सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

होम (घर) / ई-शासन
शेयर

ई-शासन

  • e-governance image

    भारत में ई-शासन आंदोलन

    भारत में ई- शासन अपनी शुरुआत से आज एक नये दौर में प्रवेश कर गया है। लोगों के परिवेश के पास ही सार्वजनिक सेवाओं को विभिन्न केन्द्रों से तकनीक की सहायता से समयबद्ध रुप पहुँचा कर शासन महत्वपूर्ण सहयोगी की भूमिका निभा रहा है। राष्ट्रीय और राज्य स्तर ई-शासन की उपयोगिता को लेकर जागरूकता लाने की जरुरत है।

  • e-governance image

    साझा सेवा केन्द्र संचालकों का सशक्तीकरण

    भारत में ग्रामीण परिवेश ने विशेष रूप से समृद्ध आईसीटी पहल, सामान्य सेवा केंद्रों (सीएससी) से लाभ लेना शुरु कर दिया है। विकासपीडिया पहल साझा सेवा केन्द्र के संचालकों की क्षमता का निर्माण करने और ज्ञान को साझा करने के लिए एक उपयोगी आवश्यक मंच प्रदान करता है।

बदलती सेवा वितरण प्रणाली

भारत में ई-शासन 'अच्छे शासन' का पर्याय बनता जा रहा है। केंद्र सरकार और राज्य सरकार के विभिन्न विभाग नागरिकों, व्यापारियों और सरकारी संगठन को ही नहीं बल्कि समाज के हर वर्ग को सूचना और प्रौद्योगिकी की सहायता से विभिन्न सेवाएं प्रदान कर रहे है। इसी क्रम में 2006 में शुरू की राष्ट्रीय ई-शासन योजना (एनईजीपी) के तहत भारत भर में साझा सेवा केंद्र (सीएससी) स्थापित किए गये हैं। ये साझा सेवा केंद्र आम आदमी को सीधे तौर पर लाभान्वित कर सहज,सुलभ  और उनके घर के द्वार तक सरकारी सेवाएं उपलब्ध कराने का प्रयास कर रहे हैं। देशभर में 1 लाख से ज्यादा(सीएससी वेबसाइट) साझा सेवा केंद्र अलग-अलग ब्रांड नाम अपनी सेवाएं दे रहे हैं।

विकासपीडिया ई-शासन भाग का मुख्य ध्यान नागरिकों के लिए उपलब्ध ऑनलाइन सेवाएँ, राज्यों की ई-शासन पहल, ऑनलाइन विधिक सेवाओं, मोबाइल शासन, सूचना के अधिकार पर जानकारी उपलब्ध कराकर, देशभर में चल रहे ई-शासन अभियान में सहायता प्रदान करना है। ग्रामीण उद्यमियों (वीएलई) के सशक्तीकरण के महत्व को ध्यान में रखते हुए, भारतीय विकास प्रवेशद्वार ने “वीएलई कार्नर" का निर्माण कर न केवल एक मंच पर आने का अवसर दिया बल्कि उनके ज्ञान-भंडार को विभिन्न अध्ययन संसाधनों से समृद्ध करने में प्रयासरत है। भारत का ग्रामीण भाग विभिन्न संस्थाओं और उभरती आईसीटी पहल का लाभ लेने के लिए तैयार रहा है और भारत विकास प्रवेशद्वार बहुभाषाओं में उपलब्ध आवश्यक सामग्री और सेवाओं से लाभान्वित होने के लिए आह्वान करता है।

भारत में ई-शासन

भारत में ई-शासन भाग राष्ट्रीय ई-शासन योजना,राज्यों की ई-शासन सेवाओं और ई-शासन संसाधन के बारे में जानकारी देता है।

सूचना का अधिकार

सूचना का अधिकार भाग के अंतर्गत अधिकार का अर्थ, उसके उपयोग की प्रक्रिया,अपील के विभिन्न चरण,उपयोगी संपर्क की जानकारी और अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्नों का ब्यौरा दिया गया है।

वीएलई के लिए संसाधन

यह भाग साझा सेवा कार्यक्रम,ऑनलाईन प्रदत्त की जा रही सेवाएं,भारत विकास प्रवेशद्वार के विभिन्न उत्पाद एवं सेवाओं सहित कम्प्यूटर में भारतीय भाषा के पढ़ने में आ रही समस्याओं के समाधान की उपयोगी जानकारी देता है।

ई-शासन ऑनलाईन सेवाएं

यह भाग ई-शासन ऑनलाईन सेवाएं के संक्षिप्त परिचय के साथ उससे संबंधित विभिन्न उपयोगी लिंक जानकारी के बारे में जानकारी देता है।

भारत में विधिक सेवाएँ

यह भाग विधिक सेवाओं में ई-शासन की शुरुआत, राष्ट्रीय विधि स्कूल और विधि क्षेत्र से जु़ड़ीं महत्वपूर्ण लिंक संसाधनों की जानकारी देता है।

मोबाइल शासन

इस अनुभाग में भारत में उभरते मोबाइल शासन और एक संक्षिप्त परिचय के साथ विभिन्न संबंधित उपयोगी लिंक जानकारी के बारे में जानकारी देता है.


PAWAN SINGH RATHORE Dec 24, 2018 11:34 PM

ई शाशन की पहल बहुत अच्छी है लेकिन कुछ बातों को ध्यान में रखकर जन जन को इससे जोड़ा जा सकता है एवं सम्पूर्ण भारत बासियों को बेहतर सेवा सुविधा पारXर्शिता उपलब्ध कराई जा सकती है लेकिन अभी तक नेटवर्क की समस्या बहुत बड़ी है इसे दूर करना उतना ही आवश्यक है जितना कि भोजन करना

Pradeep Lahre Dec 21, 2018 07:27 AM

Haija virus kis ke dvara hota है

Shubham singh Dec 18, 2018 12:08 AM

बहूत अच्छी अपील है माननीय प्रXाXXंत्री जी की जो उन्होंने योजना सुरु की

गजेन्द्र वैष्णव Dec 16, 2018 02:38 PM

ई-शासन के साथ भारत में ई-आइडेंटिटी को प्राथXिकता देनी चाहिए. जैसे होटलों में रजिस्टर मेंटेन के स्थान पर बाXोXेट्रिक डिवाइस का उपयोग होने से जानकारी ऑनलाइन हो सकती है जिससे राष्ट्रिय सुरक्षा, सामाजिक अपराधों पर नज़र एवं नियंत्रण रखा जा सके एवं कागजी कारवाही कम हो तथा नकली आईडी पहचान पत्रों को पहचानने में आसानी हो

Umesh Kumar Dec 15, 2018 10:07 PM

Sir mai bca student hu mujhe is chhetra m kam chahiye please contact me 80XXX59

अपना सुझाव दें

(यदि दी गई विषय सामग्री पर आपके पास कोई सुझाव/टिप्पणी है तो कृपया उसे यहां लिखें ।)

Enter the word
Back to top

T612019/02/18 03:59:10.399367 GMT+0530

T622019/02/18 03:59:10.408066 GMT+0530

T632019/02/18 03:59:10.408602 GMT+0530

T642019/02/18 03:59:10.408864 GMT+0530

T12019/02/18 03:59:10.377846 GMT+0530

T22019/02/18 03:59:10.378060 GMT+0530

T32019/02/18 03:59:10.378206 GMT+0530

T42019/02/18 03:59:10.378402 GMT+0530

T52019/02/18 03:59:10.378499 GMT+0530

T62019/02/18 03:59:10.378578 GMT+0530

T72019/02/18 03:59:10.379217 GMT+0530

T82019/02/18 03:59:10.379416 GMT+0530

T92019/02/18 03:59:10.379627 GMT+0530

T102019/02/18 03:59:10.379852 GMT+0530

T112019/02/18 03:59:10.379900 GMT+0530

T122019/02/18 03:59:10.379993 GMT+0530