सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

होम (घर) / समाज कल्याण / पिछड़ा वर्ग कल्याण / आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के बच्चों के लिए आर्थिक सहायता
शेयर
Views
  • अवस्था संपादित करने के स्वीकृत

आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के बच्चों के लिए आर्थिक सहायता

इस पृष्ठ में आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के बच्चों के लिए आर्थिक सहायता के विषय में जानकारी दी गयी है I

योजनायें

सामाजिक न्याय एवं आधिकारिता मंत्रालय द्वारा आर्थिक रूप से पिछड़े वर्गों के सशक्तीकरण के लिए वर्ष 2014-15 से निम्नलिखित दो योजनाएं संचालित की जा रही हैं –

  1. आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के छात्रों के लिए केन्द्र प्रायोजित डॉ. अंबेडकर मैट्रिक उपरांत (पोस्ट मैट्रिक) छात्रवृत्ति योजना
  2. अन्य पिछड़ा वर्ग और आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के छात्रों के लिए विदेश में जाकर अध्ययन करने के लिए डॉ. अंबेडकर केन्द्रीय क्षेत्र की शिक्षा ऋण पर ब्याज सब्सिडी योजना।

आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के छात्रों के लिए योजनाओं का संक्षिप्त विवरण

आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के छात्रों के लिए केन्द्र प्रायोजित डॉ. अंबेडकर मैट्रिक उपरांत (पोस्ट मैट्रिक) छात्रवृत्ति योजना

यह एक केन्द्र प्रायोजित योजना है जिसे राज्य सरकारों एवं केन्द्र शासित प्रदेशों द्वारा लागू किया जा रहा है। योजना का उद्देश्य आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के मैट्रिक उपरांत अथवा माध्यमिक स्तर के उपरांत पढ़ने वाले छात्रों को आर्थिक सहायता उपलब्ध कराना है। इस योजना के अंतर्गत पात्र होने के लिए माता-पिता/अभिभावक की आय की अधिकमत सीमा प्रति वर्ष एक लाख रुपये है (यदि नियोजित है, तो स्व-आय सहित)।

हॉस्टल में रहने वाले छात्रों के लिए विभिन्न मैट्रिक उपरांत पाठ्यक्रमों की छात्रवृत्ति दर 750 रुपये प्रतिमाह और 260 रुपये प्रतिमाह के बीच है। जबकि स्थानीय छात्रों के लिए छात्रवृत्ति की यह दर 160 रुपये प्रतिमाह से लेकर 350 रुपये प्रतिमाह है। इस छात्रवृत्ति में 900 रुपये प्रति वर्ष की दर से शिक्षा यात्रा भत्ता (वास्तविक व्यय के अनुरूप), 1000 रुपये प्रतिवर्ष (अधिकतम) शोध टंकण एवं मुद्रण शुल्क, दूरवर्ती पाठ्यक्रमों के लिए 900 रुपये प्रतिवर्ष पुस्तक भत्ता और दृष्टिहीन छात्रों के लिए सहायक भत्ता 90 रुपये से लेकर 175 रुपये प्रतिमाह तक शामिल है।

अन्य पिछड़ा वर्ग और आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के छात्रों के लिए विदेश में जाकर अध्ययन करने के लिए डॉ. अंबेडकर केन्द्रीय क्षेत्र की शिक्षा ऋण पर ब्याज सब्सिडी योजना

इस योजना का उद्देश्य अन्य पिछड़ा वर्ग और आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के मेधावी छात्रों को विदेशों में उच्च शिक्षा के प्राप्त करने के लिए बेहतर अवसर उपलब्ध कराना और उनमें रोज़गार क्षमता का विकास करने के लिए ब्याज सब्सिडी प्रदान करना है।

इस योजना के अंतर्गत पात्रता के लिए अन्य पिछड़ा वर्ग के छात्रों की सालाना आय अधिकतम 3 लाख रुपये और आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के छात्रों की वार्षिक आय अधिकतम 1 लाख रुपये होनी चाहिए। योजना के तहत 50 फीसदी राशि छात्राओं के लिए निर्धारित की गई है।

यह जानकारी पत्र सूचना कार्यालय द्वारा केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री श्री कृष्ण पाल गुर्जर से राज्यसभा में पूछे गए एक सवाल के लिखित जवाब के रूप में दी।

 

स्रोत: पत्र सूचना कार्यालय, भारत सरकार

3.33333333333

इंद्रभान Sep 05, 2018 02:56 PM

ग्राम लढूपुर चकरपुर में कई बरसों से यानी कई सालों से नल की व्यवस्था नहीं की जा रही है परिवार में 30 वोट हैं फिर भी कोई सुनवाई नहीं की जा रही है कम से कम डेढ़ सौ साल हो गए होंगे इसका जवाब कब मिलेगा

Vinod yadav Aug 30, 2018 05:30 PM

Mai apna bijness krna chahta hoo agr hme aap logo se 5lakh ka yogdan mil jaa to hm aap ahsan kbhi nhi bhulooga Aur aap ki bhut kripa hogi

Deepak Aug 24, 2018 12:16 AM

क्या आप लोग अपना काम सही से कर रहे हो मुझे तो विश्वास नहीं हे की घुश दिए काम भी होता होगा

सुनील Aug 09, 2018 08:46 PM

सब्सिटी लोन योजना

सुनील Aug 09, 2018 08:43 PM

सहकारी कर्मचारी अपना काम तरीकेसे नही कर रहे है

Sachin verma Jul 13, 2018 10:20 PM

80000per year keep yogana keep veb sit kab chalu hogi

अपना सुझाव दें

(यदि दी गई विषय सामग्री पर आपके पास कोई सुझाव/टिप्पणी है तो कृपया उसे यहां लिखें ।)

Enter the word
नेवीगेशन
संबंधित भाषाएँ
Back to top

T612018/09/19 17:10:15.648447 GMT+0530

T622018/09/19 17:10:15.690348 GMT+0530

T632018/09/19 17:10:15.691072 GMT+0530

T642018/09/19 17:10:15.691365 GMT+0530

T12018/09/19 17:10:15.624249 GMT+0530

T22018/09/19 17:10:15.624454 GMT+0530

T32018/09/19 17:10:15.624618 GMT+0530

T42018/09/19 17:10:15.624764 GMT+0530

T52018/09/19 17:10:15.624872 GMT+0530

T62018/09/19 17:10:15.624951 GMT+0530

T72018/09/19 17:10:15.625696 GMT+0530

T82018/09/19 17:10:15.625896 GMT+0530

T92018/09/19 17:10:15.626121 GMT+0530

T102018/09/19 17:10:15.626346 GMT+0530

T112018/09/19 17:10:15.626398 GMT+0530

T122018/09/19 17:10:15.626494 GMT+0530