तावेजों को अपलोड कर सकते हैं।

कोष में अपलोड किए गए प्रत्येक दस्तावेज़ के लिए आवेदक आईडी, दस्तावेज़ का प्रकार और यूनिक दस्तावेज़ आई डी होगा। दस्तावेज़ यूआरआई संबंधित निवासी की आधार संख्या के आधार पर उसके डिजिटल लॉकर में संधारित किया जाएगा।

अनुरोधकर्ताओं के लिए

अनुरोधकर्ता को डिजिटल लॉकर प्रणाली उपयोग करने के लिये पहले एक्सेस गेटवे पर रजिस्टर करना होगा।

अनुरोधकर्ता दस्तावेज़ यूआरआई का उपयोग कोष से एक्सेस गेटवे के माध्यम से दस्तावेजों को सुरक्षित रूप से प्राप्त करने के लिए कर सकते हैं।

ई-साईन सेवा

ई-साइन सेवा उत्पादन के पूर्व चरण में है और इसलिए इसका इस्तेमाल परीक्षण के उद्देश्य के लिए ही किया जा सकता है। ई-साइन की कानूनी वैधता का आश्वासन परीक्षण चरण के दौरान नहीं दिया गया है।

डिजिटल लॉकर


डिजिटल लॉकर क्या है? और उसके क्या फायदे हैं?

अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें।

2.9625

ओलिविया Nov 20, 2018 12:13 AM

धन्यवाद! आप इस लेख में प्रौX्Xोगिकी की भूमिका वास्तव में देखने के लिए अच्छा है।

पिंकी कुमारी Nov 19, 2018 11:54 PM

बहुत अच्छा माध्यम है, सभी कागज़ सुरक्षित रखने का.

विकाश सिंह Nov 19, 2018 11:14 PM

हमारी भाषा में इस योजना को उपलब्ध कराने के लिए शुक्रिया.

KM Urmila Nov 19, 2018 04:37 PM

डिजिटल लाकर की जानकारी के लिए धन्यवाद्.

ओलिविया Mar 23, 2016 04:54 PM

धन्यवाद! आप इस लेख प्रौX्Xोगिकी की भूमिका देखने के लिए वास्तव में अच्छा है। जीमेल के लिए, आप उन लोगों के साथ समस्या है, तो कृपया देखें http://gmail-accountlogin.com

अपना सुझाव दें

(यदि दी गई विषय सामग्री पर आपके पास कोई सुझाव/टिप्पणी है तो कृपया उसे यहां लिखें ।)

Enter the word
संबंधित भाषाएँ
Back to top

T612019/07/23 10:23:12.912058 GMT+0530

T622019/07/23 10:23:12.928073 GMT+0530

T632019/07/23 10:23:12.928773 GMT+0530

T642019/07/23 10:23:12.929055 GMT+0530

T12019/07/23 10:23:12.887886 GMT+0530

T22019/07/23 10:23:12.888059 GMT+0530

T32019/07/23 10:23:12.888205 GMT+0530

T42019/07/23 10:23:12.888347 GMT+0530

T52019/07/23 10:23:12.888437 GMT+0530

T62019/07/23 10:23:12.888512 GMT+0530

T72019/07/23 10:23:12.889205 GMT+0530

T82019/07/23 10:23:12.889389 GMT+0530

T92019/07/23 10:23:12.889596 GMT+0530

T102019/07/23 10:23:12.889809 GMT+0530

T112019/07/23 10:23:12.889855 GMT+0530

T122019/07/23 10:23:12.889960 GMT+0530