सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

होम (घर) / शिक्षा / शिक्षक मंच / लर्निंग डोमेन (सीखने के क्षेत्र) के लिए ब्लूम का वर्गीकरण
शेयर
Views
  • अवस्था संपादित करने के स्वीकृत

लर्निंग डोमेन (सीखने के क्षेत्र) के लिए ब्लूम का वर्गीकरण

इसमें बेंजामिन ब्लूम के नेतृत्व में कॉलेजों की एक समिति शैक्षिक गतिविधियों को सीखने के लिए तीन क्षेत्रों को बताने की कोशिश की गयी है।

Blooms_rose_svg

सीखने के तीन प्रकार

सीखने के एक से अधिक प्रकार हैं। बेंज़ामिन ब्लूम (1956) के नेतृत्व में, कॉलेजों की एक समिति ने शैक्षिक गतिविधियों के तीन डोमेनों की पहचान की:

  • संज्ञानात्मक: मानसिक कौशल (ज्ञान)
  • भावनात्मक: भावनाओं या भावनात्मक क्षेत्रों में विकास (मनोवृत्ति)
  • साइकोमोटर: मैनुअल या शारीरिक कौशल (कौशल)

चूंकि यह कार्य उच्च शिक्षा के अंतर्गत किया गया था, इसलिए सम्बन्धित शब्द आम तौर पर इस्तेमाल किए जाने वाले शब्दों से भारी होते हैं। डोमेंनों को श्रेणियों के रूप में देखा जा सकता है। प्रशिक्षक अक्सर इन तीन डोमेंनों को केएएसए (नॉलेज, स्किल्स, ऐटिट्यूड) के रूप में संदर्भित करते हैं। सीखने वाले व्यवहारों के वर्गीकरण को “प्रशिक्षण प्रक्रिया के लक्ष्यों” के रूप में देखा जा सकता है। यानि, प्रशिक्षण सत्र के बाद, प्रशिक्षार्थी को नए कौशल, ज्ञान तथा/या मनोवृत्तियां प्राप्त कर लेना चाहिए।

समिति ने संज्ञानात्मक और भावात्मक डोमेनों के लिए एक व्यापक संकलन भी बनाया, लेकिन साइकोमोटर डोमेन के लिए कोई भी नहीं बनाया गया। इस चूक के लिए उनका यह स्पष्टीकरण था कि कॉलेज स्तर पर मैनुअल कौशल पढ़ाने के लिए उनके पास कम अनुभव था।

यह संकलन इन तीन डोमेनों को उपविभाजनों में बांटता है, जो सरलतम व्यवहार से आरम्भ होकर अत्यंत जटिल तक हैं। रेखांकित विभाजन निरपेक्ष नहीं हैं तथा शैक्षिक एवं प्रशिक्षण जगत में अन्य प्रणालियां व अनुक्रम (हाइरार्की) विकसित किए गए हैं। लेकिन, लूम का वर्गीकरण आसानी से समझा जा सकता है तथा वर्तमान में व्यवहार में लाए जाने वाले वर्गीकरणों में सम्भवतः सर्वाधिक व्यापक है।

संज्ञानात्मक

संज्ञानात्मक डोमेन (ब्लूम,1956) में ज्ञान तथा बौद्धिक कौशलों का विकास शामिल है। इसमें विशेष तथ्यों का पुनर्स्मरण या पहचान, प्रक्रियागत स्वरूप एवं परिकल्पनाएं शामिल हैं जो बौद्धिक क्षमताओं तथा कौशलों के विकास में मदद करती हैं। कुल छः मुख्य श्रेणियां हैं, जो सरलतम से आरम्भ होकर सबसे जटिल तक के क्रम में नीचे सूचीबद्ध हैं। इन श्रेणियों को कठिनाइयों की कोटियों के रूप में सोचा जा सकता है। यानि, इसके पहले कि दूसरा सीखा जाए, पहले पर महारथ हासिल करनी होगी।

श्रेणी उदाहरण एवं सूचक शब्द
ज्ञान: आंकड़े या जानकारी याद करना। उदाहरण : कोई नीति बोलें। स्मृति द्वारा ग्राहक को मूल्य बताएं। सुरक्षा नियमों की जानकारी रखें।
सूचक शब्द: परिभाषित करता है, वर्णन करता है, पहचान करता है, जानता है, लेबल्स, सूचियां, मिलान, नाम, रूपरेखाएं, याद रखकर दोहराता है, पहचानता है, पुनरुत्पादित करता है, चुनता है, अवस्थाएं।
समझ-बूझ: अनुवाद, प्रक्षेप, एवं निर्देशों के अर्थ समझना तथा समस्याओं की व्याख्या। अपने शब्दों में समस्या का कथन। उदाहरण : टेस्ट राइटिंग के सिद्धांतों का पुनर्लेखन। एक जटिल कार्य करने के चरणों का स्वयं के शब्दों में वर्णन करना। एक समीकरण का कम्प्यूटर स्प्रेडशीट में अनुवाद करता है।
सूचक शब्द: समझता है, परिवर्तित करता है, बचाव करता है, अंतर करता है, अनुमान करता है, वर्णन करता है, सामान्यीकरण करता है,
उदाहरण देता है, निष्कर्ष निकालता है, व्याख्या करता है, सविस्तार व्याख्यान करता है, अनुवाद करता है, भविष्यवाणी करता है, पुनर्लेखन करता है, सारांश देता है, अनुवाद करता है।
अनुप्रयोग: किसी परिकल्पना का नई परिस्थिति में उपयोग या एक अमूर्त कल्पना का स्वतः उपयोग करें। कक्षा में सीखी गई बातों का कार्यस्थल पर नई स्थितियों में अनुप्रयोग होता है। उदाहरण : किसी कर्मचारी की छुट्टी की अवधि की गणना के लिए एक मैनुअल का उपयोग करें। एक लिखित परीक्षा की विश्वसनीयता के आकलन के लिए सांख्यिकी के सिद्धांतों का अनुप्रयोग करें।
सूचक शब्द: अनुप्रयोग करता है, बदलाव, गणना करता है, निर्माण करता है, प्रदर्शित करता है, खोज करता है,
हेरफेर करता है, रूपांतरण करता है, भविष्यवाणी करता है, तैयार करता है, उत्पादित करता है, सम्बन्ध स्थापित करता है, दिखाता है, हल करता है, उपयोग करता है।
विश्लेषण: वस्तु या परिकल्पना को विभिन्न भागों में अलग करता है ताकि उसका संगठनात्मक ढांचा समझा जा सके। तथ्यों एवं निष्कर्षों के बीच अंतर कर सकता है। उदाहरण : तार्किक अनुमान द्वारा एक उपकरण की समस्या दूर करना। तर्कों में तार्किक दोष पहचानना। किसी विभाग से सूचना एकत्रित करता है तथा प्रशिक्षण के लिए आवश्यक कार्य चुनता है।
सूचक शब्द: विश्लेषण करता है, विखंडित करता है, तुलना करता है, विषमता दिखलाता है, चित्र, विनिर्माण,
अंतर करता है, भेद करता है, अंतर करता है, पहचानता है, दर्शाता है, निष्कर्ष करता है, रूपरेखा बनाता है, सम्बन्ध स्थापित करता है, चुनता है, अलग-अलग करता है।
संश्लेषण: विविध तत्वों से एक ढांचा या पैटर्न बनाता है। एक नए अर्थ या ढांचे पर ज़ोर देकर हिस्सों को जोडकर सम्पूर्ण बनाता है। उदाहरण : किसी कम्पनी के ऑपरेशन या प्रक्रिया का मैनुअल लिखना। एक विशिष्ट कार्य के लिए एक मशीन डिज़ाइन करना। एक समस्या के हल के लिए स्रोतों से प्राप्त प्रशिक्षण को एकीकृत करता है। नतीज़े की बेहतरी के लिए प्रक्रिया में संशोधन करता है।
सूचक शब्द: श्रेणीबद्ध करता है, मिलाता है, एकत्रित करता है, तैयार करता है, बनाता है,
सृजित करता है, डिज़ाइन करता है, वर्णन करता है, जनित करता है, संशोधित करता है, संगठित करता है, योजना बनाता है, पुनर्व्यवस्थित करता है, पुनर्निर्माण करता है,
सम्बन्ध स्थापित करता है, पुनर्संगठित करता है, दोहराता है, पुनर्लेखन करता है, सारांशीकृत करता है, बताता है, लिखता है।
मूल्यांकन: विचारों तथा सामग्रियों के मूल्य पर निर्णय करना। उदाहरण : सबसे असरदार हल चुनना। सबसे योग्य उम्मीदवार चुनना। एक नए बजट का वर्णन करना तथा औचित्य सिद्ध करना।
सूचक शब्द: मूल्यांकन करता है, तुलना करता है, निष्कर्ष निकालता है, विषमता पहचानता है,
आलोचना करता है, आलोचक, बचाव करता है, वर्णन करता है, भेद करता है, आकलन करता है, वर्णन करता है,
व्याख्या करता है, औचित्य सिद्ध करता है, सम्बन्ध बनाता है, सारांशीकृत करता है, समर्थन करता है।

भावात्मक डोमेन

भावात्मक डोमेन (क्रथ्वोल, ब्लूम, मासिआ, 1973) में वे तरीके शामिल हैं जिनसे हम बातों का भावात्मक रूप से सामना करते हैं, जैसे कि भावनाएं, मूल्य, तारीफ, उत्साह, प्रेरणा एवं वृत्तियां। पांच मुख्य श्रेणियां सरलतम व्यवहार से अत्यंत जटिल के क्रम में सूचीबद्ध की गई हैं:

श्रेणी
उदाहरण एवं सूचक शब्द
प्राप्ति से सम्बन्धित परिघटना:सजगता, सुनने की तत्परता, चुनिंदा ध्यान उदाहरण : अन्य को सम्मानपूर्वक सुनना। नए परिचय कराए गए लोगों के नाम सुनकर याद रखना।
सूचक शब्द: पूछता है, चुनता है, वर्णन करता है, अनुसरण करता है,
देता है, रखता है, पहचान करता है, जगह मालूम करता है, नाम बताता है, इंगित करता है, चुनता है,
बैठता है, खड़ा करता है, उत्तर देता है, उपयोग करता है।
परिघटना पर प्रतिक्रिया देना :सीखने वालों की ओर से सक्रिय भागीदारी। एक विशेष परिघटना को समझकर उसपर प्रतिक्रिया देता है। सीखने के नतीज़े उत्तर देने में अचूकता पर या उत्तर देने में संतुष्टि (प्रेरकता) बल दे सकते हैं। उदाहरण : कक्षा में विचार विमर्श में भाग लेता है। प्रस्तुतिकरण देता है। नए आदर्शों, परिकल्पनाओं, प्रारूपों आदि को पूरी तरह समझने के लिए प्रश्न करता है। सुरक्षा नियमों की जानकारी होना तथा उनका उपयोग।
सूचक शब्द: उत्तर, मदद करता है, सहायता करता है, पालन करता है, सदृश बनाता है,
विचार विमर्श करता है, अभिवादन करता है, सहायता करता है, लेबल, करता है, अनुशीलन करता है, प्रस्तुत करता है,
पढ़ता है, बांचता है, रिपोर्ट देता है, चुनता है, बताता है, लिखता है।
मूल्यांकन: एक विशेष वस्तु, परिघटना या व्यवहार से जुड़े एक व्यक्ति की योग्यता या मूल्य। यह आसान स्वीकृति से प्रतिबद्धता की अधिक जटिल अवस्था तक हो सकता है।
मूल्यांकन विशेष मूल्यों के समुच्चय के आंतरीकरण पर आधारित है, जबकि इन मूल्यों के संकेत सीखने वाले के प्रत्यक्ष व्यवहार में झलकते हैं और अक्सर पहचाने जा सकते हैं।
उदाहरण : जनतांत्रिक प्रक्रिया में भरोसा दर्शाता है। व्यक्तिगत एवं सांस्कृतिक अंतरों (मूल्यों में विविधता) के प्रति संवेदनशील है। सामाजिक सुधार के लिए योजना प्रस्तावित करता है और संकल्पित होकर फॉलोअप करता है। जिन मामलों पर किसी की तीव्र भावनाएं हों उनके प्रबन्ध को सूचित करता है।
सूचक शब्द: पूरा करता है, प्रदर्शित करता है, अंतर करता है, समझाता है, अनुसरण करता है,
बनाता है, पहल, आमंत्रित करता है, जुड़ता है, औचित्य सिद्ध करता है, प्रस्तावित करता है, पढ़ता है, रिपोर्ट देता है, चुनता है, बांटता है, अध्ययन करता है, कार्य करता है।
Organization: असमान मूल्यों की तुलना कर प्राथमिकता के आधार पर उन्हें जमाना, उनके बीच मतभेद दूर करना एवं अनूठा मूल्य प्रणाली सर्जित करना। तुलना करने, सम्बन्ध स्थापित करने तथा मूल्य बनाने पर ज़ोर दिया गया है। उदाहरण : स्वतंत्रता तथा ज़िम्मेदार रवैये के बीच संतुलन की ज़रूरत पहचानता है। किसी के व्यवहार के लिए ज़िम्मेदारी स्वीकार करता है। समस्याओं के हल के लिए व्यवस्थित नियोजन की भूमिका का वर्णन करता है। व्यावसायिक नैतिक मानक स्वीकार करता है। क्षमताओं, रुचियों एवं मान्यताओं के सामंजस्य से जीवन की योजना बनाता है। संगठन, परिवार एवं स्वयं की ज़रूरतें पूरी करने के लिए प्रभावी तरीके से समय की प्राथमिकता तय करता है।
सूचक शब्द: पालन करता है, बदलता है, जमाता है, मिलाता है, तुलना करता है, पूरा करता है, बचाव करता है, वर्णन करता है, बनाता है, सामान्यीकरण करता है, पहचानता है, एकीकृत करता है, संशोधित करता है, आदेश देता है, संगठित करता है, तैयार करता है, सम्बन्ध स्थापित करता है, संश्लेषित करता है।
मूल्य समावेशित करना (चरित्रगत):एक मूल्य प्रणाली है जो उनके व्यवहारों को नियंत्रित करती है। यह व्यवहार व्यापक है, एक समान, अनुमान योग्य एवं सबसे महत्वपूर्ण रूप से शिक्षार्थी के लिए चरित्रगत है। निर्देशात्मक लक्ष्य छात्र के समायोजन के सामान्य पैटर्न (व्यक्तिगत, सामाजिक, भावनात्मक) से ताल्लुक रखते हैं। उदाहरण : स्वतंत्र रूप से कार्य करते हुए भरोसा दर्शाता है। समूह गतिविधियों में सहयोग करता है (टीमवर्क दर्शाता है)। समस्या के हल के लिए विषयाश्रित पद्धति अपनाता है। रोज़मर्रा की गतिविधियों में नैतिक कार्यों के लिए व्यावसायिक प्रतिबद्धता दर्शाता है। निर्णय संशोधित करता है तथा नए साक्ष्य के आधार पर व्यवहार परिवर्तन करता है। लोगों का मूल्यांकन वे क्या हैं, इसके आधार पर करता है, न कि वे कैसे दीखते हैं, इस आधार पर।
सूचक शब्द: कार्य करता है, अंतर करता है, प्रभावित करता है, सुनता है, संशोधित करता है, प्रदर्शित करता है, अभ्यास करता है, प्रस्तावित करता है, योग्यता हासिल करता है, प्रश्न करता है, सुधारता है, देता है, हल करता है, पुष्टि करता है।

साइकोमोटर डोमेन

साइकोमोटर डोमेन (सिम्पसन, 1972) में शारीरिक हलचल, समन्वय एवं मोटर-कौशल क्षेत्र शामिल हैं। इन कौशलों के विकास के लिए अभ्यास की आवश्यकता होती है तथा इसका मापन गति, अचूकता, दूरी, प्रक्रिया या निष्पादन में तकनीकों के तौर पर किया जाता है। सात मुख्य श्रेणियां सरलतम से सर्वाधिक जटिल व्यवहार के रूप में सूचीबद्ध हैं:

श्रेणी
उदाहरण एवं सूचक शब्द
बोध: महसूस कर सकने वाले संकेतों का उपयोग कर मोटर गतिविधि के मार्गदर्शन करने की क्षमता। यह संकेत के चयन द्वारा इंद्रियगत उत्तेजन से लेकर अनुवाद तक होता है। उदाहरण : .गैर-संवादी संवाद-संकेत पहचानता है। फेंकने के बाद गेन्द कहां गिरेगी इसका अनुमान लगाना और उसके बाद गेन्द को पकड़ने के लिए सही जगह पर जाना। भोजन की गन्ध और स्वाद के हिसाब से सही तापमान रखने के लिए स्टोव का ताप बदलता है। पैलेट के सापेक्ष फोर्क कहां हैं, यह देखकर फोर्कलिफ्ट पर फॉर्क्स की ऊंचाई निर्धारित करता है।
सूचक शब्द: चुनता है, वर्णन करता है, पहचानता है, अंतर करता है, विभेद करता है, पहचानता है, अलग करता है, सम्बन्ध जोड़ता है, चुनता है।
शीघ्रता (सेट): कार्य करने की तैयारी। इसमें मानसिक, शारीरिक तथा भावनात्मक समूह शामिल हैं। ये तीन समूह वे स्थितियां हैं जो विभिन्न स्थितियों के लिए एक व्यक्ति की प्रतिक्रिया पूर्वनिर्धारित करती हैं (इन्हें मानसिकता भी कहा जाता है)। उदाहरण : एक उत्पादन प्रक्रिया के विभिन्न चरणों के क्रम जानता है और उनके अनुसार क्रिया करता है। किसी की क्षमताएं एवं सीमाएं समझता है। एक नई प्रक्रिया सीखने की इच्छा दर्शाता है (प्रेरणा)। नोट: साइकोमोटर का यह उपविभाजन प्रभावी डोमेन के उपविभाजन “ परिघटनाओं के लिए अनुक्रिया“ से नज़दीक से जुडा है।
सूचक शब्द: आरम्भ करता है, प्रदर्शित करता है, समझाता है, हटाता है, आगे बढता है, प्रतिक्रिया व्यक्त करता है, दर्शाता है, कथन करता है, स्वेच्छा से करता है।
मार्गदर्शित प्रतिक्रिया: एक जटिल कौशल सीखने में आरम्भिक अवस्थाएं जिनमें अनुकृति तथा ट्रायल एंड एरर शामिल है। उदाहरण : दर्शाए अनुसार एक गणितीय समीकरण करता है। प्रारूप बनाने के लिए निर्देशों का पालन करता है। फोर्कलिफ्ट चलाना सीखते समय इंस्ट्रक्टर के हाथ के संकेतों के अनुसार कार्य करता है।
सूचक शब्द: नकल करता है, अनुसरण करता है, प्रतिक्रिया करना, पुनरोत्पादन करता है, प्रतिक्रिया करता है।
क्रियाविधि: यह एक जटिल कौशल सीखने की मध्यवर्ती अवस्था है। बुद्धिमत्तापूर्वक प्रतिक्रिया आदत में आ गई होती है तथा गतिविधियां कुछ विश्वास एवं दक्षता के साथ की जा सकती हैं। उदाहरण : पर्सनल कम्प्यूटर का उपयोग। रिस रहे फॉसेट को सुधारना। कार चलाना।
सूचक शब्द: जोड़ता है, कैलिब्रेट करता है, बनाता है, खोल कर अलग करता है,
प्रदर्शित करता है, जोड़ता है, लगाता है, पीसता है, गर्म करता है, मैनिपुलेट करता है, मापता है, सुधारता है, मिलाता है, संगठित करता है, चित्र बनाता है।
प्रकट रूप वाली जटिल प्रतिक्रिया: मोटर कार्यों का कुशल निष्पादन जिसमें जटिल आंदोलन पैटर्न शामिल है। प्रवीणता को एक त्वरित, और उच्च-समन्वित प्रदर्शन द्वारा दर्शाया जाता है, जिसमें ऊर्जा की न्यूनतम आवश्यकता हो। इस श्रेणी में बिना किसी हिचकिचाहट के तथा स्वतः होने वाले प्रदर्शन शामिल हैं। उदाहरण के लिए, खिलाडी टेनिस बॉल या फुटबॉल को मारते ही अक्सर संतोष के या अपशब्द बोलने लगता है क्योंकि वह कार्य के बाद महसूस कर बता सकता है कि परिणाम क्या होगा। उदाहरण : कार को संकरे समांतर पार्किंग में चलाता है। कम्प्यूटर तेज़ी से एवं सही संचालित करता है। पिआनो बजाते समय दक्षता प्रदर्शित करता है।
सूचक शब्द: जोड़ता है, कैलिब्रेट करता है, बनाता है, खोल कर अलग करता है, प्रदर्शित करता है, जोड़ता है, लगाता है, पीसता है, गर्म करता है, मैनिपुलेट करता है, मापता है, सुधारता है, मिलाता है, संगठित करता है, चित्र बनाता है।
नोट: सूचक शब्द ‘क्रियाविधि’ की तरह ही हैं, लेकिन उनमें क्रिया विशेषण या विशेषण होंगे जो यह संकेत करते हैं कि प्रदर्शन तेज़, बेहतर और अधिक सटीक है।
अनुकूलन: कौशल अच्छी तरह से विकसित हैं और व्यक्ति विशेष आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए क्रियाकलापों के पैटर्नों को संशोधित कर सकता है। उदाहरण : अप्रत्याशित अनुभवों पर प्रभावी ढंग से प्रतिक्रिया करता है. शिक्षार्थियों की जरूरतों की पूर्ति के लिए निर्देश में आवश्यक बदलाव करता है। किसी मशीन के साथ ऐसा कार्य करता है जो मूल रूप से नहीं सोचा गया था (मशीन क्षतिग्रस्त नहीं है तथा नया कार्य करने में कोई खतरा नहीं है)। सूचक शब्द:अनुकूलन करता है, बदलता है, परिवर्तन करता है, पुनर्व्यवस्थित करता है, पुनर्संगठित करता है, संशोधित करता है, बदलता है।
व्युत्पत्ति: एक विशेष स्थिति या विशिष्ट समस्या में फिट होने के आधार पर नई क्रियाकलापों का पैटर्न सृजित करना। सीखने के परिणाम उच्च विकसित कौशल आधारित रचनात्मकता पर जोर देते हों। उदाहरण : एक नया सिद्धांत बनाता है। एक नया और व्यापक प्रशिक्षण कार्यक्रम विकसित करता है. एक नई व्यायाम दिनचर्या बनाता है।
सूचक शब्द: व्यवस्थित करता है, बनाता है, मेल करता है, जोड़ता है, निर्माण करता है, सृजित करता है, डिजाइन करता है, आरंभ करता है, बनाता है, व्युत्पत्ति करता है।

अन्य साइकोमोटर डोमेन

जैसा कि पहले उल्लेख किया गया है, इस समिति ने साइकोमोटर डोमेन से लिए संकलन नहीं बनाया, लेकिन दूसरों के हैं। ऊपर चर्चा किया गया डोमेन सिम्पसन (1972) द्वारा निर्मित है। दो अन्य लोकप्रिय संस्करण भी हैं:

डेव का (1975):

  • नकल: किसी और को देखकर उसके अनुसार व्यवहार करना। प्रदर्शन कम गुणवत्ता का हो सकता है। उदाहरण: कलाकृति की प्रतिलिपि।
  • हेरफेर: निर्देशों के पालन और अभ्यास द्वारा कुछ कार्य करने में सक्षम. उदाहरण: पाठ लेने के बाद या उसके बारे में पढ़कर स्वयं द्वारा काम करना सीखना।
  • सटीकता: परिष्करण, और अधिक सटीक होना। कुछ त्रुटियों स्पष्ट होती हैं. उदाहरण: किसी कार्य को करना और नए सिरे से पुनः करना, ताकि वह “बस ठीक” हो जाए।
  • अभिव्यक्ति: सद्भाव और आंतरिक स्थिरता प्राप्त करने सहित कार्यों की एक श्रृंखला का समन्वय। उदाहरण: एक वीडियो का निर्माण करना जिसमें संगीत, नाटक, रंग, ध्वनि, आदि शामिल हों।
  • प्राकृतिकरण: बगैर अधिक सोचे उच्च स्तर के प्रदर्शन का प्राकृतिक रूप में होना, उदाहरण: माइकल जॉर्डन द्वारा बास्केटबॉल खेलना, नैन्सी लोपेज का एक गोल्फ की गेंद पर प्रहार आदि।

हैरो का (1972):

  • प्रतिवर्त हलचल – प्रतिक्रियाएं जो सीखी हुई न हों।
  • मौलिक हलचल - मूल हलचलें जैसे चलना, या पकड़ना।
  • बोध - उत्तेजनाओं के जवाब जैसे कि दृश्य, श्रवण, काइनेस्थेटिक या स्पर्श भेद।
  • शारीरिक क्षमताएं - भविष्य के विकास के लिए ताकत एवं चपलता जैसी क्षमता जो कि विकसित की जानी चाहिए.
  • कौशलपूर्ण हलचल - उन्नत सीखी हुई गतिविधियां जैसी कि खेलों या अभिनय में मिलती हैं।
  • गैर असम्बद्ध संवाद – प्रभावी शारीरिक भाषा, जैसे कि हावभाव एवं मुख मुद्राएं।

ब्लूम का संशोधित वर्गीकरण

लॉरिन एंडरसन, ब्लूम के एक पूर्व छात्र, ने नब्बे के दशक के मध्य में सीखने के वर्गीकरण में संज्ञानात्मक डोमेन पर दोबारा गौर किया और कुछ परिवर्तन किए जिनमें से सम्भवतः दो सबसे बड़े परिवर्तन थे, 1) छ: श्रेणियों में नामों को संज्ञा से क्रिया रूपों में बदलना, एवं 2) उनमें कुछ फेरबदल करना।

Taxonomy

3.09523809524

vikram Apr 29, 2017 11:29 AM

बहुत ही ाक्षी तरीके से बताया है की इसमें अपने विचारों का अदन प्रदान किया गया hai

मीनू nimesh Dec 17, 2016 12:43 AM

ब्लूम टैक्सXोXोXX को ह Kya क्यों किसके द्वारा Di gai simple वर्ड्स में बताया जाए नई लर्नर्स को ध्यान में rakhte हुए

मीनू nimesh Dec 17, 2016 12:43 AM

ब्लूम टैक्सXोXोXX को ह Kya क्यों किसके द्वारा Di gai simple वर्ड्स में बताया जाए नई लर्नर्स को ध्यान में rakhte हुए

दीपा maurya Dec 11, 2016 09:58 AM

किसी भी चीज का हिन्दी और इंग्लिश दोनों नाम दिया जाय ताकि हिंदी के कई नामो को लेकर जो कन्फ्यूजन है wo दूर हो sake

RAVINDRAKUMAR YADAV Oct 08, 2016 12:26 AM

यह सभी के लिए बहुत उपयोगी है. इससे सभी हिंदी शिक्षक लाभान्वित होंगे कृपया थोड़ी सरल भाषा का प्रयोग किया जाय. बहुत -बहुत धन्यवाद

विजयेंद्र seth Aug 02, 2016 08:14 AM

बेहतरीन जानकारी ...अन्य टॉपिक्स और विषयो पर भी जानकरी दी जाये .

अपना सुझाव दें

(यदि दी गई विषय सामग्री पर आपके पास कोई सुझाव/टिप्पणी है तो कृपया उसे यहां लिखें ।)

Enter the word
Back to top