सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

होम (घर) / समाचार / केंद्रीय मंत्रिमंडल ने खेलो इंडिया के पुनरूद्धार को मंजूरी दी
शेयर
Views
  • अवस्था समीक्षा के लिए प्रतीक्षा

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने खेलो इंडिया के पुनरूद्धार को मंजूरी दी

इस कार्यक्रम को व्‍यक्तिगत विकास, सामुदायिक विकास, आर्थिक विकास और राष्‍ट्रीय विकास के रूप में खेलों को मुख्‍य धारा से जोड़े जाने के फलस्‍वरूप भारतीय खेलों के इतिहास में यह एक उल्‍लेखनीय उपलब्‍धि का क्षण है।

प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में हुई बैठक में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने वर्ष 2017-18 से 2019-20 की अवधि के लिए 1,756 करोड़ रूपये के खेलो इंडिया कार्यक्रम के पुनरूद्धार को मंजूरी प्रदान कर दी है। इस कार्यक्रम को व्‍यक्तिगत विकास, सामुदायिक विकास, आर्थिक विकास और राष्‍ट्रीय विकास के रूप में खेलों को मुख्‍य धारा से जोड़े जाने के फलस्‍वरूप भारतीय खेलों के इतिहास में यह एक उल्‍लेखनीय उपलब्‍धि का क्षण है।

पुनरूद्धार किए गए कार्यक्रम का प्रभाव संरचना, सामुदायिक खेल, प्रतिभा की खोज, उत्‍कृष्‍टता के लिए कोचिंग, प्रतिस्‍पर्धागत ढांचा तथा खेल की अर्थव्‍यवस्‍था सहित सम्‍पूर्ण खेल प्रणाली पर पड़ेगा।

मुख्‍य बातें:

इस कार्यक्रम की कुछ मुख्‍य बातों में निम्‍नलिखित हैं:-

·   अभूतपूर्व भारतीय खेल छात्रवृति योजना जिसमें चयनित खेल विधाओं में प्रत्‍येक वर्ष 1,000 सर्वाधिक प्रतिभावान युवा खिलाडि़यों को सम्मिलित किया जाएगा।

·   इस योजना के अंतर्गत चयनित प्रत्‍येक खिलाड़ी को लगातार 8 वर्षों के लिए 5.00 लाख रूपये राशि की वार्षिक छात्रवृति दी जाएगी।

·   अब तक का यह पहला अवसर है, जिसमें दीर्घकालिक खिलाड़ी विकास का मार्ग प्रशस्‍त हुआ है, जो प्रतिभावान युवाओं को प्रतिस्‍पर्धी खेलों में उत्‍कृष्‍ट प्रदर्शन के लिए उपलब्‍ध होगा और जिससे अत्‍यधिक प्रतिस्‍पर्धी खिलाडि़यों की श्रृंखला का निर्माण होगा जो विश्‍व स्‍तर पर जीत हासिल करने के लिए मुकाबला कर सकेंगे।

·  इस कार्यक्रम में देशभर में 20 विश्‍वविद्यालयों को खेलों में उत्‍कृष्‍टता के हब के रूप में विकसित करने का लक्ष्य है, जिससे प्रतिभाशाली खिलाड़ी शिक्षा के साथ-साथ प्रतिस्‍पर्धी खेलों में अपनी दोहरी भूमिका निभाने में समर्थ हो सकें।

·  इस कार्यक्रम का एक लक्ष्य यह भी है कि स्‍वस्‍थ जीवनशैली के साथ  गतिशील जनसंख्‍या का निर्माण किया जा सके।

·  इस कार्यक्रम से व्‍यापक राष्‍ट्रीय शारीरिक फिटनेस अभियान के अंतर्गत 10-18 आयुवर्ग के करीब 200 मिलियन बच्‍चों को लाभ मिलेगा, जिससे इस आयु वर्ग के सभी बच्‍चों की शारीरिक फिटनेस का आभास होगा, अपितु इससे उनके फिटनेस से संबंधित क्रियाकलापों को भी सहारा मिलेगा।

प्रभाव:

·   लिंग साम्‍यता एवं सामाजिक सहभागिता को बढ़ावा देने में खेलों के  महत्‍व से सभी भलि-भांति परिचित है और इन लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए विशेष उपाय किये जाते है।

·  इस कार्यक्रम का उद्देश्‍य अशांत एवं सुविधाओं से वंचित क्षेत्रों में रह रहे युवावर्ग को अनुत्‍पादक एवं विध्‍वंसकारी गतिविधियों से हटाकर खेल-कूद के क्रियाकलापों से जोड़ कर उन्‍हें राष्‍ट्र निर्माण की प्रक्रिया में मुख्‍य धारा से जोड़ना है।

·  इस कार्यक्रम में स्‍कूल और कॉलेज दोनों ही स्‍तर पर प्रतिस्‍पर्धा के मानकों का स्‍तर बढ़ाना और खेल-कूद प्रतियोगिताओं तक बच्‍चों की अधिकतम पहुंच कायम करना है।

·   इसमें खेल संवर्धन के सभी पहलुओं जैसे – खेल प्रशिक्षण के ज्ञान के विस्‍तार के लिए मोबाइल ऐप के इस्‍तेमाल, प्रतिभा की खोज के लिए राष्‍ट्रीय प्रतिभा खोज पोर्टल, स्‍वदेशी खेलों के लिए इंटरेक्टिव वेबसाइट, खेल संरचना की तलाश एवं इस्‍तेमाल के लिए जी.आई.एस. सूचना प्रणाली के नवीनतम उपभोक्‍ता अनुकूल प्रौद्योगिकी का इस्‍तेमाल शामिल है।

·  इस कार्यक्रम में ‘सभी के लिए खेल’ के साथ-साथ ‘उत्‍कृष्‍टता के लिए खेल’ की भावना पर जोर दिया गया है।

स्त्रोत: पत्र सूचना कार्यालय

 


Back to top

T612019/10/16 04:51:6.585831 GMT+0530

T622019/10/16 04:51:6.587215 GMT+0530

T632019/10/16 04:51:6.597829 GMT+0530

T642019/10/16 04:51:6.598187 GMT+0530

T12019/10/16 04:51:6.553004 GMT+0530

T22019/10/16 04:51:6.554052 GMT+0530

T32019/10/16 04:51:6.554928 GMT+0530

T42019/10/16 04:51:6.555795 GMT+0530

T52019/10/16 04:51:6.555902 GMT+0530

T62019/10/16 04:51:6.555975 GMT+0530

T72019/10/16 04:51:6.557311 GMT+0530

T82019/10/16 04:51:6.557515 GMT+0530

T92019/10/16 04:51:6.557870 GMT+0530

T102019/10/16 04:51:6.558221 GMT+0530

T112019/10/16 04:51:6.558269 GMT+0530

T122019/10/16 04:51:6.558363 GMT+0530