অসমীয়া   বাংলা   बोड़ो   डोगरी   ગુજરાતી   ಕನ್ನಡ   كأشُر   कोंकणी   संथाली   মনিপুরি   नेपाली   ଓରିୟା   ਪੰਜਾਬੀ   संस्कृत   தமிழ்  తెలుగు   ردو

उन्नत बीज

बीजों की उपलब्धता

उत्तराखण्ड में  भौगोलिक एवं जलवायिक विविधता के कारण किसी क्षेत्र विशेष के लिये फसल विशेष की उपयुक्त प्रजातियों का चयन एक जटिल विषय है। इसके बावजूद मैदानी क्षेत्रों एवं पर्वतीय क्षेत्रों के लिये उपयुक्त किस्मों के बीजों की उपलब्धता सुनिश्चित करने का प्रयास किया गया है। मैदानी  क्षेत्रों  के  लिये  फसल  प्रजातियों की प्रचुर किस्में उपलब्ध हैं, किन्तु पर्वतीय क्षेत्रों के लिये कुछ सीमित प्रजातियों की उपलब्धता तथा असिंचित दशाओं के दृष्टिगत स्थानीय फसल प्रजातियों को भी महत्व दिया गया है, जो सूखे की विपरीत स्थिति को सहन करने की क्षमता रखती हैं।

गुणवत्तायुक्त बीजों की उपलब्धता सुनिश्चित कराने में उत्तराखण्ड बीज एवं तराई विकास निगम, तथा उत्तराखण्ड सीड सर्टिफिकेशन ऐजेंसी का अहम योगदान है। इन संस्थाओं के सहयोग से प्रदेश बीज उत्पादन के क्षेत्र में अग्रणी राज्य है, जो स्वयं की पूर्ति के साथ-साथ अन्य राज्यों को भी बीजों की आपूर्ति करता है। इसके साथ ही निजी संस्थाओं का भी अहम योगदान है, जिनके द्वारा नवीनतम फसल प्रजातियों के बीजों का वितरण करते हुये उत्पादन एवं उत्पादकता के स्तर में सुधार के नये आयाम स्थापित हुये हैं।

सुविधाएं

विभिन्न योजनाओं के अन्तर्गत कृषकों को उन्नतशील बीजों में देय सुविधाएं उपलब्ध हैं-

क्र0सं

कार्यमद

कार्यक्रम के घटक

राज सहायता के मानक

योजना का नाम

01

02

03

04

05

1

बीज अनुदान

चयनित कृषकों को एक एकड़ (20 नाली) हेतु बीजों के क्रय पर अनुदान

धान्य फसलों पर 50 प्रतिशत अनुदान तथा दलहन एवं तिलहन फसलों पर 60 प्रतिशत अनुदान

बीज ग्राम योजना (अन्तर्गत सब मिशन प्लांटिग मैटीरियल)

 

 

उन्नत प्रजातियों का प्रमाणित बीज वितरण (गेहूँ व धान)

मूल्य का 50 प्रतिशत या रू0 1000 प्रति कुन्तल

आर0के0वी0वाई0 (फसल उत्पादन कार्यक्रम)एन0एफ0एस0एम0

 

क्र0सं

कार्यमद

कार्यक्रम का घटक

राज सहायता के मानक

योजना का नाम

01

02

03

04

05

 

 

01

 

तिलहन बीज वितरण

मूल्य का 50 प्रतिशत या रू0 2500 प्रति कुन्तल

आर0के0वी0वाई0 (फसल उत्पादन कार्यक्रम)

मोटा अनाज फसलों के उन्नत प्रजातियों के बीज वितरण

मूल्य का 50 प्रतिशत या रु0 1500/कु0, जो भी कम हो

आर0के0वी0वाई0 (फसल उत्पादन कार्यक्रम) एन0एफ0एस0एम0

धान एवं मक्का फसलों के संकर प्रजातियों का बीज वितरण

मूल्य का 50 प्रतिशत या रु0 5000/कु0, जो भी कम हो

आर0के0वी0वाई0 (फसल उत्पादन कार्यक्रम) एन0एफ0एस0एम0

दलहन फसलों का प्रमाणित बीज वितरण

मूल्य का 50 प्रतिशत या रु0 2500/कु0,जो भी कम हो

एन0एफ0एस0एम0

02

बुखारी वितरण

भंडारण के लिये उपयोग में आने वाली टीन की बुखारियों के क्रय पर किसानों को अनुदान

पर्वतीय क्षेत्र में 2 कु0 की बुखारी के क्रय पर अनु0जा0/जनजाति के किसानों को 33 प्रतिशत अथवा अधिकतम रू0 ४०० और अन्य किसानों को 25 प्रतिशत अधिकतम रू0 300 की राज सहायता बीज ग्राम योजना (अन्तर्गत सब मिशन ऑन सीड्‌स एण्ड प्लांटिग मैटीरियल)

मैदानी क्षेत्र में 10 कु0 की बुखारी के क्रय पर सामान्य कृषक को मूल्य का 25 प्रतिशत या अधिकतम रू0 1000 तथा अनु0जा0/जनजा0 के कृषकों को मूल्य का 33 प्रतिशत या अधिकतम रू0 1500 की राज सहायता

 

कृषक

प्रशिक्षण

चयनित कृषकों को बीजोत्पादन से संबंधित एक दिवसीय (तीन प्रशिक्षण)

50-100 कृषकों के एक समूह को एक द्विवसीय प्रशिक्षण पर रू0 5000 का व्यय

बीज ग्राम योजना (अन्तर्गत सब मिशन ऑन सीड्‌स एण्ड प्लांटिग मैटीरियल)

स्त्रोत : किसान पोर्टल,भारत सरकार



© 2006–2019 C–DAC.All content appearing on the vikaspedia portal is through collaborative effort of vikaspedia and its partners.We encourage you to use and share the content in a respectful and fair manner. Please leave all source links intact and adhere to applicable copyright and intellectual property guidelines and laws.