অসমীয়া   বাংলা   बोड़ो   डोगरी   ગુજરાતી   ಕನ್ನಡ   كأشُر   कोंकणी   संथाली   মনিপুরি   नेपाली   ଓରିୟା   ਪੰਜਾਬੀ   संस्कृत   தமிழ்  తెలుగు   ردو

नीम के बीज का अर्क

आवश्यक सामग्री

5% NSKE का 100 लीटर घोल तैयार करने के लिए

  • नीम के बीज का गूदा (अच्छी तरह से सुखाया हुआ) - 5 किलो
  • पानी (ठीकठाक गुणवत्ता का) - 100 लीटर
  • डिटर्जेंट (200 ग्राम)
  • छानने के लिए मलमल का कपड़ा

विधि

  • नीम के बीज के गूदे की आवश्यक मात्रा लें (5 किलो)
  • पाउडर बनाने के लिए गुठली को हल्के हाथ से पीसें
  • इसे 10 लीटर पानी में रात भर भिगो कर रखें
  • सुबह घोल को लकड़ी के डंडे से हिलाएं ताकि घोल दूधिया सफेद हो जाए
  • मलमल के कपड़े की दोहरी परत के माध्यम से घोल को छानें और मात्रा को 100 लीटर बना दें
  • 1%(1 लीटर पानी मे एक किलो) डिटर्जेंट मिलाएं (डिटर्जेंट का पेस्ट बनाएं और फिर इसे छिडकाव के घोल में मिला दें)
  • छिडकाव का घोल अच्छी तरह से मिला कर उसका उपयोग करें

ध्यान दें

  • पैदावार के मौसम में नीम के फल इकट्ठे करें और उन्हें छायादार जगह खुली हवा में सुखाएं।
  • आठ महीने से अधिक उम्र के बीज का उपयोग न करें. इस उम्र से अधिक के संग्रहित बीज की गतिविधि कम हो जाती है और वे NSKE तैयार करने के लिए उपयुक्त नहीं होते हैं।
  • हमेशा ताज़े तैयार किये गये नीम के बीज के गूदे (NSKE) का उपयोग करें.
  • प्रभावी परिणाम प्राप्त करने के लिए अर्क का छिडकाव दोपहर में 3:30 बजे के बाद करें।

स्त्रोत

  • पोर्टल विषय सामग्री टीम


© 2006–2019 C–DAC.All content appearing on the vikaspedia portal is through collaborative effort of vikaspedia and its partners.We encourage you to use and share the content in a respectful and fair manner. Please leave all source links intact and adhere to applicable copyright and intellectual property guidelines and laws.
English to Hindi Transliterate