অসমীয়া   বাংলা   बोड़ो   डोगरी   ગુજરાતી   ಕನ್ನಡ   كأشُر   कोंकणी   संथाली   মনিপুরি   नेपाली   ଓରିୟା   ਪੰਜਾਬੀ   संस्कृत   தமிழ்  తెలుగు   ردو

बुनियादी बचत बैंक जमा खाता

एक नई शुरुआत

रिजर्व बैंक ने साधनविहीन लोगों के बड़े समुदाय को बैंकिंग के संजाल में शामिल करने के लिए बैंकिंग समुदाय से बुनियादी बचत बैंक जमा खाता (पूर्व नाम-नो-फ्रिल्स खाता) शुरु करने का आग्रह किया है। इस विचार को इस अहसास से बल मिला है कि देश में 70,000 बैंक शाखाएं होते हुए भी, जनसंख्या के एक बड़े वर्ग के लिए ऋण की कमी बनी हुई है।

ऐसा अनुमान है कि बुनियादी बचत बैंक जमा खाता(नो फ्रिल्स बैंक) अकाउंट, साधनविहीन लोगों को बैंकिंग की अवधारणा से परिचित कराने तथा लोगों के इस वर्ग को ऋण पर राशन देना कम करने के लिए एक नवीन साधन होगा।चूंकि हर बैंक को इन बुनियादी बचत बैंक जमा खाता (नो-फ्रिल्स खाता) को डिजाइन करने का विशेषाधिकार होगा, इनकी बुनियादी विशेषता होगी लेनदेन की सीमित सुविधाओं के साथ शून्य या बहुत कम शेष राशि।

सर्विसिंग की लागत के बारे में चिंता के बावजूद, कई अर्थशास्त्रियों का मानना है कि ऋण पर राशन देने की समस्या से मुकाबला करने और देश में साधनविहीन लोगों के बड़े वर्ग को बेहद जरूरी ऋण उपलब्ध कराने के लिए यह कारगर साधन हो सकता है।

उदाहरण : एसबीआई बुनियादी बचत बैंक जमा खाता

जनसंख्या के विशाल वर्ग के उन व्यक्तियों की ज़रूरतों को पूरा करने के लिए यह खाता बहुत कम न्यूनतम शेष राशि के साथ कम/शून्य शुल्क पर खोला जाता है, जो अन्यथा हमारी मौजूदा बचत बैंक खाता आवश्यकताओं की कुछ शर्तों को पूरा नहीं कर पाते हैं। इसका विवरण निम्नानुसार है:

पात्रता:18 साल तथा उससे अधिक आयु के व्यक्ति जिनकी सकल आय रु.5000/- प्रति माह या उससे कम हो.
संचालन की विधि: एकल/संयुक्त
प्रारंभिक जमा राशि: खाता खोलने के लिए रु .50 / -
न्यूनतम शेष: शून्य
अधिकतम शेष/राशि: रु.10, 000 / -, खाताधारक के व्यापार संपर्क का कुल मूल्य, अन्य जमा खातों सहित.
ब्याज की दर: जैसा कि बचत बैंक खाते के लिए लागू, अर्थात् 3.5% वार्षिक
चैक सुविधा: उपलब्ध है.
एटीएम सह डेबिट कार्ड:मुफ़्त जारी किए जाएंगे.
इंटरनेट बैंकिंग सुविधा: उपलब्ध नहीं
खातों की संख्या: आम तौर पर एक ग्राहक को एक से अधिक ‘नो-फ्रिल्स’ खाता खोलने के लिए अनुमति नहीं दी जाएगी.
पास बुक: जारी की जाएगी, महीने की 11 से 20 तारीख के बीच अद्यतन कराने की अनुमति होगी।
यहां इंगित सेवाओं के अलावा अन्य सेवाएं प्राप्त करने के लिए शुल्क:इस उत्पाद में मौज़ूद सेवाओं के अलावा अन्य सेवाएं प्राप्त करने के लिए शुल्कों का निर्धारण शाखा परिसर/ नोटिस बोर्ड में प्रदर्शित किया जा रहा है।ये “संशोधित सेवा शुल्क” के तहत, इस वेबसाइट पर भी 11.02.2008 से उपलब्ध हैं।
नामांकन सुविधा: उपलब्ध
उत्पादों की उपलब्धता का स्थान: सभी शाखाएं, विशेष शाखाओं को छोड़कर।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

१.प्रश्न-क्या शून्य अथवा अत्यंत न्यूनतम शेष वाले ‘नो-फ्रिल्स’ खाते पर जारी दिशानिर्देश ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ शुरू होने के बाद भी जारी रहेगा?

उत्तर-नहीं। ‘नो-फ्रिल्स’ खाते पर दिनांक 11 नवंबर 2005 के परिपत्र बैंपविवि. सं. एलईजी. बीसी. 44/ 09.07.005/2005-06 में दिए गए अनुदेशों के अतिक्रमण में बैंकों को अब दिनांक 10 अगस्त 2012 के परिपत्र बैंपविवि. सं. एलईजी. बीसी. 35/09.07.005/2012-13 के द्वारा सूचित किया गया है कि वे अपने सभी ग्राहकों को ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ का प्रस्ताव दें, जिसमें उसमें बताई गई न्यूनतम सामान्य सुविधाओं का प्रस्ताव दिया जाएगा। बैंकों से अपेक्षित है कि वे मौजूदा ‘नो-फ्रिल्स’ खातों को ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ में परिवर्तित करें।

2.प्रश्न क्या कोई व्यक्ति किसी बैंक में कितनी भी संख्या में ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ खोल सकता है?

उत्तर-नहीं। कोई व्यक्ति किसी बैंक में केवल एक ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ खोलने का पात्र है।


3. प्रश्न-क्या ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ धारक उस बैंक में कोई दूसरा बचत खाता खोल सकता है?
उत्तर-‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ धारक उस बैंक में अन्य कोई बचत खाता खोलने का पात्र नहीं होगा। यदि उस बैंक में ग्राहक का कोई दूसरा बचत बैंक जमा खाता पहले से मौजूद है, तो उसे ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ खोलने की तिथि से 30 दिनों के भीतर उसे बंद करना होगा।

4. प्रश्न-क्या कोई व्यक्ति उस बैंक में अन्य जमा खाते खोल सकता है जहां पर वह ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ धारक है?
उत्तर-हां। कोई व्यक्ति उस बैंक में मीयादी/सावधि जमा, आवर्ती जमा इत्यादि खाते खोल सकता है जहां वह ‘बुनियादी बचत   बैंक जमा खाता’ धारक है।  

5. प्रश्न-क्या ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ जनसंख्या के केवल गरीब और कमजोर वर्ग जैसे कुछ प्रकार के व्यक्तियों द्वारा ही खोले जा सकते हैं?

उत्तर-नहीं। ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ शाखाओं के माध्यम से सभी ग्राहकों को उपलब्ध सामान्य बैंकिंग सेवा के रूप में माना जाना चाहिए।


6. प्रश्न-क्या व्यक्तियों के लिए बैंकों द्वारा ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ खोलने के लिए आयु, आय, धनराशि इत्यादि के मानदंड जैसे प्रतिबंध है?
उत्तर-नहीं। बैंकों को सूचित किया गया है कि वे ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ खोलने के लिए व्यक्तियों पर आयु और आय मानदंड जैसे प्रतिबंध न लगाएं।

7. प्रश्न-क्या ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ बैंकों के वित्तीय समावेशन योजनाओं का एक भाग है?
उत्तर-वित्तीय समावेशन संबंधी लक्ष्य को आगे बढ़ाने के लिए भारतीय रिज़र्व बैंक के प्रयासों के एक भाग के रूप में ही ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ शुरू किया गया है। दिनांक 11 नवंबर 2005 के परिपत्र बैंपविवि. सं. एलईजी. बीसी. 44/ 09.07.005/2005-06 के द्वारा ‘नो-फ्रिल्स’ खाते के रूप में, पूर्व में खोले गए सभी खातों को, दिनांक 10 अगस्त 2012 के परिपत्र बैंपविवि. सं. एलईजी. बीसी. 35/ 09.07.005/2012-13 के पैरा 2 में दिए गए अनुदेशों के अनुसार ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ के रूप में पुनः नामकरण किया जाना चाहिए और दिनांक 10 अगस्त 2012 के हमारे परिपत्र बैंपविवि. सं. एलईजी. बीसी. 35 जारी होने के बाद से खोले गये सभी खातों की सूचना ग्रामीण आयोजना और ऋण विभाग, केंद्रीय कार्यालय को बैंकों द्वारा भेजे जाने वाले वित्तीय समावेशन योजनाओं की प्रगति संबंधी मासिक रिपोर्ट के अंतर्गत दी जानी चाहिए।

8. प्रश्न-‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ के संबंध में कौन से केवाईसी मानदंड लागू होते हैं? क्या ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ के लिए केवाईसी मानदंड में कोई छूट है?
उत्तर -‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ बैंक खाता खोलने के लिए धनशोधन निवारण अधिनियम और नियमावली के प्रावधानों और ‘अपने ग्राहक को जानिए (केवाईसी)/धन शोधन निवारण’ पर समय-समय पर जारी होने वाले भारतीय रिज़र्व बैंक के अनुदेशों के अधीन होगा। ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ सरलीकृत केवाईसी मानदंड से भी खोला जा सकता है। तथापि, यदि ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ सरलीकृत केवाईसी के आधार पर खोला जाता है, तो ऐसे खातों को अतिरिक्त रूप से ‘बीएसबीडीए-छोटा खाता’ माना जाएगा और इन खातों पर दिनांक 2 जुलाई 2012 के मास्टर परिपत्र बैंपविवि. एएमएल. बीसी.सं. 11/14.01.001/2012-13 के पैरा 2.7 में ऐसे खातों के लिए निर्धारित शर्तें लागू होंगी।

9. प्रश्न क्या मैं भारत सरकार की दिनांक 16 दिसंबर 2010 की अधिसूचना सं. 14/2010/एफ. सं. 6/2/2007-ई.एस. के अनुसार एबीसी बैंक में ‘छोटा खाता’ खोल सकता हूं?  क्या मैं अतिरिक्त रूप में ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ खोल सकता हूं?
उत्तर- नहीं। ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ ग्राहक उसी बैंक में कोई अन्य बचत बैंक खाता नहीं खोल सकता। यदि ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ सरलीकृत केवाईसी मानदंड के अधीन खोला जाता है तो खाते को अतिरिक्त रूप से ‘छोटा खाता’ माना जाएगा और उस पर ‘अपने ग्राहक को जानिए मानदंड/ धनशोधन निवारण मानक/आतंकवाद के वित्तपोषण का प्रतिरोध/पीएमएलए, 2002 के अंतर्गत बैंकों के दायित्व’ पर दिनांक 02 जुलाई 2012 के मास्टर परिपत्र बैंपविवि. एएमएल.बीसी.सं. 11/14.01.001/2012-13 में दर्शाए अनुसार ऐसे खातों के लिए निर्धारित शर्तें लागू होंगी।

10. प्रश्न-ऐसे खातों के लिए निर्धारित शर्तें कौन-कौन सी हैं जिन्हें अतिरिक्त रूप से ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता – छोटा खाता’ माना जाता है?
उत्तर-भारत सरकार की दिनांक 16 दिसंबर 2010 की अधिसूचना के अनुसार यथाअधिसूचित ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता – छोटा खाता’ पर निम्नलिखित शर्तें लागू होंगीः

  • ऐसे खातों में एक वर्ष में कुल जमा एक लाख रुपये से अधिक नहीं होना चाहिए।
  • खाते में अधिकतम जमाशेष किसी भी समय पचास हजार रुपये से अधिक नहीं होना चाहिए।
  • नकद आहरण और अंतरण के माध्यम से कुल निकासी एक महीने में दस हजार रुपये से अधिक नहीं होगी।
  • सामान्य केवाईसी औपचारिकताएं पूरा किए बगैर विदेशी विप्रेषण छोटे खातों में जमा नहीं किया जा सकता।
  • शुरू में छोटे खाते 12 महीने की अवधि के लिए वैध हैं। यदि वह व्यक्ति आधिकारिक रूप से वैध दस्तावेज के लिए आवेदन करने का प्रमाण प्रस्तुत करता है, तो ऐसे खाते की अवधि अगले 12 महीने के लिए बढ़ाया जा सकती है।
  • छोटे खाते सीबीएस से जुड़ी शाखाओं में अथवा ऐसी शाखाओं में ही खोले जा सकते हैं जहां शर्तों की पूर्ति को प्रत्यक्ष रूप से निगरानी करना संभव हो।


11. प्रश्न ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ में कौन-सी सेवाएं मुक्त उपलब्ध हैं?
उत्तर-‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ में मुफ्त उपलब्ध सेवाओं में नकद जमा और नकद आहरण, इलेक्ट्रॉनिक भुगतान के माध्यम से अथवा बैंक शाखाओं तथा एटीएम में जमा/चेक संग्रहण के माध्यम से धन की प्राप्ति/जमा करना शामिल होगा।

12. प्रश्न-क्या दिनांक 10 अगस्त 2012 के परिपत्र के अनुसार ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ खोलते समय आरंभिक न्यूनतम जमा की अपेक्षा है?
उत्तर-‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ खोलने के लिए किसी आरंभिक जमा की कोई अपेक्षा नहीं है।

13. प्रश्न-क्या बैंक ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ के लिए निर्धारित सुविधाओं के अतिरिक्त अन्य सुविधाएं प्रदान करने के लिए स्वतंत्र है?
उत्तर-हां। तथापि, न्यूनतम निर्धारित सेवाओं से अतिरिक्त सेवाएं देने का निर्णय बैंकों के विवेक पर छोड़ दिया गया है जो या तो प्रभार रहित अतिरिक्त सेवाएं दे सकते हैं अथवा ग्राहकों को पूर्व सूचना देकर तर्कसंगत एवं पारदर्शी आधार पर अतिरिक्त मूल्यवर्धित सेवाओं के लिए कीमतें तय करने वाली संरचना सहित अन्य अपेक्षाएं विकसित कर सकते हैं तथा उन्हें भेदभाव रहित आधार पर लागू कर सकते हैं। बैंकों से अपेक्षित है कि वे मूल्य वर्धित सेवाओं के लिए कीमतें तय करने वाली उचित संरचना निर्धारित करें अथवा न्यूनतम जमाशेष अपेक्षाएं निर्धारित करें जिन्हें प्रमुखता से प्रदर्शित किया जाना चाहिए और जिनके बारे में खाता खोलते समय ग्राहकों को भी सूचित किया जाना चाहिए। ऐसी अतिरिक्त सेवाएं प्रदान करना सभी ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ ग्राहकों के लिए गैर-विवेकाधीन, भेदभाव रहित और पारदर्शी होना चाहिए। तथापि, अतिरिक्त सेवाओं वाले ऐसे खातों को ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ नहीं माना जाएगा।   

14. प्रश्न-यदि ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ के ग्राहक 4 से अधिक आहरण करते हैं तथा अतिरिक्त लागत पर चेक बुक का अनुरोध करते हैं, तो क्या वह ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ नहीं रह जाएगा?
उत्तर-हां। कृपया उक्त प्रश्न (प्रश्न सं. 13) का उत्तर देखें।
तथापि, यदि बैंक कोई अतिरिक्त प्रभार नहीं लगाता है तथा न्यूनतम शेष के बिना ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ खातों के अंतर्गत निर्धारित सुविधाओं के अलावा अन्य सुविधाएं भी निःशुल्क प्रदान करता है तो ऐसे खातों को ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ के रूप में वर्गीकृत किया जा सकता है।

15. प्रश्न-क्या आईबीए (डीपीएसएस) के अनुसार अन्य बैंकों के एटीएम से महीने में 5 निःशुल्क आहरण की सामान्य बचत खाते में दी जाने वाली मौजूदा सुविधा ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ के लिए भी उपलब्ध रहेगी?
उत्तर-नहीं। ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ के अंतर्गत बैंकों से अपेक्षित है कि वे न्यूनतम 4 निःशुल्क आहरण उपलब्ध कराएं, एटीएम के माध्यम से जिसमें आरटीजीएस/एनईएफटी/क्लीयरिंग/शाखा नकदी आहरण/अंतरण/ इंटरनेट डेबिट/मौजूदा अनुदेश/ईएमआई इत्यादि शामिल हैं। यह बैंक पर निर्भर है कि वह अतिरिक्त सुविधाएं निःशुल्क उपलब्ध कराएगा अथवा सशुल्क। तथापि यदि बैंक अतिरिक्त आहरण के लिए प्रभार लेने का निर्णय लेता है तो उसे चाहिए कि वह उसका मूल्य निर्धारण तर्कसंगत, भेदभाव रहित और पारदर्शी तरीके से करे।    

16. प्रश्न-क्या बैंक वार्षिक एटीएम डेबिट कार्ड प्रभार लगाने के लिए स्वतंत्र हैं।
उत्तर-बैंकों को एटीएम डेबिट कार्ड निःशुल्क उपलब्ध कराना चाहिए तथा ऐसे कार्डों पर कोई वार्षिक शुल्क नहीं लगाया जाना चाहिए।

17. प्रश्न-क्या ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ के अंतर्गत स्वीकार्य 4 आहरणों के अंतर्गत एटीएम में की जाने वाली शेष धनराशि की पूछताछ की भी गणना की जानी चाहिए।
उत्तर-एटीएम के माध्यम से जमाशेष की पूछताछ को एटीएम में निःशुल्क अनुमत चार आहरणों के अंतर्गत गणना में नहीं शामिल करना चाहिए।             

18. प्रश्न-यदि ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ का कोई ग्राहक एटीएम डेबिट कार्ड धारण करने के लिए सहमत नहीं होता है क्या बैंक को जबरन् एटीएम कार्ड प्रदान करना चाहिए।
उत्तर-एटीएम डेबिट कार्ड का प्रस्ताव ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ खोलते समय ही किया जाना चाहिए तथा यदि ग्राहक उसके लिए लिखित अनुरोध करे तभी जारी किया जाना चाहिए। बैंक को ऐसे ग्राहकों पर एटीएम कार्ड थोपना नहीं चाहिए।

19. प्रश्न-जो ग्राहक इतने अशिक्षित हैं या वृद्ध हैं कि वे एटीएम कार्ड को तथा उससे संबंधित पिन पासवर्ड को सुरक्षित नहीं रख सकते हैं, उनके बारे में आपकी क्या राय है?
उत्तर-‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ खोलते समय बैंक को ऐसे ग्राहकों को एटीएम डेबिट कार्ड, एटीएम पिन तथा उससे जुड़े हुए जोखिम के बारे में शिक्षित करना चाहिए।  तथापि, यदि कोई ग्राहक एटीएम कार्ड धारण नहीं करने का निर्णय लेता है तो बैंक को ऐसे ग्राहक को जबरन् एटीएम कार्ड नहीं देना चाहिए। तथापि, यदि ग्राहक एटीएम डेबिट कार्ड लेने का विकल्प चुनता है तो बैंक को चाहिए कि वह ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ धारकों को सुपुर्दर्गी के उन्हीं सुरक्षित माध्यमों के द्वारा कार्ड उपलब्ध कराए जो वह अपने अन्य ग्राहकों को एटीएम डेबिट कार्ड एवं पिन की सुपुर्दगी के लिए प्रयोग करते हैं।   

20. प्रश्न-क्या ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ धारकों को पासबुक भी निःशुल्क प्रदान किए जाते हैं?
उत्तर-हां। दिनांक 04 अक्तूबर 2006 के हमारे परिपत्र बैंपविवि. सं. एलईजी. बीसी. 32/09.07.005/2006-07 में दिए गए हमारे अनुदेशों का अनुसरण करते हुए ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ धारकों को पासबुक सुविधा निःशुल्क दी जानी चाहिए।

21. प्रश्न-यदि कोई ग्राहक ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ खोलता है किंतु अपना वर्तमान बचत बैंक खाता 30 दिन के भीतर बंद नहीं करता है तो क्या बैंक तब ऐसे खातों को बंद करने के लिए स्वतंत्र हैं?
उत्तर-‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ खोलते समय ग्राहक से यह लिखित सहमति ली जानी चाहिए कि  ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ खोलने के 30 दिनों के बाद उसका वर्तमान ‘गैर-बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ बंद कर दिया जाएगा, और बैंक 30 दिनों के बाद ऐसे खातों को बंद करने के लिए स्वतंत्र हैं।

22. प्रश्न-कतिपय खातों, जैसे एनआरईजीए, में संवितरण साप्ताहिक आधार पर किये जाते हैं और यदि किसी माह में 5 सप्ताह हों तो इसमें चार से अधिक आहरणों की संभावना बनती है। ऐसे मामलों में क्या बैंक 5 आहरणों की अनुमति दे सकते हैं?
उत्तर-‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ में बैंकों से अपेक्षित है कि वे न्यूनतम 4 आहरण निःशुल्क उपलब्ध कराएं जिसमें एटीएम तथा अन्य माध्यम सम्मिलित हैं। चार आहरणों से अधिक होने पर यह बैंक पर निर्भर है कि वह अतिरिक्त आहरणों को निःशुल्क प्रदान करता है अथवा नहीं। तथापि बैंक द्वारा मूल्य निर्धारण तर्कसंगत, भेदभाव रहित और पारदर्शी तरीके से किया जाए।

23. प्रश्न- ऐसे ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ के जमाशेष पर देय निर्धारित ब्याज की दर क्या है?
उत्तर-बचत बैंक जमा ब्याज दर को नियंत्रण-मुक्त करने से संबंधित 25 जनवरी 2012 के हमारे परिपत्र बैंपविवि.डीआईआर. बीसी. 75/13.03.00/2011-12 में दिए गए अनुदेश ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ में रखी गई जमाराशियों पर लागू हैं।

24. प्रश्न-भारतीय रिज़र्व बैंक के 10 अगस्त 2012 के परिपत्र डीपीएसएस. सीओ.सीएचडी. सं. 274/ 03.01.02/ 2012-13 के अनुसार यदि ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ ग्राहकों को उनके अनुरोध पर ‘सममूल्य पर देय/मल्टी-सिटी’ चेक जारी किए जाते हैं तो क्या बैंक न्यूनतम जमाशेष निर्धारित कर सकते हैं?
उत्तर-‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ ग्राहकों को प्रदान की जाने वाली न्यूनतम सुविधा के अंतर्गत चेक बुक सुविधा का प्रावधान नहीं है। चेक बुक सुविधा समेत किसी भी सुविधा को निःशुल्क उपलब्ध कराने के लिए बैंक स्वतंत्र हैं (और ऐसा होने पर खाता ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ बना रहता है) या अतिरिक्त सुविधाओं के लिए प्रभार लगा सकते हैं (जिसमें खाता ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ नहीं रह जाता है)।

25. प्रश्न ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ (बीएसबीडीए) की परिभाषा क्या है?
उत्तर-11 नवंबर 2005 के परिपत्र बैंपविवि.सं. एलईजी. बीसी. 44/09.07.005/2005-06 के द्वारा जारी दिशानिर्देशों के अनुसरण में खोले गए सभी मौजूदा ‘नो फ्रिल्स’ खाते जो 10 अगस्त 2012 के परिपत्र बैंपविवि.सं. एलईजी. बीसी. 35/09.07.005/2012-13 में जारी दिशानिर्देशों के अनुपालन में ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ में रूपांतरित कर दिए गए हैं तथा उक्त परिपत्र के अंतर्गत खोले गए नवीन खाते ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ के रूप में माने जाएंगे। मूल्य वर्धित सेवाओं के लिए तर्कसंगत मूल्य निर्धारण संरचना के अंतर्गत अतिरिक्त सुविधाओं का लाभ देने वाले खाते जो विशेष रूप से ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ ग्राहकों के लिए हों उन्हें ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ खातों के रूप में नहीं माना जाना चाहिए।  

26. प्रश्न-‘नो-फ्रिल्स’ खातों को ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ के रूप में परिवर्तित करने के लिए बैंकों को कब तक का समय मिला है? सभी मौजूदा ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ धारकों को एटीएम कार्ड उपलब्ध कराने के लिए बैंकों को कब तक का समय मिला है?
उत्तर-सभी मौजूदा ‘नो-फ्रिल्स’ खातों को उक्त परिपत्र की तिथि अर्थात् 10 अंगस्त 2012 से ‘बुनियादी बचत बैंक जमा  खातों’ के रूप में माना जा सकता है और परिपत्र के अनुसार जैसे-जैसे ग्राहक आते जाएं बैंक एटीएम कार्ड जारी करने जैसी निर्धारित सुविधाएं ग्राहकों को वैसे-वैसे प्रदान कर सकते हैं। तथापि, हमारे परिपत्र के जारी होने के बाद खाता खोलने वाले ग्राहकों के लिए खाता खोलने के तुरंत बाद निर्धारित सुविधाएं उपलब्ध करानी चाहिए।

27. प्रश्न-क्या ग्राहक के अनुरोध पर सामान्य बचत खाते को ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ के रूप में परिवर्तित किया जा सकता है?
उत्तर-हां। ऐसे ग्राहकों को अपनी सहमति लिखित रूप में देनी चाहिए और उन्हें ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ में उपलब्ध सेवाओं की विशिष्टताओं और उनकी सीमाओं के बारे में सूचित किया जाना चाहिए।

28. प्रश्न-क्या भारत में विदेशी बैंकों के लिए ग्राहकों हेतु ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ खोलना अपेक्षित है? क्या ‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ पर 10 अगस्त 2012 का परिपत्र विदेशी बैंकों की भारत में मौजूद शाखाओं पर भी लागू हैं?

उत्तर-‘बुनियादी बचत बैंक जमा खाता’ पर 10 अगस्त 2012 के परिपत्र में दिए गए भारतीय रिज़र्व बैंक के अनुदेश/दिशानिर्देश भारत में मौजूद सभी अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों पर लागू हैं जिनमें भारत में शाखाओं वाले विदेशी बैंक भी शामिल हैं।

स्त्रोत: पोर्टल विषय सामग्री टीम , रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया



© 2006–2019 C–DAC.All content appearing on the vikaspedia portal is through collaborative effort of vikaspedia and its partners.We encourage you to use and share the content in a respectful and fair manner. Please leave all source links intact and adhere to applicable copyright and intellectual property guidelines and laws.
English to Hindi Transliterate