অসমীয়া   বাংলা   बोड़ो   डोगरी   ગુજરાતી   ಕನ್ನಡ   كأشُر   कोंकणी   संथाली   মনিপুরি   नेपाली   ଓରିୟା   ਪੰਜਾਬੀ   संस्कृत   தமிழ்  తెలుగు   ردو

भारतीय विकास प्रवेशद्वार-उत्पाद व सेवाएँ

परिचय

भारत विकास प्रवेशद्वार विभिन्न उत्पादों और सेवाओं के विकास के लिए हितधारकों के साथ विभिन्न स्तरों पर सक्रिय रुप से संलग्न रहा है। इसी क्रम में व्यापार का विकास एक ऑनलाइन खरीदार और विक्रेता के बाजार मंच के रूप में किया गया है जहां कृषि उत्पादों से रियल इस्टेट से जुड़े उत्पादों को खरीदा और बेचा सकता है।  भारतीय विकास द्वार विकसित विशेषज्ञ से पूछे उत्पाद में चयनित विषयों और भारतीय भाषाओं में विशेषज्ञ से विभिन्न प्रश्नों के समाधान विशेषज्ञ सलाह के रुप में प्राप्त किये जा सकते हैं। वित्तीय समावेशन के अंतर्गत वित्तीय समावेशन-साक्षारता का पाठ्यक्रम में पंजीकृत होकर उसका नि:शुल्क लाभ लिया जा सकता है। इन के अलावा, आप आईएनडीजी द्वारा ऑफलाईन स्तर पर तैयार सभी उत्पाद और सेवाओं का विवरण और उसे कहां से प्राप्त किया जा सकता है इसकी जानकारी प्राप्त होगी।

ई-व्यापार: एक बहुभाषी क्रेता-विक्रेता मंच

ई-व्यापार एक क्रेता-विक्रेता मंच है जो क्रेता और विक्रेता के बीच सूचनाओं का आदान-प्रदान करने के लिए किया गया है। इसलिए यह मंच ग्रामीण समुदाय के बीच अपने उत्पादों को बेचने के लिए एक आभासी बाजार के रूप में कार्य करता है।

ई-व्यापार की सुविधाएं

  • वेब आधारित एप्लीकेशन
  • स्थानीय भाषा समर्थन
  • विभिन्न विशेषाधिकारों के साथ अनेक हितधारक
  • उन्नत सर्च इंज़न की विकल्प अर्थात श्रेणी आधारित, क्षेत्र विशेष,भाषा विशेष आदि
  • लेन-देन समर्थन प्रणाली,नवीनतम समाचारों के साथ

देखें क्रेता-विक्रेता ई-व्यापार मंच के बारे में ज्यादा जानने के लिए

आस्क एन एक्सपर्ट

आस्क एन एक्सपर्टएक मंच है जो भारतीय भाषाओं में चयनित विषयों पर और पूछे गये प्रश्नों पर चयनित डोमेन विशेषज्ञ के समाधान उपलब्ध कराता है। प्रगत संगणन विकास केंद्र हैदराबाद द्वारा विकसित "आस्क एन एक्सपर्ट" उपयोगकर्ता को एक ऐसा माध्यम है जिससे वह अपने सवालों के जवाब के साथ ज्ञान या महत्वपूर्ण जानकारियों को समांतर रुप से आपस में बांटते भी हैं।

आस्क एन एक्सपर्टकी सुविधाएं

  • वेब आधारित
  • छह भारतीय भाषाओं में उपलब्ध
  • स्थानीय भाषाओं में टाइपिंग के लिए कीबोर्ड की सहायता
  • नामांकन और विशेषज्ञ सत्यापन की सरल प्रक्रिया

देखें आस्क एन एक्सपर्ट के बारे में ज्यादा जानने के लिए

    ई-लर्निंग पाठ्यक्रम

    भारत विकास प्रवेशद्वार ऑनलाइन पाठ्यक्रम एक बहुभाषी ई-लर्निंग मंच है जो कि सी-डैक,हैदराबाद द्वारा विकसित ई-शिक्षक द्वारा समर्थित है। आज के समसामयिक विश्व में तेजी से बदलती प्रौद्योगिकी के बीच सीखना एक आजीवन प्रक्रिया बन  गई है ।  आज की दुनिया में सीखने वाले को कहीं भी सीखने,अपनी भाषा में सीखने और अपनी गति से सीखने की सुविधा प्रदान बहुत जरुरी हो गया है।  सुविधा से वंचित और जोखिम समुदाय के लिए ज्ञान और कौशल का विकास करने लिए सीडैक ने ई-लर्निंग मंच को अनुकूल स्वरुप प्रदान कर भारतीय विकास प्रवेश द्वार के भाग के रुप शुरु किया है।

    ई-लर्निंग पाठ्यक्रम की विशेषताएं

    • 10 भारतीय भाषाओं में पाठ्यक्रम उपलब्ध
    • राष्ट्रीय स्तर की संस्था द्वारा विकसित पाठ्यक्रम सामग्री
    • पाठ्यक्रम शहरी क्षेत्रों के ग्रामीण और आदिवासी क्षेत्रों के अर्ध-साक्षर, लोगों के लिए टेली सेंटर(सीएससी,वीकेएस,वीआरसी,ई-पुस्तकालय और निजी इंटरनेट केंद्रों के लिए) के माध्यम से पेशकश

    वीएलई कॉर्नर

    वेब आधारिर इस मंच का विकास वीएलई समुदाय के बीच ज्ञान बांटने के लिए किया गया था। इस मंच का मुख्य उद्देश्य भारत भर में वीएलई को एक से परिचय करने का अवसर देने का साथ एक-दूसरे के बीच में अपने अनुभवों और सफलता के अनुभव साझा करने का अवसर देना है। इसके अलावा यह मंच विभिन्न अंतरालों पर महत्वपूर्ण संसाधन सामग्री उपलब्ध करा कर क्षमता को बढ़ाने की अवसर भी देता है।

    देखेंवीएलई कॉर्नर के बारे में ज्यादा जानने के लिए।

    अनुस्मारक(रिकॉलर)

    वित्तीय गतिविधियों के बेहतर प्रबंधन के लिए सूचना और प्रौद्योगिकी की मदद से सी-डैक एक वेब आधारित सेवा अनुस्मारक (रिकॉलर) का विकास किया गया है। यह केवल पंजीकृत उपयोगकर्ताओं को ईमेल द्वारा प्रमुख वित्तीय गतिविधियों को याद दिलाने और बेहतर तरीके से वित्तीय गतिविधियों का प्रबंधन करने में मदद प्रदान करता है।

    रिकॉलर के लाभ

    • अग्रिम में मेसेज प्राप्त होना और समय में अपनी वित्तीय गतिविधि को पूरा करना।
    • आप अपने वित्तीय रिकॉलर के मेसेज में जोड़, संपादित करना, हटाना और अक्षम जैसे कार्य आसानी से कर सकते हैं।
    • अपनी सभी वित्तीय गतिविधियों को पीडीएफ में लेकर आप अपनी वित्तीय क्षमता को भी जान सकते हैं ।
    • आप अपनी आवश्यकता के अनुसार एक दिन, एक सप्ताह, अपने नियत तारीख से पहले चार सप्ताह के आधार पर अपनी अनुस्मारक अनुसूची की प्राथमिकताएं निर्धारित कर सकते हैं।
      • यह नि:शुल्क सेवा है, आप इसे इस्तेमाल कर अपनी वित्तीय गतिविधियों का अनुभव प्राप्त कर सकते हैं।

      मल्टीमीडिया उत्पाद

      पोषाहार और स्वास्थ्य

      यह समेकित बहुभाषी सीडी भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद् (आईसीएमआर) के अंतर्गत कार्यरत अग्रणी पोषाहार संस्थान, राष्ट्रीय पोषण संस्थान (एनआईएन) की सहायता से विकसित की गई है। सीडी की सामग्री चार प्रमुख शीर्षों में रखी गई है- अपने भोजन को जानें, पोषहार की आवश्यकताएँ और उनके स्रोत, भोजन और बीमारियाँ एवं खाद्य सुरक्षा। यह सीडी सामुदायिक स्वास्थ्य कर्मियों, पारा मेडिकल कर्मियों और चिकित्सा पेशेवरों, छात्रों, गृहिणियों और उन सभी के लिए उपयोगी है जो खाये जानेवाले भोजन और स्वस्थ जीवन प्रणाली बनाये रखने में उनकी भूमिका के बारे में जानना चाहते हैं।

      यह सीडी इन भाषाओं में उपलब्ध है-

      1. अँग्रेजी-हिन्दी
      2. अँग्रेजी-तेलुगु
      3. अँग्रेजी-तमिल
      4. अँग्रेजी-मराठी
      5. अँग्रेजी-बांग्ला
      6. अँग्रेजी-असमिया

      कहाँ से प्राप्त करें

      • सीडी बिक्री के लिए निम्नलिखित स्थानों पर उपलब्ध है: प्रकाशन विंडो, ईटी डिवीजन, राष्ट्रीय पोषण संस्थान, आईसीएमआर, जामिया ओस्मानिया, पोस्ट- हैदराबाद- 500604, आँध्र प्रदेश, फोन नंबर: 040-26196345
      • प्रत्येक सीडी की कीमत 75.00 रुपये है।
      • सीडी- निदेशक, राष्ट्रीय पोषण संस्थान के नाम से देय और हैदराबाद में भुगतान 75.00 रुपए का डिमांड ड्राफ्ट भेजकर प्राप्त कर सकते हैं। सीडी को निबंधित वीपीपी द्वारा भेजा जाएगा।
      • वीपीपी शुल्क (केवल डाक का खर्च) प्राप्तकर्ता द्वारा वहन किया जाएगा।
      • अपने सवाल ninpub@hotmail.com को भेजें।

      औषधीय, सुगंधित और रंजक फसलों का उत्पादन

      यह अंतरसंवादीय सीडी वाणियिक रूप से महत्वपूर्ण 54 औषधीय, सुगंधित और रंजक फसलों के बारे में जानकारी देती है, जिसमें राष्ट्रीय औषधीय पादप बोर्ड द्वारा प्राथमिकताबद्ध फसलें शामिल हैं। इसमें उत्पादन, उत्पादों और विपणन की समग्र जानकारी स्थानीय भाषा में दी गई है।

      उपलब्ध भाषाएँ: हिन्दी - तेलुगु – तेलुगु- अँग्रेज़ी

      चावल उत्पादन में सहायक दिशा-निर्देश

      सीसीडी, मदुरै, तमिलनाडु के सहयोग से निर्मित यह मल्टीमीडिया सीडी आपदा के प्रभावों को कम करने की मुख्य आवश्यकता की चार सूत्री रणनीति पर दृष्टिपात करती है। इसे तमिलनाडु के कावेरी डेल्टा क्षेत्र के सुनामी प्रभावित किसानों के साथ चार वर्ष तक किए गए साझेदारी प्रयोगों के बाद तैयार किया गया है। सीडी में इन रणनीतियों को लागू करने में मददगार तरीकों का संक्षिप्त विवरण भी दिया गया है। इस मल्टीमीडिया संसाधन का उपयोग स्व-शिक्षण उपकरण और खेत में तैनात कर्मियों, शोधकर्ताओं और प्रसार अधिकारियों के प्रशिक्षण संसाधन के रूप में किया जा सकता है।

      उपलब्ध भाषाएँ: तमिल-अँग्रेज़ी

      सुस्थिर व्यवसायम

      यह उत्पाद कई रेखाचित्रों और खेत की दिशा के वीडियो के माध्यम से स्वस्थिर फसल उत्पादन से संबंधित है। यह किसानों और गैर सरकारी स्वयंसेवी संगठनों के लिए उपयोगी सामग्री है। सामग्री को सुस्थिर कृषि केंद्र और एसईआरपी, हैदराबाद के सहयोग से विकसित किया गया है।

      उपलब्ध भाषा: तेलुगु

      स्रोत: आईएनडीजी



      © 2006–2019 C–DAC.All content appearing on the vikaspedia portal is through collaborative effort of vikaspedia and its partners.We encourage you to use and share the content in a respectful and fair manner. Please leave all source links intact and adhere to applicable copyright and intellectual property guidelines and laws.
      English to Hindi Transliterate