सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

होम (घर) / समाज कल्याण / चर्चा का मंच-समाज कल्याण / दूसरे शहरों में घरेलू कामकाज करने वाली हमारी बेटियां कितनी सुरक्षित?
शेयर

दूसरे शहरों में घरेलू कामकाज करने वाली हमारी बेटियां कितनी सुरक्षित? मंच

दिल्ली के वसंत कुंज इलाके से बचायी गई आदिवासी लड़की, घरों में काम करने और अपने परिवार की मदद करने के सोच को लेकर राज्य से बाहर गयी थी। उसका और उसकी जैसी कई अमानवीय व्यहवार झेल चुकी लड़कियों को देखकर नहीं लगता है कि हमे अपने राज्य की बेटियों के प्रति संवेदनशील बनना चाहिए और राज्य में ही इनके लिए रोज़गार के अवसर मुहैया कराए जाएं? चर्चा में शामिल हों।

इस मंच पर 1 चर्चाएं हैं।

चल रही चर्चाओं में भाग लेने के लिए नीचे दी गई सूची में से प्रासंगिक चर्चा विषय का चयन करें।

चर्चा के विषय चर्चा शुरु की गई उत्तर हाल ही में की गई चर्चाएं
दूसरे शहरों में घरेलू कामकाज करने वाली हमारी बेटियां कितनी सुरक्षित? द्वारा XISS 7 द्वारा Anonymous User April 06. 2016

नेवीगेशन
Back to top

T612019/06/16 15:57:45.711564 GMT+0530

T622019/06/16 15:57:45.734095 GMT+0530

T632019/06/16 15:57:45.734697 GMT+0530

T642019/06/16 15:57:45.735039 GMT+0530

T12019/06/16 15:57:45.681805 GMT+0530

T22019/06/16 15:57:45.682098 GMT+0530

T32019/06/16 15:57:45.682286 GMT+0530

T42019/06/16 15:57:45.682450 GMT+0530

T52019/06/16 15:57:45.682544 GMT+0530

T62019/06/16 15:57:45.682626 GMT+0530

T72019/06/16 15:57:45.683482 GMT+0530

T82019/06/16 15:57:45.683686 GMT+0530

T92019/06/16 15:57:45.683910 GMT+0530

T102019/06/16 15:57:45.684157 GMT+0530

T112019/06/16 15:57:45.684207 GMT+0530

T122019/06/16 15:57:45.684316 GMT+0530