सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

होम (घर) / समाचार / रांची में स्मार्ट सिटी की नीवं रखी गयी
शेयर

रांची में स्मार्ट सिटी की नीवं रखी गयी

स्मार्ट सिटी की क्षमता 1।50 लाख लोगों की, 24 घंटे बिजली-पानी की सुविधा होगी।

रांची स्मार्ट सिटी परियोजना के काम का शुभारंभ शनिवार को हो गया है। उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने इसकी आधारशिला रखी। इस मौके पर रांची स्मार्ट सिटी के मास्टर प्लान को भी लांच किया गया। मास्टर प्लान के अनुसार, यह शहर पूरी तरह स्मार्ट तो होगा ही, यहां के लोग भी स्मार्ट होंगे। यहां जाम जैसी कोई समस्या नहीं होगी। नो व्हीकल जोन बनाया गया है।

स्मार्ट सिटी की क्षमता 1.50 लाख लोगों की होगी,  जो वहां रह कर काम करेंगे, निवास करेंगे या आना-जाना करेंगे। रांची स्मार्ट सिटी में तीन कैटेगरी में लोग रहेंगे। लोअर डेनसिटी में 50 से 200 लोग प्रति एकड़ में, मिडियम डेनसिटी में 201 से 400 लोग प्रति एकड़ में तथा हाइ डेनसिटी में 401 से 800 लोग प्रति एकड़ में रहेंगे। स्मार्ट सिटी के आवासीय परिसर में 69270 लोग रहेंगे। वहां के वर्किंग लोगों की संख्या लगभग 72248 होगी।

  • 40 मीटर तक चौड़ी होंगी सड़कें।
  • स्मार्ट सिटी के अंदर नन मोटराइज्ड व्हीकल ही चलेंगे।
  • स्मार्ट बस शेल्टर बनाये जायेंगे। वहीं इसके बाहरी इलाके में मल्टी लेवल कार पार्किंग भी होगा।
  • स्मार्ट सिटी में 245 एकड़ का क्षेत्रफल ग्रीन एरिया या ओपेन स्पेस होगा।
  • यहां पैदल चलने वालों के लिए फुटपाथ होगा।
  • साथ ही साइकिल ट्रैक भी होगा।स्मार्ट सिटी में कई शैक्षणिक संस्थान भी होंगे।

86.5 एकड़ में होगा आवासीय परिसर

स्मार्ट सिटी में कुल 86.5 एकड़ में आवासीय परिसर होगा। इसमें 200 वर्गफीट के 2016 हॉस्टल रूम होंगे। वहीं 300 वर्गफीट के इडब्ल्यूएस फ्लैट की संख्या 1738 होगी। 600 वर्गफीट के एलआइजी फ्लैट की संख्या 3838 होगी। 1000 वर्गफीट के एमआइजी फ्लैट की संख्या 4121 होगी। वहीं 1500 वर्गफीट के एचआईजी फ्लैट 1833 तथा 2200 वर्गफीट के सुपर एचआइजी फ्लैट 1039 होंगे।

स्त्रोत: प्रभात खबर

 


Back to top