सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

होम (घर) / समाचार / अब एनसीईआरटी बच्‍चों को सिखाएगा ‘गुड टच, बैड टच’ का सबक
शेयर

अब एनसीईआरटी बच्‍चों को सिखाएगा ‘गुड टच, बैड टच’ का सबक

राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद ने कहा कि अगले सत्र से उसकी सभी किताबों में ऐसे मामलों से निपटने के लिए क्या करना चाहिए, इसकी एक सूची होगी।

बच्चों के साथ यौन शोषण के बढ़ते मामलों के बीच एनसीईआरटी चाहता है कि छात्र ‘गुड टच’ और ‘बैड टच’ के बीच का अंतर पहचानें और उन्हें किताबों में यह पढ़ाया जाए कि यौन शोषण का सामना करने पर उन्हें क्या करना चाहिए। स्कूली पाठ्यक्रमों और पुस्तकों पर केंद्र और राज्य सरकार को सुझाव देने वाले राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद ने कहा कि अगले सत्र से उसकी सभी किताबों में ऐसे मामलों से निपटने के लिए क्या करना चाहिए, इसकी एक सूची होगी। इसमें पोक्सो कानून और राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) के बारे में जानकारी देने के साथ ही कुछ हेल्पलाइन नंबर भी होंगे। एनसीईआरटी निदेशक ऋषिकेश सेनापति ने कहा कि महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने सुझाव के साथ उनसे संपर्क किया और ‘हमने उसे स्वीकार कर लिया है।’

उन्होंने बताया कि शिक्षकों को ‘गुड और बैड टच’ के बीच अंतर बताने के लिए छात्रों को शिक्षित करने की कोशिश करनी चाहिए लेकिन अभिभावकों के साथ-साथ शिक्षक भी अकसर इस बात से अनजान रहते हैं कि ऐसी स्थितियों में क्या करना चाहिए और इसकी रिपोर्ट कहां की जाए। उन्होंने कहा, ‘‘अगले सत्र से एनसीईआरटी की सभी किताबों के पीछे वाले कवर के अंदर की तरफ आसान भाषा में कुछ दिशा निर्देश होंगे। इसमें छूने के अच्छे और बुरे तरीके के बारे में कुछ चित्र भी होंगे।’’

सेनापति ने बताया कि कुछ हेल्पलाइन नंबर भी होंगे, जहां छात्र या अभिभावक ऐसे मामलों की रिपोर्ट कर सकते हैं या कोई मदद या काउंसिलिंग मांग सकते हैं। इसमें बाल यौन अपराध संरक्षण (पोक्सो) कानून और एनसीपीसीआर के बारे में भी जानकारी होगी।

स्त्रोत: खबर एनडीटीवी

 


Back to top

T612019/06/24 14:10:46.521395 GMT+0530

T622019/06/24 14:10:46.532529 GMT+0530

T632019/06/24 14:10:46.558300 GMT+0530

T642019/06/24 14:10:46.558657 GMT+0530

T12019/06/24 14:10:46.482702 GMT+0530

T22019/06/24 14:10:46.483770 GMT+0530

T32019/06/24 14:10:46.484658 GMT+0530

T42019/06/24 14:10:46.485540 GMT+0530

T52019/06/24 14:10:46.485632 GMT+0530

T62019/06/24 14:10:46.485712 GMT+0530

T72019/06/24 14:10:46.487124 GMT+0530

T82019/06/24 14:10:46.487354 GMT+0530

T92019/06/24 14:10:46.487718 GMT+0530

T102019/06/24 14:10:46.488088 GMT+0530

T112019/06/24 14:10:46.488136 GMT+0530

T122019/06/24 14:10:46.488244 GMT+0530