सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

होम (घर) / सफल उदाहरण / ई-शासन की महत्ता
शेयर

ई-शासन की महत्ता

विकासपीडिया ई-शासन देशभर में चल रहे ई-शासन अभियान में सहायता प्रदान कर रहा है।

भारत में ई-शासन आंदोलनभारत में ई- शासन अपनी शुरुआत से आज एक नये दौर में प्रवेश कर गया है। लोगों के परिवेश के पास ही सार्वजनिक सेवाओं को विभिन्न केन्द्रों से तकनीक की सहायता से समयबद्ध रुप पहुँचा कर शासन महत्वपूर्ण सहयोगी की भूमिका निभा रहा है। राष्ट्रीय और राज्य स्तर ई-शासन की उपयोगिता को लेकर जागरूकता लाने की जरुरत है।साझा सेवा केन्द्र संचालकों का सशक्तीकरणभारत में ग्रामीण परिवेश ने विशेष रूप से समृद्ध आईसीटी पहल, सामान्य सेवा केंद्रों (सीएससी) से लाभ लेना शुरु कर दिया है। भारत विकास पहल साझा सेवा केन्द्र के संचालकों की क्षमता का निर्माण करने और ज्ञान को साझा करने के लिए एक उपयोगी आवश्यक मंच प्रदान करता है। बदलती सेवा वितरण प्रणाली
भारत में ई-शासन 'अच्छे शासन' का पर्याय बनता जा रहा है। केंद्र सरकार और राज्य सरकार के विभिन्न विभाग नागरिकों, व्यापारियों और सरकारी संगठन को ही नहीं बल्कि समाज के हर वर्ग को सूचना और प्रौद्योगिकी की सहायता से विभिन्न सेवाएं प्रदान कर रहे है। इसी क्रम में 2006 में शुरू की राष्ट्रीय ई-शासन योजना (एनईजीपी) के तहत भारत भर में साझा सेवा केंद्र (सीएससी) स्थापित किए गये हैं। ये साझा सेवा केंद्र आम आदमी को सीधे तौर पर लाभान्वित कर सहज,सुलभ और उनके घर के द्वार तक सरकारी सेवाएं उपलब्ध कराने का प्रयास कर रहे हैं। 31मार्च 2014 की स्थिति के अनुसार 1,33,847(सीएससी वेबसाइट) देशभर में साझा सेवा केंद्र अलग-अलग ब्रांड नाम के साथ परिचालित किये जा रहे थे।विकासपीडिया ई-शासन भाग का मुख्य ध्यान नागरिकों के लिए उपलब्ध ऑनलाइन सेवाएँ, राज्यों की ई-शासन पहल, ऑनलाइन विधिक सेवाओं, मोबाइल शासन, सूचना के अधिकार पर जानकारी उपलब्ध कराकर, देशभर में चल रहे ई-शासन अभियान में सहायता प्रदान करना है। ग्रामीण उद्यमियों (वीएलई) के सशक्तीकरण के महत्व को ध्यान में रखते हुए, भारतीय विकास प्रवेशद्वार ने “वीएलई कार्नर" का निर्माण कर न केवल एक मंच पर आने का अवसर दिया बल्कि उनके ज्ञान-भंडार को विभिन्न अध्ययन संसाधनों से समृद्ध करने में प्रयासरत है। भारत का ग्रामीण भाग विभिन्न संस्थाओं और उभरती आईसीटी पहल का लाभ लेने के लिए तैयार रहा है और भारत विकास प्रवेशद्वार बहुभाषाओं में उपलब्ध आवश्यक सामग्री और सेवाओं से लाभान्वित होने के लिए आह्वान करता है।


 

चंचल मिश्र सुल्तानपुर उत्तर प्रदेश 8756811737

 

 

 

 


Back to top

T612019/10/16 05:25:2.426923 GMT+0530

T622019/10/16 05:25:2.427728 GMT+0530

T632019/10/16 05:25:2.428428 GMT+0530

T642019/10/16 05:25:2.428749 GMT+0530

T12019/10/16 05:25:2.280875 GMT+0530

T22019/10/16 05:25:2.281927 GMT+0530

T32019/10/16 05:25:2.282769 GMT+0530

T42019/10/16 05:25:2.283674 GMT+0530

T52019/10/16 05:25:2.283771 GMT+0530

T62019/10/16 05:25:2.283842 GMT+0530

T72019/10/16 05:25:2.285143 GMT+0530

T82019/10/16 05:25:2.285329 GMT+0530

T92019/10/16 05:25:2.285670 GMT+0530

T102019/10/16 05:25:2.286037 GMT+0530

T112019/10/16 05:25:2.286092 GMT+0530

T122019/10/16 05:25:2.286188 GMT+0530