सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

शेयर
Views
  • अवस्था संपादित करने के स्वीकृत

जल प्रदूषण

इस पृष्ठ में जल प्रदूषण की जानकारी दी गयी है I

जल प्रदूषण क्या है ?

जल प्रदूषणजब झीलों, नहरों, नदियों, समुद्र तथा अन्य जल निकायों में विषैले पदार्थ प्रवेश करते हैं और यह इनमें घुल जाते है अथवा पानी में पड़े रहते हैं या नीचे इकट्ठे हो जाते हैं । जिसके परिणामस्वरूप जल प्रदूषित हो जाता है और इससे जल की गुणवत्ता में कमी आ जाती है तथा जलीय पारिस्थितिकी प्रणाली प्रभावित होती है । प्रदूषकों का भूमि में रिसन भी हो सकता है जिससे कारण भूमि-जल भी प्रभावित होता है ।

जल प्रदूषण के मुख्य स्रोत

जल प्रदूषण के मुख्य स्रोत निम्नलिखित है-

घरेलू सीवेज

जैसे- घरों से छोड़ा गया अपशिष्ट जल तथा सफाई सीवेज वाला जल

कृषि अपवाह

जैसे- कृषि क्षेत्रों का भू-जल जहाँ रासायनिक उर्वरकों का अंधाधुंध प्रयोग हुआ हो ।

औद्योगिक बहस्राव

जैसे- उद्योगों में विनिर्माण कार्यों अथा रासायनिक प्रक्रियाओं का अपशिष्ट जल ।

जल प्रदूषण के प्रभाव

जल प्रदूषण से व्यक्ति ही नहीं अपितु पशु-पक्षी एवं मछली भी प्रभावित होते हैं । प्रदूषित जल पीने, पुनःसृजन कृषि तथा उद्योगों आदि के लिए भी उपयुक्त नहीं हैं । यह झीलों एवं नदियों की सुन्दरता को कम करता है । संदूषित जल, जलीय जीवन को समाप्त करता है तथा इसकी प्रजनन - शक्ति को क्षीण करता है ।

जल प्रदूषण का स्वास्थ्य पर प्रभाव

जलजनित रोग संक्रामक रोग होते हैं जो मुख्यतः संदूषित जल से फैलते हैं । हिपेटाईटिस, हैजा, पेचिश तथा टाइफाईड आम जलजनित रोग है, जिनसे उष्णकटिबंधीय क्षेत्र के बहुसंख्यक लोग प्रभावित होते हैं । प्रदूषित जल के संपर्क से अतिसार, त्वचा संबंधी रोग, श्वास समस्यांए तथा अन्य रोग हो सकते है जो जल निकायों में मौजूद प्रदूषकों के कारण होते है । जल के स्थिर तथा अनुपचारित होने से मच्छर तथा अन्य कई परजीवी कीट आदि उत्पन्न होते है जो विशेषतः उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में कई बिमारियाँ फैलाते हैं ।

 

स्रोत: नदी विकास और गंगा संरक्षण, जल संसाधन मंत्रालय, भारत सरकार

2.98863636364

Uday.kumar Jun 25, 2019 02:33 PM

v.v.good.अनुवाद

Pratap. Singh Feb 13, 2019 06:51 PM

Thanks. Water ko p radushan mukt. Ka

अपना सुझाव दें

(यदि दी गई विषय सामग्री पर आपके पास कोई सुझाव/टिप्पणी है तो कृपया उसे यहां लिखें ।)

Enter the word
नेवीगेशन
संबंधित भाषाएँ
Back to top

T612019/10/14 10:49:39.340127 GMT+0530

T622019/10/14 10:49:39.361553 GMT+0530

T632019/10/14 10:49:39.362418 GMT+0530

T642019/10/14 10:49:39.362723 GMT+0530

T12019/10/14 10:49:39.316352 GMT+0530

T22019/10/14 10:49:39.316522 GMT+0530

T32019/10/14 10:49:39.316679 GMT+0530

T42019/10/14 10:49:39.316818 GMT+0530

T52019/10/14 10:49:39.316914 GMT+0530

T62019/10/14 10:49:39.316998 GMT+0530

T72019/10/14 10:49:39.317783 GMT+0530

T82019/10/14 10:49:39.317993 GMT+0530

T92019/10/14 10:49:39.318208 GMT+0530

T102019/10/14 10:49:39.318441 GMT+0530

T112019/10/14 10:49:39.318488 GMT+0530

T122019/10/14 10:49:39.318582 GMT+0530