सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

शेयर
Views
  • अवस्था संपादित करने के स्वीकृत

आपूर्ति का अर्थ तथा संभावना

इस पृष्ठ में जी.एस.टी.में आवश्यक आपूर्ति का अर्थ तथा संभावना की जानकारी दी गयी है।

जी.एस.टी. के अंतर्गत कराधीन घटना क्या है?

जी.एस.टी. के अंतर्गत कराधीन घटना किसी प्रतिफल के प्रयोजन से वस्तुओं और/या सेवाओं या व्यापार को आगे बढ़ाने के लिये की गई आपूर्ति होगी। प्रचलित अप्रत्यक्ष कर कानूनों के अंतर्गत कराधीन घटनाएं जैसे विनिर्माण, बिक्री, या सेवाओं के प्रावधानों को कराधीन घटना जिसे आपूर्ति के रूप में कहा जाता है, उसमें सम्मिलित किये जाएंगे।

आपूर्ति का क्या अर्थ है?

शब्द 'आपूर्ति बहुत व्यापक शब्द है और इसमें वस्तुओं और/या सेवाओं की आपूर्ति के सभी रूप जैसे बिक्री, स्थानांतरण, वस्तु विनिमय, अदला-बदली, लाइसेंस, किराया, पट्टा या निपटान करना या करने के विचार पर एक व्यक्ति द्वारा उसके व्यापार को आगे बढ़ाने के प्रयोजन के लिये सहमति देना शामिल है। इसमें सेवाओं का आयात भी शामिल है। मॉडल जी.एस.टी. कानून आपूर्ति के दायरे के भीतर बिना प्रतिफल के कुछ लेनदेन को शामिल करने की भी व्यवस्था प्रदान करता है ।

एक कराधीन आपूर्ति क्या है?

एक कराधीन आपूर्ति' का अर्थ वस्तुओं और/या सेवाओं की आपूर्ति है जिसपर जी.एस.टी. अधिनियम के अंतर्गत वस्तुओं एवं सेवाओं के अंतर्गत कर देय होता है।

वे कौन से आवश्यक तत्व होते हैं जो सी.जी.एस.टी./एस.जी. एस.टी. अधिनियम के अंर्तगत आपूर्ति का गठन करते हैं?

आदेश में एक 'आपूर्ति' का गठन करने के लिए निम्न तत्वों को संतुष्ट करना आवश्यक हैं, यानि –

(i) ऐसी गतिविधियाँ जिसमें वस्तु या सेवाएँ या दोनों की आपूर्ति शामिल हो;

(ii) आपूर्ति माना जाएगा बशर्त विशेष रूप से प्रदान किया गया हो;

(iii) व्यापार के कम में या व्यापार को आगे बढ़ाने के प्रयोजन के लिये की गई आपूर्ति

(iv) आपूर्ति कराधीन क्षेत्र में की गई है;

(v) आपूर्ति कराधीन आपूर्ति है; तथा

(vi) आपूर्ति कराधीन व्यक्ति द्वारा की गई है।

क्या एक लेनदेन जिसमें एक या उससे अधिक उपरोक्त मानदंडों को पूरा नहीं किया गया है, अभी भी जी.एस.टी. के अंतर्गत उसे आपूर्ति माना जा सकता है?

हाँ, कुछ परिस्थितियों के अंतर्गत जैसे सेवाओं के आयात (धारा 3(1)(ख) या बिना प्रतिफल के की गई आपूर्ति, सीजीएसटी/एसजीएसटी अधिनियम की अनुसूची-I के अंतर्गत निर्दिष्ट की गई है, जहां प्रश्न 4 में पूछे गये उत्तर में निर्दिष्ट एक या एक से अधिक सामग्री संतुष्ट नहीं हैं, इसे फिर भी जी.एस.टी. कानून के अंतर्गत आपूर्ति माना जायेगा।

धारा 3 की अनुपस्थिति में वस्तुओं का आयात सुस्पष्ट है। क्यों?

वस्तुओं के आयात को सीमा शुल्क अधिनियम, 1962 के अंतर्गत अलग से निपटा जाता है, जिसमें अतिरिक्त सीमा शुल्क के स्थान पर आई.जी.एस.टी. को सीमा शुल्क टेरिफ अधिनियम, 1975 के अंतर्गत बुनियादी सीमा शुल्क के साथ लगाया जाएगा।

क्या निजी-आपूर्ति जी.एस.टी. के अंर्तगत कराधीन है?

अंतर्राज्यीय स्वयं आपूर्तियां जैसे स्टॉक ट्रांसफर, ब्रांच ट्रांसफर या कसाइनमेन्ट बिक्री आईजी.एस.टी को अन्तर्गत कर योगय होगी, यद्यपि इस तरह के लेन-देन में प्रतिफल का भुगतान शामिल नहीं हो सकता है। हर आपूर्तिकर्ता जी.एस.टी कानून के अन्तर्गत या उस राज्य या संघीय क्षेत्र में पंजीकृत होने के लिए उत्तरदायी होगा, जहाँ से वह मॉडल जी.एस.टी. लॉ की धारा 22 के अन्तर्गत माल या सेव या दोनों की आपूर्ति करता है। हालांकि व्यापार उहर्वाधर के रूप में पंजीकरण के लिए चयन नहीं करने के विषय में आन्तरिक राज्य स्वयं आपूर्तियाँ कर योग्य नहीं है।

क्या माल की आपूर्ति गठित करने के लिए शीर्षक और/या कब्जे का हस्तांतरण एक लेनदेन के लिये आवश्यक है?

एक लेनदेन के लिये शीर्षक के साथ ही साथ कब्जा दोनों को ही वस्तुओं की आपूर्ति के रूप में विचार किया जाना चाहिये यदि नाम का हस्तांतरण नहीं किया गया है, लेनदेन को अनुसूची II (1) (b) के अनुसार सेवाओं की आपूर्ति माना जायेगा। कुछ मामलों में, कब्जे को तुरन्त हस्तांतरित किया जा सकता है लेकिन नाम को भविष्य की तारीख में हस्तांतरित किया जा सकता है जैसे स्वीकृति के आधार पर बिक्री के मामले में या किराया खरीद व्यवस्था की तरह। ऐसे लेन-देनों को भी माल की आपूर्ति के रूप में कह जाएगा ।

कार्यान्वित करने या व्यापार को आगे बढ़ाने के क्रम में की गई आपूर्ति से क्या मतलब हैं?

व्यवसाय को धारा 2(17) के तहत परिभाषित किया गया है जिसमें व्यापार, वाणिज्य, निर्माण, पेशे व्यवसाय आदि शामिल हैं व्यापार में कोई भी गतिविधि या लेन-देन में शामिल है जो उपयुक्त गतिविधियों के लिए आकस्मिक और सहायक है। इसके अलावा कोई

सरकार द्वारा किये गये किसी भी गतिविधि या एक राज्य सरकार या किसी भी स्थानीय प्राधिकारी जिसमें वे सार्वजनिक प्राधिकरण के रूप में कार्यरत है, उन्हें व्यवसाय के रूप में परिभाषित जाएगा। उपरोक्त से यह ध्यान दिया जा सकता है कि जी.एस.टी कानून के तहत किसी भी गतिविधि को आगे बढ़ावा देने की परिभाषा में शामिल किया जा सकता है ।

एक व्यक्ति निजी इस्तेमाल के लिए एक कार खरीदता है और एक साल के बाद उसे डीलर को बेच देता है। क्या वह लेनदेन सीजीएसटी/एसजीएसटी के अनुसार आपूर्ति होगा?

नहीं, क्योंकि व्यक्ति द्वारा आपूर्ति व्यापार या व्यापार को आगे बढ़ाने के क्रम में नहीं की गई थी। इसके अतिरिक्त, कोई इनपुट टेक्स क्रेडिट स्वीकार्य नहीं था, उक्त कार को अधिग्रहण करने पर क्योंकि यह गैर-व्यावसायिक उपयोग के लिए किया गया था।

एक एयर कडीशनर का व्यापारी अपने व्यापार के स्टॉक से अपने आवास पर निजी इस्तेमाल के लिए एक एयर कडीशनर स्थानांतरित करता है। क्या वह लेन-देन आपूर्ति माना जाएगा?

जी हां, अनुसूची–I की क्रम संख्या 1 के अनुसार व्यापारिक परिसम्पतियों का स्थायी स्थानान्तरण या निपटान जहाँ सम्पति पर इनपुट टैक्स क्रेडिट के रूप में लिया गया है, जी.एस.टी के तहत एक आपूर्ति का गठन करेगा जहाँ कोई भी प्रतिफल शामिल नहीं हे ।

क्या एक क्लब या संघ या सोसाइटी द्वारा अपने सदस्यों को सेवाओं या वस्तुओं की व्यवस्था करना आपूर्ति के रूप में माना जाएगा?

हाँ। एक क्लब, संघ, सोसाइटी या किसी भी ऐसे निकाय के द्वारा अपने सदस्यों को सुविधाओं की व्यवस्था करना एक आपूर्ति के रूप में माना जायेगा । इसे सीजीएसटी/एसजीएसटी के अधिनियम की धारा 2(17) में 'व्यापार की परिभाषा में शामिल किया गया है।

जी.एस.टी कानून के अन्तर्गत विभिन्न प्रकार की आपूर्तियाँ क्या है?

(1) कर योग्य एवं छूट वाली आपूर्ति (ii) अन्तर्राज्यीय और आंतरिक राज्य की आपूर्ति (iii) समग्र और मिश्रित आपूर्ति और (iv) शून्य रेटेड आपूर्ति।

अंतर-राज्य आपूर्ति और राज्य के भीतर (राज्यान्तरिक) आपूर्ति क्या हैं?

अंतर-राज्य और राज्य के भीतर आपूर्ति को विशेष रूप से आईजीएसटी अधिनियम की धारा 7(1), 7(2) और 8(1), 8(2) में कमशः परिभाषित किया गया है। सरल शब्दों में, जहां आपूर्तिकर्ता का स्थान और आपूर्ति का स्थान एक ही राज्य में स्थित है उसे राज्य के भीतर और जहां यह अलग-अलग राज्यों में है इसे अंतर-राज्य आपूर्ति माना जायेगा।

क्या वस्तुओं के उपयोग करने के अधिकार का हस्तांतरण वस्तुओं या सेवाओं की आपूर्ति के रूप में माना जाएगा? क्यों?

वस्तुओं के उपयोग के अधिकार के हस्तांतरण को सेवाओं की आपूर्ति के रूप में माना जायेगा क्योंकि इस प्रकार के हस्तांतरण में वस्तुओं का शीर्षक/नाम हस्तांतरित नहीं हुआ। इस तरह के लेन-देन को विशेष रूप से एम.जी.एल. की अनुसूची-II में सेवा की आपूर्ति के रूप में माना जायेगा।

क्या काम के अनुबंधों और केटरिंग सेवाओं को वस्तुओं और सेवाओं की आपूर्ति के रूप में माना जाएगा? क्यों?

काम के अनुबंध और केटरिंग सेवाओं को सीजीएसटी/ एसजीएसटी अधिनियम की अनुसूची-II में निर्दिष्ट किये अनुसार सेवाओं की आपूर्ति के रूप में माना जाएगा।

क्या सॉफ्टवेयर की आपूर्ति जी.एस.टी कानून के अन्तर्गत माल की आपूर्ति या सेवाओं की आपूर्ति के रूप में की जाएगी?

मॉडल जी.एस.टी कानून की अनूसूची- । की क्र.सं. 5(2) (डी) सूचना प्रोद्योगिकी सॉफ्टवेयर के कार्यान्वयन को सूचीबद्ध सेवाओं की आपूर्ति के रूप में माना जाएगा।

क्या किराया खरीद आधार पर वस्तुओं की आपूर्ति को वस्तुओं की आपूर्ति या सेवाओं की आपूर्ति माना जायेगा? क्यों?

किराया खरीद पर की गई वस्तुओं की आपूर्ति को वस्तुओं की आपूर्ति माना जायेगा क्योंकि इसमें शीर्षक/नाम का हस्तांतरण हुआ है, हालांकि भविष्य की तारीख पर।

सी.जी.एस.टी./एस.जी.एस.टी/यूटी.जी.एस.टी अधिनियम के तहत एक समग्र आपूर्ति क्या है?

समग्र आपूर्ति का अर्थ है ऐसी आपूर्ति जो एक कर योग्य व्यक्ति द्वारा किसी ऐसे प्राप्तकर्ता को जो दो या अधिक आपूर्ति या सेवाओं की आपूर्ति, या उसके किसी भी संयोजन जो कि स्वभाविक रूप से इकट्ठा करके और व्यापार के सामान्य अनुक्रम में एक दूसरे के साथ मिलकर आपूर्ति की गई, जिनमें से एक प्रमुख आपूर्ति है। उदाहरण के लिए, जहाँ सामान पैक किया जाता है और बीमा के साथ निर्यात किया जाता है, माल की आपूर्ति, पैकिंग सामग्री, परिवहन और बीमा एक समग्र आपूर्ति है और माल की आपूर्ति एक प्रमुख आपूर्ति है।

जी.एस.टी. के तहत समग्र आपूर्ति पर कर देयता कैसे निर्धारित की जाएगी।

एक संयुक्त आपूर्ति जिसमें दो या अधिक आपूर्तियाँ शामिल है, जिनमें से एक प्रमुख आपूर्ति है, को इस तरह के प्रमुख आपूर्ति को आपूर्ति के रूप में माना जाएगा।

मिश्रित आपूर्ति क्या है?

मिश्रित आपूर्ति का मतलब माल या सेवाओं या उसके किसी भी संयोजन की दो या दो से अधिक व्यक्तिगत आपूर्ति, एक एकल मूल्य के लिए कर योग्य व्यक्ति द्वारा एक दूसरे के साथ मिलकर किया जाता है, जहाँ ऐसी आपूर्ति एक समग्र आपूर्ति का गठन नहीं करती है। उदाहरण के लिए डिब्बाबंद खाद्य पदार्थ, मिठाई, चॉकलेट, केक, ड्राइफूट, वातित पेय पदार्थ की आपूर्ति और फलों का रस जब एक ही कीमत के लिए आपूर्ति की जाती है तब मिश्रित आपूर्ति होती है। इनमें से प्रत्येक सामान की अलग से आपूर्ति की जा सकती है और यह किसी भी अन्य पर निर्भर नहीं है। यदि इन मदों की अलग से आपूर्ति की जाती है तो यह मिश्रित आपूर्ति नहीं होगी।

मिश्रित आपूर्ति पर जी.एस.टी के तहत कर निर्धारित कैसे किया जाएगा।

एक मिश्रित आपूर्ति जिसमें दो या अधिक आपूर्तियाँ शामिल है, उन्हें विशेष आपूर्ति के रूप में माना जाएगा जो कर की उच्चतम दर आकर्षित करती हो।

क्या कोई ऐसी गतिविधियाँ है जिन्हें न तो माल की आपूर्ति और न ही सेवाओं की आपूर्ति के रूप में माना जाता है।

हाँ, मॉडल जी.एस.टी कानून के अनुसूची- । में कुछ गतिविधियों की सूची है। जैसे कि- (i) किसी कर्मचारी द्वारा अपने नियोक्ता को अपने रोजगार के अनुक्रम में या उसके सम्बन्ध में। (ii) किसी भी कानून के तहत स्थापित किसी न्यायालय या न्यायाधिकरण द्वारा सेवाएँ। (iii) संसद सदस्यों, राज्य विधान सभाओं, स्थानीय अधिकारियों के सदस्यों तथा संवैधानिक कार्यकर्ताओं द्वारा किये गये कार्य। (iv) अंतिम संस्कार, दफन, शमशान, या मुर्दाघर और (v) भूमि की बिक्री और (vi) लॉटरी, सट्टेबाजी और जुआ के अलावा दावेदार दावे न तो माल की आपूर्ति और न ही सेवाओं की आपूर्ति माना जाएगा ।

जी.एस.टी के तहत शून्य रेटेड सप्लाई से क्या मतलब है?

शून्य रेटेड सप्लाई से तात्पर्य है माल और/या सेवाओं का निर्यात या एसईजेड डवलपर एसईजेड यूनिट को माल या सेवाओं की आपूर्ति।

क्या बिना प्रतिफल के सेवाओं का आयात कर योग्य होगा?

एक सामान्य सिद्धांत के रूप में बिना किसी प्रतिफल के धारा 3 के अन्तर्गत सेवाओं के आयात को जी.एस.टी. के अन्तर्गत आपूर्ति के रूप में नहीं माना जाएगा। हालांकि, एक कर योग्य व्यक्ति द्वारा भारत के बाहर से किसी सम्बन्धित व्याक्ति से या किसी भी अन्य प्रतिष्ठा से व्यापार थे अनुक्रम या प्रगति में बिना प्रतिफल थे किये गये आयात थे अनूसूर्या-1 के क्र0 स0 4 के अन्र्तगत आपूर्ति थे रुप मे माना जायेगा।

स्रोत: भारत सरकार का केंद्रीय उत्पाद व सीमा शुल्क बोर्ड, राजस्व विभाग, वित्त मंत्रालय

3.0

अपना सुझाव दें

(यदि दी गई विषय सामग्री पर आपके पास कोई सुझाव/टिप्पणी है तो कृपया उसे यहां लिखें ।)

Enter the word
नेवीगेशन
संबंधित भाषाएँ
Back to top

T612019/08/22 01:26:50.393902 GMT+0530

T622019/08/22 01:26:50.425547 GMT+0530

T632019/08/22 01:26:50.426257 GMT+0530

T642019/08/22 01:26:50.426521 GMT+0530

T12019/08/22 01:26:50.369180 GMT+0530

T22019/08/22 01:26:50.369369 GMT+0530

T32019/08/22 01:26:50.369507 GMT+0530

T42019/08/22 01:26:50.369641 GMT+0530

T52019/08/22 01:26:50.369729 GMT+0530

T62019/08/22 01:26:50.369803 GMT+0530

T72019/08/22 01:26:50.370509 GMT+0530

T82019/08/22 01:26:50.370694 GMT+0530

T92019/08/22 01:26:50.370925 GMT+0530

T102019/08/22 01:26:50.371137 GMT+0530

T112019/08/22 01:26:50.371181 GMT+0530

T122019/08/22 01:26:50.371271 GMT+0530