सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

होम (घर) / समाचार / संपूर्ण बीमा ग्राम (एसबीजी) योजना और डाक जीवन बीमा के अंतर्गत ग्रामीणों को किफायती जीवन बीमा सेवाएं मिलेंगी
शेयर

संपूर्ण बीमा ग्राम (एसबीजी) योजना और डाक जीवन बीमा के अंतर्गत ग्रामीणों को किफायती जीवन बीमा सेवाएं मिलेंगी

संपूर्ण बीमा ग्राम (एसबीजी) योजना के तहत देश के प्रत्येक राजस्व जिलों में कम से कम एक गांव (न्यूनतम 100 आवास के) को चिन्हित किया जाएगा। इस योजना का प्राथमिक उद्देश्य संपूर्ण बीमा ग्राम के लिए चिन्हित गांव के सभी आवासों को कवर करना है।

संचार मंत्री श्री मनोज सिन्हा ने संपूर्ण बीमा ग्राम (एसबीजी) योजना और डाक जीवन बीमा के ग्राहकों की संख्या बढ़ाने की पहल का शुभारंभ किया। मंत्री ने कहा कि देश के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को किफायती जीवन बीमा सेवाएं प्रदान करने के लिए डाक नेटवर्क के जरिये बैंकिंग सेवाएं उपलब्ध कराने के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के विचार को आगे बढ़ाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि सांसद आदर्श ग्राम योजना के अंतर्गत आने वाले सभी गांव इसकी सीमा में लाए जायेंगे।

मंत्री महोदय ने कहा कि संपूर्ण बीमा ग्राम (एसबीजी) योजना के तहत देश के प्रत्येक राजस्व जिलों में कम से कम एक गांव (न्यूनतम 100 आवास के) को चिन्हित किया जाएगा। जबकि प्रत्येक पॉलिसी की कम से कम एक आरपीएलआई (ग्रामीण डाक जीवन बीमा) के साथ चिन्हित गांव के सभी घरों को कवर करने का प्रयास किया जाएगा। इस योजना का प्राथमिक उद्देश्य संपूर्ण बीमा ग्राम के लिए चिन्हित गांव के सभी आवासों को कवर करना है।

श्री सिन्हा ने कहा कि डाक जीवन बीमा (पीएलआई) के ग्राहकों की संख्या बढ़ाने की योजना के अंतर्गत अब यह निर्णय लिया गया है कि पीएलआई के लाभ केवल सरकारी और अर्ध सरकारी कर्मचारियों तक ही सीमित नहीं होंगे बल्कि यह डॉक्टरों, इंजीनियरों, प्रबंधन सलाहकारों, चार्टटेड एकाउंटेंट, वास्तुकारों, वकीलों, बैंक कर्मियों जैसे पेशेवरों और एनएसई (नेशनल स्टॉक एक्सचेंज) तथा बीएसई (बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज) के कर्मचारियों के लिए भी उपलब्ध होंगे। यह फैसला सामाजिक सुरक्षा कवरेज को बढ़ाने और अधिकतम संख्या में लोगों को डाक जीवन बीमा (पीएलआई) के तहत लाने के लिए किया गया है। उन्होंने कहा कि निजी बीमा की तुलना में डाक पॉलिसियों का बीमा शुल्क कम और लाभांश अधिक है।

मंत्री महोदय ने कहा कि सरकार इस देश के नागरिकों के संपूर्ण कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है। डाक जीवन बीमा (पीएलआई) के ग्राहकों की संख्या बढ़ाना और देश के प्रत्येक जिले में संपूर्ण बीमा ग्राम के सभी घरों के लिए ग्रामीण डाक जीवन बीमा (आरपीएलआई) का कवरेज सुनिश्चित करना इस दिशा में एक कदम है। ये दोनों प्रमुख पहलें डाक विभाग द्वारा शुरू की जा रही है, जिससे लोगों का जीवन सुरक्षित होने के साथ ही वित्तीय समेकन भी बढ़ेगा। 1884 में शुरू किया गया डाक जीवन बीमा (पीएलआई) सरकारी और अर्ध सरकारी कर्मचारियों के लाभ के लिए सबसे पुरानी बीमा योजनाओं में से एक है।

स्त्रोत: पत्र सूचना कार्यालय

 


Back to top

T612019/10/23 10:07:12.015901 GMT+0530

T622019/10/23 10:07:12.016536 GMT+0530

T632019/10/23 10:07:12.027776 GMT+0530

T642019/10/23 10:07:12.028181 GMT+0530

T12019/10/23 10:07:11.926989 GMT+0530

T22019/10/23 10:07:11.927186 GMT+0530

T32019/10/23 10:07:11.927343 GMT+0530

T42019/10/23 10:07:11.927485 GMT+0530

T52019/10/23 10:07:11.927578 GMT+0530

T62019/10/23 10:07:11.927663 GMT+0530

T72019/10/23 10:07:11.928317 GMT+0530

T82019/10/23 10:07:11.928513 GMT+0530

T92019/10/23 10:07:11.928725 GMT+0530

T102019/10/23 10:07:11.928950 GMT+0530

T112019/10/23 10:07:11.928998 GMT+0530

T122019/10/23 10:07:11.929102 GMT+0530