सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

होम (घर) / समाचार / हिंदी दिवस पर जानें हिंदी से जुड़ी 10 दिलचस्प बातें, जिन्हें पढ़कर आपको गर्व होगा
शेयर

हिंदी दिवस पर जानें हिंदी से जुड़ी 10 दिलचस्प बातें, जिन्हें पढ़कर आपको गर्व होगा

हिंदी दुनिया में सबसे तेजी से लोकप्रिय हो रही भाषा है और इंटरनेट पर भी इसकी मांग पिछले कुछ सालों में अंग्रेजी की तुलना में 5 गुना तेजी से बढ़ी है।

हिंदी दुनिया में सबसे तेजी से लोकप्रिय हो रही भाषा है और इंटरनेट पर भी इसकी मांग पिछले कुछ सालों में अंग्रेजी की तुलना में 5 गुना तेजी से बढ़ी है। मसला ये है कि लोगों को हिंदी पर गर्व तो है लेकिन क्या वो लोग अपनी भाषा के गौरवशाली इतिहास और उससे जुड़े महत्वपूर्ण तथ्यों को जानते हैं? आज हम आपको हिंदी से जुड़े कुछ ऐसे ही तथ्य बताने जा रहे हैं जिन्हें जानकर आपका अपनी भाषा पर गर्व और बढ़ जाएगा।

हिंदी पर गर्व​

  1. 1950 में हिंदी भाषा को भारत की आधिकारिक भाषा का दर्जा मिला। 1954 में भारत सरकार ने हिंदी व्याकरण तैयार करने के लिए समिति का गठन किया गया।
  2. भारत के बाहर, हिन्दी बोलने वाले संयुक्त राज्य अमेरिका में 648,983, मॉरीशस में 685,170, दक्षिण अफ्रीका में 890,292, यमन में 232,760, युगांडा में 147,000, सिंगापुर में 5,000, नेपाल में करीब 8 लाख, न्यूजीलैंड में 20,000, जर्मनी में 30,000 हैं।  20 से ज्यादा देशों में हिंदी भाषा का इस्तेमाल किया जाता है।
  3. इंटरनेट पर 94% हिंदी की मांग - सात भाषाएं ऐसी है जिनका इस्तेमाल वेबएड्रस बनाने में किया जाता है, उनमें से हिंदी एक है। हिंदी की लोकप्रियता का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते है की हर साल इंटरनेट पर हिंदी कंटेंट की मांग 94 फीसद बढ़ रही है।
  4. दुनियाभर में हिंदी का इस्तेमाल- हिंदी सबसे ज्यादा बोले जाने वाली भाषाओ में से हिंदी एक है। हिंदी का इस्तेमाल करीब 60 करोड़ लोग करते है।
  5. 176 विश्वविद्यालयों में हिंदी की पढ़ाई- दुनिया के 176 विश्वविद्यालयों में हिंदी पढ़ाई जाती है, जिसमें से 45 विश्वविघालयों अमेरिका के है। इतना ही नही विदेश में 25 से ज्यादा पत्र-पत्रिकाएं रोज हिंदी में निकलती है।
  6. अंग्रेजी के ये शब्द लिए गए हिंदी से- गुरू, जंगल, कर्मा, योगा, बंगला, चीता, लूट, ठग और अवतार जैसे अंग्रेजी में जैसे प्रचलित शब्द हिंदी भाषा में लाए गए।
  7. 1805 में प्रकाशित लल्लू लाल द्वारा लिखित श्रीकृष्ण पर आधारित किताब प्रेम सागर को हिन्दी में लिखी गई पहली किताब माना जाता है।
  8. हिन्दी को अपना नाम एक परसियन शब्द हिन्दू से मिला, जिसका मतलब है पवित्र नदी की भूमि। यह भी कहा जाता है कि सि़ंधु नदी के पास जो सभ्यता फैली उसे सिंधु सभ्यता और उस क्षेत्र के लोगों को हिन्दू कहा जाने लगा जो कि सिंधु शब्द से ही बना। और इनके द्वारा बोली जाने वाली भाषा हिन्दी कहलाई।
  9. सरकार ने संयुक्त राष्ट्र की आधिकारिक भाषाओं में हिंदी को शामिल कराने के लिए सालाना 250 करोड़ रुपये खर्च किए हैं।
  10. बिहार वो पहला राज्य है जिसने हिंदी को अपनी आधिकारिक भाषा के तौर पर स्वीकार किया। साल 1881 तक बिहार की आधिकारिक भाषा उर्दू हुआ करती थी जिसके स्थान पर हिंदी को अपनाया गया।

स्त्रोत: खबर एनडीटीवी



Back to top

T612019/06/18 06:43:14.505660 GMT+0530

T622019/06/18 06:43:14.507127 GMT+0530

T632019/06/18 06:43:14.514602 GMT+0530

T642019/06/18 06:43:14.514944 GMT+0530

T12019/06/18 06:43:14.483528 GMT+0530

T22019/06/18 06:43:14.483704 GMT+0530

T32019/06/18 06:43:14.483842 GMT+0530

T42019/06/18 06:43:14.483978 GMT+0530

T52019/06/18 06:43:14.484073 GMT+0530

T62019/06/18 06:43:14.484142 GMT+0530

T72019/06/18 06:43:14.484725 GMT+0530

T82019/06/18 06:43:14.484894 GMT+0530

T92019/06/18 06:43:14.485101 GMT+0530

T102019/06/18 06:43:14.485299 GMT+0530

T112019/06/18 06:43:14.485344 GMT+0530

T122019/06/18 06:43:14.485433 GMT+0530