सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

होम (घर) / सफल उदाहरण / सफल उदाहरण
शेयर

सफल उदाहरण

शीर्षक विवरण द्वारा भेजा गया प्रकाशित तिथि
धान की खेती : श्रीविधि तकनीक का सफल उदाहरण मैं लीलावती देवी, जो मुखिया, चपका पंचायत, धागरा प्रखंड, जिला गुमला की रहने वाली है जानता हूँ | कृषि की नए तकनीक के प्रयोग में किसानों को चुनौतियों का सामना करना पड़ता है | चपका पंचायत में सात राजस्व गाँव है जिसकी आबादी ६५०० है जहाँ अधिकाश किसान परिवार है | ये परिवार धान की एक ही फसल लगाते आये थे , लेकिन जब लीलावती देवी जी मुखिया बनी तो इन्होने खेती के लिए श्रीविधि तकनीक को अपनाया | खेती के इस उत्तम तकनीक के बारे में उन्हें इस पोर्टल के माध्यम से और आधिक जानकारी मिली | इस पोर्टल में हिन्दी माध्यम से खेती के लिए श्रीविधि तकनीक की और जानकारी उपलब्ध कराने के लिए आपका धन्यवाद | लीलावती देवी 17.02.2014
पशुपालन : बेहतर विकास की ओर बढ़ते कदम सलोमी बेसरा, मुखिया बनियापसार पंचायत, पाकुड़ जिले की रहने वाली है पशुपालन के क्षेत्र में एक सफल उदाहरण है | प्रशिक्षण के साथ इनको पशुपालन के लिए हिन्दी पोर्टल के माध्यम से जानकारी उपलब्ध करायी गयी | आज इस पंचायत में बकरी पालन के साथ ही सूअर पालन को अहमियत दी गयी है | हिन्दी पोर्टल के माध्यम से पशुपालन की बेहतरीन जानकारी के लिए आपका धन्यवाद | सलोमी बेसरा 17.02.2014
मूल्य जानकारी सभी भाई एवम बहन को मेरा नमस्कार मै एक किसान के घर मे जन्म लिया गाँव मे पालन पोषण हुआ और आज मै एक अभियंता हुँ । गाँव की परेशानी , कृषि की सम्स्या से हमेशा दो चार रहा हुँ और आज भी हमारे घर वाले उन परेशानियो से दो चार होते रहते है । लेकिन इस वेबसाईट ने हम लोगो को एक नई दिशा दी है । कोटिशः धन्यवाद इसके लिये । आपका आप सभी का प्यारा नवीन भोजपुरिया नवीन भोजपुरिया 29.04.2013
क्षमता निर्माण बेहतर संवाद स्थापित करने के लिए आदरणीय महोदय , इतनी अच्छी वेब साईट बनाने के लिए मैं और हमारे गाँव के लोग आपके बहुत आभारी है . एक साईट पे इतनी अच्छी और उपयोगी जानकारी वकैई तारीफ के काबिल है . जिन जानकारियों के लिए हमें यहाँ वह भटकना पड़ता था अब बहुत आशानी से प्राप्त हो जाती है वो भी हिंदी मे ! सब कुछ एक जगह , मेरे पास सब्दों की कमी है आप की तारीफ के लिए ! धन्यवाद! धर्मेन्द्र कुमार नाहर , ग्राम- डोला , तहसील - कोतमा , जिला - अनुपपुर मध्य प्रदेश 29.04.2013
अग्रणी कौशल लाभकारी रोजगार के लिए आज के समय में जब सरकार द्वारा इतनी सुविधाएँ दी जा रही हो, तो भी लोग उससे अनजान ही बने रहते हैं। अच्छा हो यदि इन सभी के बारे में स्थानीय स्तर पर भी प्रयास किये जाए और लोगों को उसके बारे में जागरूक किया जाए। डॉ. आशुतोष शुक्ला 29.04.2013
अप्रत्यक्ष सूचना जरूरत की पूर्ति इस पोर्टल का विकास, भारत सरकार की एक अच्छी शुरुआत है और मुझे आशा है कि यह आमलोगों के दिन-प्रतिदन की समस्याओं को दूर करने में सक्षम होगा। मुझे ई-मेल के माध्यम से इस पोर्टल से संबंधित अपडेट भेजने के लिए धन्यावाद। मेरी शुभकामनाएँ आपके साथ है। शैलेन्द्र सिंह (सक्षम), रामपुर, कानपुर (उत्तर प्रदेश) 29.04.2013

Back to top

T612019/10/21 00:48:44.935113 GMT+0530

T622019/10/21 00:48:44.936268 GMT+0530

T632019/10/21 00:48:44.936840 GMT+0530

T642019/10/21 00:48:44.937172 GMT+0530

T12019/10/21 00:48:44.911867 GMT+0530

T22019/10/21 00:48:44.912040 GMT+0530

T32019/10/21 00:48:44.912196 GMT+0530

T42019/10/21 00:48:44.912347 GMT+0530

T52019/10/21 00:48:44.912451 GMT+0530

T62019/10/21 00:48:44.912531 GMT+0530

T72019/10/21 00:48:44.913162 GMT+0530

T82019/10/21 00:48:44.913356 GMT+0530

T92019/10/21 00:48:44.913583 GMT+0530

T102019/10/21 00:48:44.913798 GMT+0530

T112019/10/21 00:48:44.913846 GMT+0530

T122019/10/21 00:48:44.913949 GMT+0530