सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

शेयर
Views
  • अवस्था संपादित करने के स्वीकृत

ऊर्जा के प्रकार

ऊर्जा के विभिन्न रूपों जैसे प्रकाश, गर्मी, ध्वनि, विद्युत, परमाणु, रसायनिक, आदि को संक्षेप में समझाया गया है।

प्रकृति में ऊर्जा कई अलग अलग रूपों में मौजूद है। इन के उदाहरण हैं: प्रकाश ऊर्जा, यांत्रिक ऊर्जा, गुरुत्वाकर्षण ऊर्जा, विद्युत ऊर्जा, ध्वनि ऊर्जा, रसायनिक ऊर्जा और परमाणु ऊर्जा। प्रत्येक ऊर्जा को एक अन्य रूप में परिवर्तित या बदला जा सकता है।

ऊर्जा के कई विशिष्ट प्रकारों में प्रमुख रूप गतिज ऊर्जा और स्थितिज ऊर्जा है।

  • गतिज ऊर्जा वस्तुओं या पिंड के घूमने से उत्पन्न होने वाली ऊर्जा है जिसमें यांत्रिक ऊर्जा, विद्युत ऊर्जा आदि शामिल हैं।
  • स्थितिज ऊर्जा को भविष्य में उपयोग के रखा या संग्रहीत रखा जा सकता है जो कि ऊर्जा का कोई भी रूप हो सकता है। इसमें परमाणु ऊर्जा, रसायनिक ऊर्जा, आदि शामिल हैं।

ऊर्जा के सामान्य रूपों का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है।

रसायनिक ऊर्जा

परमाणु बंधनों के बीच संग्रहित ऊर्जा रसायनिक ऊर्जा है. उदाहरण के लिए, हम लकड़ी, कोयले को जलाने से ईंधनों से उत्पन्न होने वाली रसायनिक ऊर्जा का उपयोग करते हैं।

विद्युत ऊर्जा

बिजली के कंडक्टर में इलेक्ट्रॉनों द्वारा वहन की जाने वाली ऊर्जा विद्युत ऊर्जा है। यह ऊर्जा के सबसे आम और उपयोगी रूपों में से एक है। उदाहरण के लिए बिजली भी ऊर्जा का रूप है। ऊर्जा के अन्य रूप भी विद्युत ऊर्जा में परिवर्तित किये जा सकते हैं। उदाहरण के लिए, ऊर्जा संयंत्र कोयले जैसे ईंधन में संग्रहीत रसायनिक ऊर्जा को उसके विभिन्न रूपों में परिवर्तित कर विद्युत ऊर्जा में बदल देते हैं।

यांत्रिक ऊर्जा

यांत्रिक ऊर्जा एक पदार्थ या प्रणाली की गति से उत्पन्न होने वाली ऊर्जा है। उदाहरण के लिए मशीनों में काम करने के लिए यांत्रिक ऊर्जा का उपयोग किया जाता है।

ऊष्मीय ऊर्जा

ऊष्मीय ऊर्जा एक पदार्थ या प्रणाली के अपने तापमान अणुओं की गति से उत्पन्न होने वाली ऊर्जा है। उदाहरण के लिए, हम खाना पकाने के लिए सौर विकिरण द्वारा उत्पन्न की जाने वाली ऊष्मीय ऊर्जा का उपयोग करते हैं।

परमाणु ऊर्जा के लाभ और हानि

लाभ:

  • परमाणु बिजली के उत्पादन में अपेक्षाकृत कम मात्रा में कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जित होती है। इसलिए परमाणु ऊर्जा संयंत्रों का ग्लोबल वार्मिंग के लिए योगदान अपेक्षाकृत कम है।

हानि:

  • रेडियोधर्मी कचरे के सुरक्षित निपटान की समस्या एक बड़ी समस्या है जिसमें उच्च जोखिम और बड़े नुकसान की संभावना शामिल होती है।
  • इसमें प्रयुक्त होने वाला कच्चा माल यूरेनियम एक दुर्लभ संसाधन है। यूरेनियम के अगले 30 से 60 वर्षों के लिए ही उपलब्ध होना का अनुमान है।

गुरुत्वाकर्षण ऊर्जा

गुरुत्वाकर्षण ऊर्जा एक गुरुत्वाकर्षण क्षेत्र में एक वस्तु द्वारा लगने वाली ऊर्जा है। उदाहरण पानी एक बहते झरने से उत्पन्न होने वाली ऊर्जा गुरुत्वाकर्षण ऊर्जा है।

स्रोत: Time for Change

3.1125

Sunil Jan 27, 2017 10:11 AM

Air adhik urja me prakar likie. Adhik

अपना सुझाव दें

(यदि दी गई विषय सामग्री पर आपके पास कोई सुझाव/टिप्पणी है तो कृपया उसे यहां लिखें ।)

Enter the word
संबंधित भाषाएँ
Back to top

T612018/01/24 08:52:50.887432 GMT+0530

T622018/01/24 08:52:50.897214 GMT+0530

T632018/01/24 08:52:50.897961 GMT+0530

T642018/01/24 08:52:50.898263 GMT+0530

T12018/01/24 08:52:50.866777 GMT+0530

T22018/01/24 08:52:50.866965 GMT+0530

T32018/01/24 08:52:50.867106 GMT+0530

T42018/01/24 08:52:50.867241 GMT+0530

T52018/01/24 08:52:50.867328 GMT+0530

T62018/01/24 08:52:50.867413 GMT+0530

T72018/01/24 08:52:50.868096 GMT+0530

T82018/01/24 08:52:50.868274 GMT+0530

T92018/01/24 08:52:50.868472 GMT+0530

T102018/01/24 08:52:50.868674 GMT+0530

T112018/01/24 08:52:50.868720 GMT+0530

T122018/01/24 08:52:50.868812 GMT+0530