सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

शेयर
Views
  • अवस्था संपादित करने के स्वीकृत

पोषाहार

शहरी जीवन द्वारा संतुलित आहार के अर्थ के बदलने से आज हमारे दैनिक आहार में से मोटा अनाज धीरे-धीरे बाहर होता जा रहा है। इसी क्रम में पोषाहार से जुड़े विषयों को इस भाग में प्रस्तुत किया गया है।

मोटे अनाज और उनके पोषक मान
जनसंख्या विस्फोट और भोजन की मांग हमेशा साथ-साथ चलते हैं। पारंपरिक रूप से हम कई प्रकार के मोटे अनाज खाते हैं। शहरी जीवन द्वारा संतुलित आहार के अर्थ के बदलने से मोटे अनाज की उपयोगिता को हमारे देश में ऊर्जा आवश्यकताओं की पूर्ति के अनुरूप संशोधित किया गया है।
हरी सब्जियों का महत्व
यह भाग हरी सब्जी की विशेषता हरी पत्तीदार सब्जियों का पौष्टिक रूप से महत्व और रक्त में मधुमेह एवं कोलेस्टेरॉल के स्तर को घटाने के लिए मेथी के दानों का प्रयोग के महत्व के बारे में बताता है।
पोषाहार
इस भाग में पोषाहार के विषय में जानकारियाँ उपलब्ध करायी गयी हैं
भारतीयों के लिए आहार संबंधी मार्ग-निर्देशिका
इस भाग में भारतीयों के लिए आहार संबंधी मार्ग-निर्देशिका का वर्णन किया गया है
आयोडीन युक्त नमक
इस भाग में आयोडीन युक्त नमक के विषय में जानकारी दी गई है
खाद्य पदार्थ एवं उनके पोषक मूल्य
इस भाग में खाद्य पदार्थ एवं उनके पोषक मूल्य का वर्णन है
पोषण एवं एच. आई. वी. संबंधी मार्गदर्शिका
इस मार्गदर्शिका में एच.आई.वी. संक्रमित व्यक्तियों की पौषणिक और खाद्य सम्बंधी आवश्यकता को विस्तार से बतलाया है जो उनके लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि इन्हें अवसरवादी संक्रमण की ओर अपनी प्रतिरक्षिता को बलवान बनाना पड़ता है।
साग–सब्जियाँ और उनके औषधीय महत्व
इस भाग में हरी सब्जियों का हमारे दैनिक जीवन में महत्व और औषधीय महत्व की जानकारी दी गयी है।
एंटी-ऑक्सिडेंट्स और फाइटोकैमिकल्स से स्वास्थ्य को होने वाले लाभ
इस भाग में एंटी-ऑक्सिडेंट्स और फाइटोकैमिकल्स से स्वास्थ्य को होने वाले लाभ, उनकी आवश्यकता और उपलब्धता पर आलेख प्रस्तुत किया गया है|
खाद्य व पोषण सुरक्षा समुदाय
इस आलेख में खाद्य व पोषण सुरक्षा समुदाय के विषय में विस्तार से जानकारी दी गयी है।

नेवीगेशन
Back to top