অসমীয়া   বাংলা   बोड़ो   डोगरी   ગુજરાતી   ಕನ್ನಡ   كأشُر   कोंकणी   संथाली   মনিপুরি   नेपाली   ଓରିୟା   ਪੰਜਾਬੀ   संस्कृत   தமிழ்  తెలుగు   ردو

रेल बजट

विकास की रेल निजी पूँजी का भरोसा

न ज्यादा नयी रेल परियोजनाएँ और न ही किराये में कटौती का टोटका, रेल बजट इस बार केन्द्रित है  जर्जर रेलवे को पटरी पर लाने पर | उसे 21वीं सदी के अनुरूप आधुनिक बनाने और तकनीकी से लैस करने पर | यात्रा को ज्यादा सुविधाजनक व सुरक्षित बनाने पर | ट्रेनों की स्पीड बढ़ाने और माल ढूलाई के लिए अलग कॉरिडोर बनाने पर जोर है | इसके लिए जो पूँजी चाहिए, उसे सरकार निजी – विदेशी निवेशकों से जुटाएगी |

58 नयी ट्रेनें, स्पीड पर जोर सुरक्षा- सुविधा पर फोकस

नयी गाड़ियाँ

  • जनसाधारण, 5 प्रीमियम, 6 एसी, 27 एक्सप्रेस, 8 पैसेंजर, 2 मेमो और 5 डेमो ट्रेन

नौ मार्गों पर हाई स्पीड

  • दिल्ली कानपुर, दिल्ली – चंडीगढ़, दिल्ली- आगरा, चेन्नई- हैदराबाद, नागपुर- विलासपुर, मैसूर- चेन्नई, मुम्बई- गोवा, नागपुर-सिंकदराबाद
  • मुम्बई- अहमदाबाद के बीच पहली बुलेट ट्रेन

रेल लाइन

  • 18 नयी लाइनों के लिए सर्वे
  • केदारनाथ- बदरीनाथ सहित चार धाम आयेंगे रेल मानचित्र पर
  • कोयले के परिहवन, तीन लाइनों के निर्माण में तेजी

ऑनलाइन रेलवे

  • ऑनलाइन टिकट बुकिंग क्षमता बढ़ेगी, प्रति मिनट 7200 टिकट जारी की जायेंगी
  • टिकट बुकिंग की सुविधाएँ बढ़ेंगी, इन्टरनेट बुकिंग में भी होगा सुधार
  • पांच साल में रेलवे पूरी तरह से कंप्यूटरीकृत होगा |
  • चालू परियोजनाओं की स्थिति ऑनलाइन उपलब्ध करायी जायेगी
  • 25 लाख रूपए या उससे अधिक की खरीद के लिए इ-खरीद अनिवार्य
  • रेलवे भूमि की जिआइस मैपिंग और डिजिटलीकरण

कर्मचारी / भर्ती

  • रेलवे सुरक्षा बल में 4000 महिलाओं सहित 11000 सुरक्षाकर्मियों की भर्ती
  • स्टॉफ बेनिफिट फंड को 500 रूपए से बढ़ा कर 800 रूपए
  • दूरदराज के रेल कर्मचरियों के बच्चों को रेलटेल ओएफसी (आप्टिकल फाइबर केबल) के माध्यम शिक्षा
  • एसी रेल इंजन केबिनों की व्यवस्था के लिए अध्ययन
  • 28 लाख 850 करोड़ सरकार को पेंशन के लिए खर्च करने होंगे

बिहार का मिलीं आठ ट्रेनें

  1. अहमदाबाद – दरभंगा जनसाधारण एक्सप्रेस वाया सूरत
  2. जयनगर – मुम्बई जनसाधारण एक्सप्रेस
  3. सहरसा आनंद बिहार जनसाधारण एक्सप्रेस वाया मोतिहारी
  4. सहरसा अमृतसर जनसाधारण एक्सप्रेस
  5. अहमदाबाद – पटना एक्सप्रेस (सप्ताहिकी) वाया वाराणसी
  6. छपरा – मांडूआडीह (वाराणसी) सप्ताह में छह दिन) वाया बलिया
  7. कामख्या – कटरा एक्सप्रेस (सप्ताहिक) वाया दरभंगा
  8. छपरा- लखनऊ एक्सप्रेस (सप्ताह में तीन दिन) वाया बलिया

छह ट्रेनों का विस्तार

  1. सासाराम – आनंद बिहार विहार गरीब रथ – गया तक
  2. गोंदिया- मुजफ्फरपुर एक्स – बरौनी तक
  3. सोनपुर – कप्तानगंज पैसेंजर – गोरखपुर टी
  4. गोरखपुर – थावे पैसेंजर- सिवान तक
  5. बक्सर – मुगलसराय मेमू- वाराणसी तक
  6. झाझा पटना मेमू – जसीडिह तक

दो नयी लाइनों का सर्वेक्षण

  1. मुगलसराय – भभूआ वाया नौगढ़
  2. भभूआ – मून्देश्वरी

स्त्रोत: इंटरनेट, दैनिक समाचारपत्र



© 2006–2019 C–DAC.All content appearing on the vikaspedia portal is through collaborative effort of vikaspedia and its partners.We encourage you to use and share the content in a respectful and fair manner. Please leave all source links intact and adhere to applicable copyright and intellectual property guidelines and laws.
English to Hindi Transliterate