सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

होम (घर) / स्वास्थ्य / स्वास्थ्य योजनाएं / गंभीर बीमारी पॉलिसी भी है जरूरी
शेयर
Views
  • अवस्था संपादित करने के स्वीकृत

गंभीर बीमारी पॉलिसी भी है जरूरी

इस भाग में बीमारी पश्चात जरुरत पड़ने वाली पॉलिसी के बारे में जानकारी उपलब्ध करायी गयी है|

परिचय

कामकाज के बदलते ढर्रे, अत्यधिक तनाववाली नौकरियों, असंतुलित खान-पान, सिगरेट और शराब के सेवन, व्यायाम से परहेज जैसी वजहों से बड़ी संख्या में भारतीय जीवनशैली संबंधी बीमारियों की तरफ बढ़ रहे हैं| हाल के वर्षो के आंकड़े बताते हैं कि बढ़ती चिकित्सा सुविधा के बावजूद जानलेवा रोगों के मामलों में बढ़ोतरी का रुझान है| पिछले कई वषों से स्वास्थ्य सेवा संबंधी खर्चो में सबसे ज्यादा महंगाई देखी जा रही है| इसकी वजह से लोग इन खर्चो को अपनी नियमित आमदनी से उठा पाने में असमर्थ हो रहे हैं|

स्वास्थ्य संबंधी खर्च में वृद्धि केवल अस्पताल में भर्ती के खर्च के कारण नहीं है| कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों के मामले में दवाइयों का खर्च भी कई गुना बढ़ चुका है| इससे यह साफ है कि किसी व्यक्ति को महज अस्पताल भरती के परंपरागत कवर पर निर्भर नहीं रहना चाहिए, बल्कि गंभीर बीमारी (क्रिटिकल इलनेस) कवर पर भी विचार करना चाहिए| चूंकि, हममें से अनेक लोग खुद या अपने नियोक्ता के जरिये मेडिक्लेम/स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी पहले ही ले चुके होते हैं, सो हम गंभीर बीमारी कवर को महज वैसी ही एक और स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी समझ कर नजरअंदाज कर देते हैं| इसलिए स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी और गंभीर बीमारी पॉलिसी का फर्क समझना जरूरी हो जाता है|

पारंपरिक स्वास्थ्य पॉलिसियों के तहत अस्पताल भर्ती और कुछ मामलों में घर पर इलाज के खर्चे का भुगतान होता है| लेकिन गंभीर बीमारी की स्थिति में हमारे ऊपर चिकित्सीय खर्चो की अपेक्षा कहीं अधिक वित्तीय बोझ दूसरी तरह से पड़ सकता है| ऐसे रोगों के कारण नौकरी करने की आपकी योग्यता ‘पूर्ण या आंशिक’ और ‘अस्थायी या स्थायी’ रूप से खत्म हो सकती है| बीमारी की वजह से आपकी जीवनशैली बदल सकती है| ऐसी क्षति बीमा के कवर से कहीं ज्यादा हो सकती है| और यहीं पर काम आती है, गंभीर बीमारी बीमा पॉलिसी|

राइडर और अलग पॉलिसी का विकल्प

आप गंभीर बीमारी पॉलिसी को अलग बीमा पॉलिसी के रूप में खरीद सकते हैं, या फिर स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी के साथ राइडर के रूप में ले सकते हैं| भारत में अधिकतर बीमा कंपनियां अतिरिक्त प्रीमियम के भुगतान पर जीवन बीमा/स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी में बढ़ोतरी के रूप में गंभीर बीमारी का बीमा भी उपलब्ध कराती हैं| इसे वर्तमान बीमा पॉलिसी का मूल्य-वर्धन कहा जा सकता है| गंभीर बीमारी कवर को खास तौर पर हृदयाघात, हृदय धमनियों की बाइपास सजर्री, पक्षाघात, कैंसर, गुर्दे की निष्क्रियता, लकवा जैसे जीवनशैली संबंधी रोगों पर होनेवाले भारी खर्च और संबंधित उपचार की जरूरतों को पूरा करने के लिए तैयार किया गया है| इससे मिलने वाली एकमुश्त रकम देख-भाल और इलाज के खर्च, स्वास्थ्य लाभ के लिए जरूरी खर्च चुकाने, कर्ज की अदायगी, उपाजर्न क्षमता में कमी के कारण बंद आमदनी की भरपाई वगैरह के काम आ सकती है|

स्त्रोत: दैनिक समाचारपत्र

3.0202020202

संदीप माली Dec 16, 2018 04:43 PM

यह 10 वर्ष का बालक है इसकी एक किडनी में प्रॉब्लम है जो सरकारी योजना से लाभ मिल सकता है जानकारी देना है तुरंत

निमाई चंद्र mahato Jul 12, 2018 11:43 AM

मेरी मामी को कैंसर हो गया है ,जो बहुत ही गरीब है aur मामा का मौत हो चूका है ,ऐसे में क्या कोई सरकारी सहायता मिल sakta है ..कृपया सुझाव दे

रकम बाई सोदनसिंघ rajput Apr 11, 2018 05:23 PM

मुख्या मंत्री सहायता कोष योजना में फॉर्म आवेदन किया थे वो रिजेक्ट हो गया प्लीज हेल्प मी एप्लीकेशन नंबर यह 18XXX11

Lakhvinder singh Feb 11, 2018 02:33 PM

अभी तुरंत मेरे पिता जी को गंगाराम में एडमिट करवाना पड़ा है । क्या कोई सहायता मिल सकती है । योजना से 94XXX88 ह्रदय रोग है किर्पया बताये ।

एस गणेश रेड्डी Dec 17, 2016 09:47 PM

गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों के लिये शासन के द्वारा सब्सिडी पर किसी प्रकार का कोई पॉलिसी मुहैया कराया जाता है???

अपना सुझाव दें

(यदि दी गई विषय सामग्री पर आपके पास कोई सुझाव/टिप्पणी है तो कृपया उसे यहां लिखें ।)

Enter the word
नेवीगेशन
Back to top

T612019/10/21 13:52:19.385443 GMT+0530

T622019/10/21 13:52:19.403937 GMT+0530

T632019/10/21 13:52:19.404655 GMT+0530

T642019/10/21 13:52:19.404935 GMT+0530

T12019/10/21 13:52:19.353370 GMT+0530

T22019/10/21 13:52:19.353525 GMT+0530

T32019/10/21 13:52:19.353704 GMT+0530

T42019/10/21 13:52:19.353853 GMT+0530

T52019/10/21 13:52:19.353978 GMT+0530

T62019/10/21 13:52:19.354066 GMT+0530

T72019/10/21 13:52:19.354808 GMT+0530

T82019/10/21 13:52:19.355017 GMT+0530

T92019/10/21 13:52:19.355230 GMT+0530

T102019/10/21 13:52:19.355440 GMT+0530

T112019/10/21 13:52:19.355487 GMT+0530

T122019/10/21 13:52:19.355582 GMT+0530