सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

शेयर
Views
  • अवस्था संपादित करने के स्वीकृत

आयुष

वैकल्पिक चिकित्सा के रुप में लोकप्रिय हो रहे अायुष शीर्षक के अंतर्गत यूनानी, सिद्ध आयुर्वेद विभाग, योग और प्राकृतिक चिकित्सा की उपयोगिता की जानकारी दी गई है।

आयुर्वेद
इस भाग में आयुर्वेद की मूल अवधारणा से अवगत कराते हुए इसके द्वारा किये जाने वाले उपचारों की जानकारी भी दी गई है।
योग
संतुलित तरीके से अंतर्निहित शक्ति को बेहतर बनाने या विकसित करने के लिए एक अनुशासन के रुप में लोकप्रिय योग की जानकारी प्रस्तुत है।
यूनानी
इस भाग में यूनानी चिकित्सा पद्धति के बारे में जानकारी दी गई है।
प्राकृतिक चिकित्सा
प्राकृतिक चिकित्सा प्रणाली वर्षों से चली आ रही है और अपने विशेष सिद्धांतों, जैसे शारीरिक, मानसिक, नैतिक और आध्यात्मिक प्रणालियों के साथ व्यक्तियों का ईलाज़ करती है। इस पद्धति के अनुसार मनुष्य के स्वास्थ्य में प्रोत्साहन, रोगों से लड़ने की क्षमता और अपना उपचार करने की असीम संभावनाएं होती है|
सिद्धा
सिद्ध प्रणाली भारत में दवा की सबसे पुरानी प्रणालियों में से एक है। 'सिद्ध' शब्द का अर्थ है उपलब्धियां और सिद्ध, संत पुरुष होते थे जो दवा में परिणाम हासिल करते थे। है। इस भाग में इन्हीं परिणामों और उनका वर्तमान उपयोग बताया गया है।
होम्योपेथी
होम्योपैथी आज एक तेजी से बढ़ रही प्रणाली है । इस भाग में इससे जुड़ी जानकारी प्रस्तुत की गई है।
स्थानीय वनौषधियाँ और हमारा स्वास्थ्य
इस भाग में प्राकृतिक चिकित्सा के अंतर्गत स्थानीय वनौषधियों और हमारे स्वास्थ्य लाभ में इनकी महत्ता को स्पष्ट किया गया है।
औषधीय पौधे और जड़ी बूटियां
इस भाग में औषधीय पौधे और जड़ी बूटियों के विवरण को प्रस्तुत किया गया है।
योग विज्ञान
इस भाग में योग से जुड़ीं जानकारियाँ प्रस्तुत हैं।
आयुष मंत्रालय की उपलब्धियां
इस पृष्ठ में आयुष मंत्रालय की उपलब्धियां 2014 - 2016 की जानकारी दी गयी है|

Back to top

T612019/12/07 17:26:54.504487 GMT+0530

T622019/12/07 17:26:54.519109 GMT+0530

T632019/12/07 17:26:54.519223 GMT+0530

T642019/12/07 17:26:54.519472 GMT+0530

T12019/12/07 17:26:54.483304 GMT+0530

T22019/12/07 17:26:54.483500 GMT+0530

T32019/12/07 17:26:54.483644 GMT+0530

T42019/12/07 17:26:54.483786 GMT+0530

T52019/12/07 17:26:54.483873 GMT+0530

T62019/12/07 17:26:54.483954 GMT+0530

T72019/12/07 17:26:54.484544 GMT+0530

T82019/12/07 17:26:54.484722 GMT+0530

T92019/12/07 17:26:54.484941 GMT+0530

T102019/12/07 17:26:54.485154 GMT+0530

T112019/12/07 17:26:54.485198 GMT+0530

T122019/12/07 17:26:54.485290 GMT+0530