सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

होम (घर) / स्वास्थ्य / स्वास्थ्य योजनाएं / राष्ट्रीय स्वास्थ्य योजनाएँ / केंद्र सरकार स्वास्थ्य योजना सीजीएचएस
शेयर
Views
  • अवस्था संपादित करने के स्वीकृत

केंद्र सरकार स्वास्थ्य योजना सीजीएचएस

इस शीर्षक में केंद्र सरकार की स्वास्थ्य योजना के तहत वरिष्ठ नागरिकों के लिए शुरु की जा रही स्वास्थ्य सुविधाओं की जानकारी दी गई है।

परिचय

केंद्र सरकार स्वास्थ योजना (सीजीएचएस) के तहत दिल्ली में 20 स्वास्थ्य केंद्र 1 सितंबर 2014 से आम वरिष्ठ नागरिकों के लिए खोले जाएंगे।

इन केंद्रों में वरिष्ठ नागरिकों को निशुल्क चिकित्सकीय सलाह की सुविधा उपलब्ध होगी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने भविष्य की जन स्वास्थ सेवा के लिए इस विस्तृत प्रायोगिक योजना की शुरूआत की। ऐसे लोगों की तरफ से सीजीएचएस की क्लोज डोर नीति की कड़ी आलोचना हुई है जिन्हें चिकित्सकीय सहायता की आवश्यकता है और वो केंद्र सरकार के कर्मचारियों के परिवार के सदस्य नहीं हैं।

डॉ. हर्षवर्धन ने कहा “ये अभी एक प्रायोगिक योजना है। योजना के दूसरे शहरों और ज्यादा लोगों के लिए विस्तार से पहले हम देखेंगे कि सीजीएसएस क्लीनिकों के लिए कितनी मांग आती है और क्लीनिक आम लोगों की जरूरतों को किस हद तक पूरा कर पाते हैं।”

सुविधा

वरिष्ठ नागरिकों के लिए ये सेवा सभी कार्यदिवसों में दोपहर 1:30 बजे से 03:00 बजे के बीच उपलब्ध होगी। निशुल्क दवा की सुविधा सभी को उपलब्ध नहीं होगी। निशुल्क दवाएं केवल केंद्र सरकार के कर्मचारियों को ही उपलब्ध कराई जाएंगी।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन पहले ही स्पष्ट कर चुके हैं कि स्वास्थ्य मंत्रालय से संबद्ध सभी विभागों के संचालन को पूरी तरह पारदर्शी बनाया जाएगा। पहले तीन महीनों में, सीजीएचएस ने अपने ऐसे अपरिहार्य क्षेत्रों की पहचान के उद्देशय से अपने सभी क्रियाकलापों की समीक्षा पूरी कर ली है जहां अक्सर भ्रष्टाचार की आशंका बनी रहती है।

सीजीएचएस चिकित्सकों द्वारा मान्य दवा सूची के अतिरिक्त ब्रांडशुदा दवाओं की सलाह देने की शिकायतें भी मिलती रही हैं। स्वास्थ मंत्री ने बताया कि इसे ध्यान में रखते लाभार्थियों और आम लोगों की सूचना के लिए ऐसी दवाओं की सूची उपरोक्त वैबसाइट पर प्रकाशित करने का फैसला किया गया है।

डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि भविष्य में केवल 1,447 जेनरिक और 622 ब्रांडशुदा दवाओं की ही सलाह दी जाएगी। केंसर और उससे मिलती जुलती बीमारियों में अपवाद स्वरूप इसके अतिरिक्त दवाएं लिखी जा सकती हैं।

निशुल्क सुविधा

इसके अतिरिक्त ये भी फैसला किया गया है कि सीजीएचएस लाभार्थियों को अधिकतम केवल एक महीने की दवाएं ही निशुल्क उपलब्ध कराई जाएंगी। उन्होंने बताया कि यदि वो अतिरिक्त इलाज के लिए विदेश जाते हैं तो ऐसे मामलों में निशुल्क दवाएं तीन महीने तक उपलब्ध कराई जाएंगी।

सीजीएचएस चिकित्सक ऐसी जांच और प्रत्यारोपण की सलाह नहीं देंगे जो कि सूचीबद्ध नहीं है। दवा, जांच, प्रणाली, प्रत्यारोपण तथा चिकित्सा प्रणाली की सूची को अपडेट करने के लिए तकनीकी समिति का गठन किया जा चुका है।

डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि वो मंत्रालय के सभी विभागों में व्यापक स्तर पर सुधार पर विचार कर रहे हैं। “मैं हमारे कामकाज की जांच करने के लिए लोगों, खासकर मीडियो को प्रोत्साहित करता हूं ताकि कर्मचारियों को भ्रष्टाचार की कोशिश में नाकामी का अहसास होने लगे। इसके अतिरिक्त मैं भ्रष्टाचार के स्रोत को समाप्त करने के लिए सूचना और तकनीक का भी इस्तेमाल करूंगा।”

अधिक जानकारी

माननीय मंत्री ने 30 दिन से ज्यादा समय से लंबित सभी मेडिकल दावों की जानकारी वेबसाइट, http://msotransparent.nic.in/cghsnew/index.asp पर प्रकाशित करने के आदेश दिए हैं। दावों के भुगतान के बारे में स्पष्ट नीति नहीं होने के कारण सालों से दावों की संख्या बहुत बढ़ गई है।

स्त्रोत: पत्र सूचना कार्यालय

3.0202020202

lk singh Nov 22, 2018 09:07 PM

जानकारिया कुछ अछि कर लीजिये जानकारिया किसी विषय की गलत नहीं दी जाती क्रृपया कर किसी को नयी जानकारिया जड़ से पढ़ कर शार्ट में लिखिए मुख्य बिंदुये जो हो .

Satish Paliwal Sep 26, 2018 03:47 PM

Dear sir free medical & surgery subhida held for child health all over any hospital anytime all states or overall patients

प्रभु दयाल शर्मा Sep 28, 2016 08:52 AM

माननीय प्रXाXXंत्री जी, आपने स्वास्थ्य विभाग की की योजनाएं लागू किया है लेकिन जिसमें पुरानी योजनाएं ही हैं जिसे पुराने ढर्रे से ही चलाया जा रहा है जैसे एचआईवी एड्स स्वास्थ्य संबंधी बीमा आदि हैल जिसमें केवल पैसा खराब हो रहा है इसके लिए मेरे पास सुझाव है कि आप प्रत्येक ब्लाक में एक समाजिक संगठन को नियुक्त करें और उनके नियम कानून ठीक ढंग से बनाएं तथा प्रत्येक 3 महीने में मॉनिटरी किया जाए और मॉनिटरी करने वाले अधिकारी पर सही जांच ना करने पर तुरंत दंडात्मक कार्रवाई होनी चाहिए प्रभु दयाल शर्मा अध्यक्ष नवनिर्माण जनकल्याण विकास समिति 78, डिफेंस कॉलोनी इज्जत नगर बरेली मोबाइल नंबर 94112 71647

अपना सुझाव दें

(यदि दी गई विषय सामग्री पर आपके पास कोई सुझाव/टिप्पणी है तो कृपया उसे यहां लिखें ।)

Enter the word
नेवीगेशन
Back to top

T612019/10/18 19:16:52.674830 GMT+0530

T622019/10/18 19:16:52.710507 GMT+0530

T632019/10/18 19:16:52.711316 GMT+0530

T642019/10/18 19:16:52.711612 GMT+0530

T12019/10/18 19:16:52.645629 GMT+0530

T22019/10/18 19:16:52.645803 GMT+0530

T32019/10/18 19:16:52.645951 GMT+0530

T42019/10/18 19:16:52.646086 GMT+0530

T52019/10/18 19:16:52.646186 GMT+0530

T62019/10/18 19:16:52.646258 GMT+0530

T72019/10/18 19:16:52.647026 GMT+0530

T82019/10/18 19:16:52.647229 GMT+0530

T92019/10/18 19:16:52.647434 GMT+0530

T102019/10/18 19:16:52.647659 GMT+0530

T112019/10/18 19:16:52.647704 GMT+0530

T122019/10/18 19:16:52.647793 GMT+0530