सामग्री पर पहुँचे | Skip to navigation

होम (घर) / समाज कल्याण / श्रमिक कल्याण / श्रम अधिनियमों से जुड़ी अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न
शेयर
Views
  • अवस्था संपादित करने के स्वीकृत

श्रम अधिनियमों से जुड़ी अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

इस पृष्ठ में श्रम अधिनियमों से जुड़ी अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्नों के विषय में विभाग द्वारा दी गयी जानकारी को बताया गया है|

सामान्य

केन्द्रीय क्षेत्र के अंतर्गत श्रमिकों के लाभ के लिए कौन-कौन से श्रम अधिनियम उपलब्ध हैं ?
औद्योगिक विवाद अधिनियम, 1947
औद्योगिक रोज़गार (स्थाई आदेश) अधिनियम, 1946
न्यूनतम मज़दूरी अधिनियम, 1948
मज़दूरी संदाय अधिनियम, 1936 – (खदान, महत्वपूर्ण बन्दरगाह और वायु परिवहन सेवाएँ)
ठेका श्रम (विनियमन एवं उन्मूलन) अधिनियम, 1970
प्रसूति लाभ अधिनियम, 1961
बाल श्रम (निषेध एवंविनियमन) अधिनियम, 1986
रेलवे कर्मचारियों के लिए रोज़गार के घंटे संबंधी विनियमन
बोनस संदाय अधिनियम, 1965
उपदान संदाय अधिनियम, 1972
समान पारिश्रमिक अधिनियम, 1976
अन्तर राज्यीय प्रवासी श्रमिक (रोज़गार एवं सेवा शर्त विनियमन) अधिनियम, 1979
भवन एवं अन्य निर्माण श्रमिक (रोज़गार एवं सेवा शर्त विनियमन) अधिनियम, 1996


ठेका श्रम (विनियमन एवं उन्मूलन) अधिनियम, 1970

श्रम अनुज्ञप्ति प्राप्त करना अपेक्षित करने के लिए श्रमिकों की न्यूनतम संख्या क्या है ?
20
अनुज्ञप्ति के आवेदन के साथ जमा किया जाने वाला अनुज्ञप्ति शुल्क क्या है ?

20 के लिए – 15 रु.
50 से कम 21 श्रमिकों के लिए – 37.50 रु.
100 से कम 51 श्रमिकों के लिए – 75 रु.
200 से कम 101 श्रमिकों के लिए – 150 रु.
400से कम 201 श्रमिकों के लिए – 300 रु.
401 और उससे अधिक श्रमिकों के लिए – 375 रु.

अनुज्ञप्तिके आवेदन के साथ जमा की जाने वाली प्रतिभूति राशि क्या है ?
90 रु. प्रति श्रमिक अर्थात 20 श्रमिकों के लिए 20 x 90रु =1800/- रु

अनुज्ञप्तिशुल्क/प्रतिभूति जमा के भुगतान का मोड क्या है ?
डिमांड ड्राफ्ट

किनके नाम डिमांड ड्राफ्ट देय है ?
डी डी ओ और सहायक श्रमायुक्त (केन्द्रीय),

अनुज्ञप्ति के आवेदन के साथ संलग्न किए जानेवाले दस्तावेज़ क्या है ?
प्रपत्र IV, कार्य आदेश की प्रति, ठेकेदार के फर्म की स्थिति संबंधी प्रमाण पत्र, प्रपत्र V, डिमांड ड्राफ्ट

अनुज्ञप्तिके नवीकरण के लिए कब आवेदन दिया जाना चाहिए ?
अनुज्ञप्तिकी समयावधि समाप्त होने से तीस दिन पूर्व

नवीकरण के लिए संलग्न किया जानेवाला नवीकरण शुल्क क्या है ?

20 के लिए – 15 रु.
50 से कम 21 श्रमिकों के लिए – 37.50 रु.
100 से कम 51 श्रमिकों के लिए – 75 रु
200से कम 101 श्रमिकों के लिए – 150 रु.
400 से कम 201 श्रमिकों के लिए – 300 रु.
401 और उससे अधिक श्रमिकों के लिए – 375 रु.

 

कार्यस्थल पर प्रदर्शित की जाने वाली नोटिसें/ संक्षिप्त विवरण क्या हैं ?
अधिनियम का संक्षिप्त विवरण, मज़दूरी की दरों, मज़दूरी के भुगतान की तिथि, भुगतान  नहीं की गई मज़दूरी के भुगतान की तिथि, कार्य के घंटों को दर्शाने वाली नोटिस ।

 

ठेका श्रमिक को कब मज़दूरी का भुगतान किया जाना चाहिए ?

जहाँ श्रमिकों की संख्या 1000 से कम हो वहाँ प्रत्येक महीने की 7 तारीख तक।
जहाँ श्रमिकों की संख्या 1000 से ज़्यादा हो वहाँ प्रत्येक महीने की 10 तारीख तक।

 

अधिनियम के अंतर्गत श्रमिकों को प्रदान की जाने वाली कल्याण संबंधी सुविधाएँ क्या हैं ?

कैन्टिन (यदि 100 श्रमिक कार्य कर रहे हों/ थे)
विश्राम कक्ष (यदि श्रमिक रात में रुकते हों)
पेय जल
प्रसाधन/ शौचालय कक्ष
प्रथम उपचार सुविधा

 

अनुज्ञप्ति की वैधता अवधि क्या है ?
जारी होने की तिथि से एक वर्ष

 

अनुज्ञप्ति के प्रभावी रहने की अवधि के दौरान अनुज्ञप्ति में श्रमिकों की संख्या बढ़ाने के लिए क्या किया जाना चाहिए ?
संशोधन, अतिरिक्त प्रतिभूति जमा और अनुसूचि के अनुसार अतिरिक्त अनुज्ञप्ति शुल्क के लिए आवेदन के साथ मूल अनुज्ञप्ति वापस की जानी चाहिए।

अनुज्ञप्ति की दूसरी प्रति जारी करने की क्या प्रक्रिया है ?
अनुरोध के साथ 5/- रु का शुल्कजमा किया जाना चाहिए।

नियोजन कार्ड क्या है ?
नियोजन कार्ड में ठेकेदार द्वारा नियुक्त ठेका श्रमिकों का विवरण विनिर्दिष्ट होता है। ठेकेदार को नियोजन के 3 दिनों के अन्दर श्रमिकों को विधिवत भरा गया नियोजन कार्ड जारी करना होता है।

 

क्या श्रमिक अवकाश दिवस/ साप्ताहिक विराम के दौरान मज़दूरी का पात्र है ?
हाँ

 

मेरे पास 19 श्रमिक हैं, क्या मेरा प्रतिष्ठान ठेका श्रम (आर एंड ए) अधिनियम, 1970 के अन्तर्गत शामिल होगा ?
नहीं

मज़दूरी स्लिप क्या है ?
अधिनियम के अन्तर्गत प्रत्येक नियोक्ता भुगतान के साथ साथ मज़दूरी दरों और अन्य विवरणों को विनिर्दिष्ट करते हुए मज़दूरी स्लिप देने के लिए जिम्मेदार है।

पूर्व में मैंने 22 श्रमिकों को नियुक्त किया था, अब मैंने इसे घटाकर 18 श्रमिक कर  दिया  है। क्या मेरे प्रतिष्ठान पर श्रम अनुज्ञप्ति लागू है अथवा मुझे इसे वापस कर देना चाहिए ?
हाँ, आपका प्रतिष्ठान अधिनियमके प्रावधानों के अन्तर्गत 20 अथवा उससे अधिक श्रमिकों के नियुक्त रहने के अन्तिम दिन से एक वर्ष की अवधि तक इस अनुज्ञप्ति के अन्तर्गत आएगा।

क्या उप ठेकेदार द्वारा श्रम अनुज्ञप्ति लेना अपेक्षित है ?
यदि मुख्य नियोक्ता उप ठेकेदार के नाम का करार में अनुसमर्थन करता है तो उप ठेकेदार मुख्य नियोक्ता से प्रपत्र v प्राप्त कर अनुज्ञप्ति के लिए  आवेदन कर सकता है।

अनुज्ञप्ति के किसी संशोधन की क्या प्रक्रिया है ?
संशोधन संबंधी विवरणों को विनिर्दिष्ट करने वाले अनुरोध के साथ अनुसूची  के अनुसार अपेक्षित अतिरिक्त अनुज्ञप्ति शुल्क और अतिरिक्त प्रतिभूति  जमा सहित मूल अनुज्ञप्ति प्रस्तुत की जानी चाहिए।

मैंने केवल एक दिन के लिए 20 श्रमिकों को नियुक्त किया था : क्या मेरा प्रतिष्ठान ठेका श्रम (पी एंड आर) अधिनियम, 1970 के अंतर्गत शामिल होगा ?
जी हाँ।

भवन एवं अन्य निर्माण श्रमिक (रोज़गार एवं सेवा शर्त विनियमन) अधिनियम, 1995


श्रमिकों की न्यूनतम संख्या क्या है जिनके लिए पंजीकरण प्रमाण पत्र प्राप्त करना अपेक्षित है ?
10
शुल्क भुगतान का तरीका क्या है ?
किसी राष्ट्रीयकृत बैंक से डिमांड ड्राफ्ट

किनके नाम डिमांड ड्राफ्ट देय होगा ?
डीडीओ एवं सहायक श्रमायुक्त (केंन्द्रीय) ,

पंजीकरण के आवेदन के साथ संलग्न किए जानेवाले दस्तावेज़ क्या है ?
प्रपत्र -I, कार्य आदेश की प्रति, ठेकेदार के फर्म की स्थिति संबंधी प्रमाण पत्र, डिमांड ड्राफ्ट

कार्य स्थल पर लगाई जाने वाली नोटिस/ संक्षिप्त विवरण क्या हैं?
अधिनियम का सार, मज़दूरी की दरों को दर्शाने वाली नोटिस, मज़दूरी भुगतान की तिथि, भुगतान नहीं की गई मज़दूरी के भुगतान की तिथि, कार्य   के   घंटे|

अधिनियम के अंतर्गत श्रमिकों को दी जाने वाली कल्याण संबंधी सुविधाएँ क्या हैं ?

कैंटीन (यदि 100 श्रमिक कार्य कर रहे हों/थे)
आराम कक्ष (यदि श्रमिक रात में रुकने वाले हों)
पेय जल
शौचालय/ प्रसाधन कक्ष
प्राथमिक उपचार सुविधा


अन्तर राज्यीय प्रवासी श्रमिक(रोज़गार एवं सेवा शर्त विनियमन) अधिनियम, 1979

 

श्रमिकों की न्यूनतम संख्या क्या है जिनके लिए अधिनियम के अंतर्गत अनुज्ञप्ति प्राप्त करना अपेक्षित है ?
केवल पाँच

अनुज्ञप्ति के आवेदन के साथ जमा किया जाने वाला अनुज्ञप्ति शुल्क क्या है ?

20 से कम 5 श्रमिकों के लिए – 10 रु
50 से कम 20 श्रमिकों के लिए – 20 रु
100से कम 50 श्रमिकों के लिए – 40 रु
200 से कम 100 श्रमिकों के लिए – 80 रु
400 से कम 200 श्रमिकों के लिए – 160 रु
से कम 400 श्रमिकों के लिए – 200 रु

अनुज्ञप्ति के लिए आवेदन के साथ जमा किया जाने वाला प्रतिभूति जमा क्या है ?
अनुज्ञप्ति अधिकारी प्रवासी श्रमिकों की भर्ती अथवा उनके रोज़गार के लिए प्रदान की जाने वाली आवश्यक राशि का आकलन तैयार करेगा।प्रतिभूति जमा उनके द्वारा अनुमानित राशि के 40% से अधिक नहीं होगा।

अनुज्ञप्ति शुल्क/प्रतिभूति जमा के भुगतान का तरीका क्या होगा ?
डिमांड ड्राफ्ट

डिमांड ड्राफ्ट किनके नाम देय होगा ?
डीडीओ एवं सहायक श्रमायुक्त (केंन्द्रीय)

पंजीकरण के आवेदन के साथ संलग्न किए जानेवाले दस्तावेज़ क्या है ?
प्रपत्र - IV, कार्य आदेश की प्रति, ठेकेदार के फर्म की स्थिति संबंधी प्रमाण पत्र,डिमांड ड्राफ्ट

अनुज्ञप्ति के नवीकरण के लिए कब आवेदन दिया जाना चाहिए ?
अनुज्ञप्ति की अवधि समाप्त होने की तिथि से तीस दिन पूर्व।

संलग्न किया जानेवाला नवीकरण शुल्क क्या है ?
अनुसूची के अनुसार अपेक्षित अनुज्ञप्ति शुल्क सहित मूल अनुज्ञप्ति संशोधन के तथ्यों को विनिर्दिष्ट करते हुए प्रस्तुत की जानी चाहिए।

कार्य स्थल पर लगाई जाने वाली नोटिस/ संक्षिप्त विवरण क्या हैं ?
कार्य का संक्षिप्त विवरण, मज़दूरी की दरों को दर्शाने वाली नोटिस, मज़दूरी भुगतान की तिथि, भुगतान नहीं की गई मज़दूरी के भुगतान की तिथि, कार्य के घंटे

प्रवासी श्रमिकों को मज़दूरी के भुगतान की तिथि क्या होनी चाहिए ?

जहाँ श्रमिक 1000 से कम हो वहाँ प्रत्येक महीने की 7 तारीख को
जहाँ श्रमिक 1000 से ज्यादा हो वहाँ प्रत्येक महीने की 10 तारीख को

अधिनियम के अंतर्गत श्रमिकों को दी जाने वाली कल्याण संबंधी सुविधाएँ क्या हैं ?

चिकित्सा सुविधाएँ
बचाव के कपडे
पेय जल, शौचालय, प्रसाधन सुविधाएँ
आराम कक्ष (यदि श्रमिक रात में रुकते हों)
कैंटीन (यदि 100 श्रमिक काम कर रहे हों/थे)
शिशु गृह

मज़दूरी संदाय अधिनियम – खदान, बडे बन्दरगाह और वायु परिवहन सेवाएँ

 

मज़दूरी संदाय अधिनियम के मुख्य प्रावधान क्या हैं ?
विशिष्ट प्रकार से और नियमित अन्तराल पर बिना किसी गैर प्राधिकृत कटौती के भुगतान इस अधिनियम का उद्देश्य है।

इस अधिनियम के लागू होने के लिए वेतन की अधिकतम सीमा क्या है ?
10,000/- रु

इस अधिनियम केअंतर्गत नियोक्ता द्वारा रखे जाने वाले रजिस्टर/ रिकार्ड क्या हैं ?

मज़दूरी रजिस्टर
मस्टर रोल
समयोपरि भत्ता/ जुर्माना/ अग्रिम राशिरजिस्टर
कटौती/ क्षति रजिस्टर
माप स्लिप

न्यूनतम मज़दूरी अधिनियम

केन्द्रीय क्षेत्र में न्यूनतम मज़दूरी अधिनियम के अंतर्गत अनुसूचित रोज़गार क्या हैं ?

निर्माण भवन संचालन
वाच एंड वार्ड (सुरक्षा सेवाएँ)
झाडू एवं सफाई
रेलवे माल गोदाम में चढ़ाने उतारने के कार्य

केन्द्रीय क्षेत्र में विभिन्न संवर्गों के अंतर्गत निर्धारित मज़दूरी की न्यूनतम दरें ?
मज़दूरी दरों की अनुसूची
इस अधिनियम के अंतर्गत नियोक्ता द्वारा रखे जाने वाले रजिस्टर/ रिकार्ड क्या हैं ?

मज़दूरी रजिस्टर
मस्टर रोल
समयोपरि भत्ता/ जुर्माना/ अग्रिम राशिरजिस्टर
कटौती/ क्षति रजिस्टर
माप स्लिप

क्या केन्द्रीय क्षेत्र में न्यूनतम मज़दूरी की दरों और राज्य क्षेत्र/ संघ राज्य क्षेत्र में मज़दूरी की दरों में भिन्नता है ?
जी हाँ; केन्द्र सरकार और प्रत्येक राज्य सरकार/ संघ राज्य क्षेत्र का प्रशासन समय समय पर अनुसूचित रोज़गार के संबंध में पृथक रूप से न्यूनतम मज़दूरी दरों को अधिसूचित करता है। केन्द्र सरकार अथवा संबंधित राज्य सरकार/ संघ राज्य क्षेत्र प्रशासन द्वाराअधिसूचित दर, जो भी अधिक हो उपलब्ध करा दी जाएगी।

यदि नियोक्ता विहित न्यूनतम दर से कम भुगतान करे तो क्या किया जाना चाहिए ?
पीडित कर्मचारी राहत के लिए अनुरोध करते हुए अधिनियम के अंतर्गत प्राधिकरण के समक्ष दावा आवेदन दाखिल कर सकता है।

दावा आवेदन कौन दाखिल कर सकता है ?
कर्मचारी, कोई अधिवक्ता अथवा किसी भी पंजीकृत मज़दूर संघ का कोई भी कर्मचारी लिखित में उक्त कार्य करने के लिए प्राधिकृत किए जाने पर अथवा अधिनियम के अंतर्गत कोई भी निरीक्षक प्राधिकरण की अनुमति से दावा दाखिल कर सकता है।

अधिनियम के अंतर्गत दावा आवेदन की सुनवाई के लिए कौन प्राधिकारी है ?
क्षेत्रीय श्रमायुक्त (केन्द्रीय),

समान पारिश्रमिक अधिनियम

समान पारिश्रमिक अधिनियम के मुख्य प्रावधान क्या हैं ?
अधिनियम में स्त्री और पुरुष के लिए समान पारिश्रमिक का भुगतान करने तथा रोज़गार और उससेसंबंधित मामले में श्रमिकों के बीच स्त्री- पुरुष का भेदभाव रोकने का प्रावधान है।

अधिनियम के अंतर्गत रखे जाने वाले रजिस्टर कौन कौन से हैं ?
प्रपत्र ख रजिस्टर

अधिनियम के अंतर्गत दावा याचिका की सुनवाई के लिए कौन प्राधिकारी है ?
क्षेत्रीय श्रमायुक्त (केन्द्रीय)

उपदान संदाय अधिनियम

श्रमिकों के लिए उपदान संदाय की पात्रता के मानदंड क्या हैं ?
उपदान किसी भी एसे कर्मचारी को रोज़गार समाप्ति पर देय होगा जिसने कम से कम पाँच वर्षों की निरंतर सेवा की हो, अधिवर्षिता अथवा सेवानिवृत्ति प्राप्त की हो अथवा पदत्याग किया हो अथवा उसकी मृत्यु हो गई हो अथवा दुर्घटना अथवा रोग के कारण विकलांग हो गया हो। (पाँच वर्षों की निरंतर सेवा की शर्त एसे मामले में लागू नहीं होगी जिनमें किसी कर्मचारी की सेवा मृत्यु अथवा विकलांगता के कारण समाप्त हुई हो)

अधिनियम के अंतर्गत निरंतर सेवा क्या है ?
कोई कर्मचारी किसी अवधि के लिए निरंतर सेवा में समझा जाएगा यदि वह उस अवधि के दौरान निर्बाध रूप से सेवा में रहा हो, जिसमें बीमारी, दुर्घटना, अवकाश, बिना अवकाश की अनुपस्थिति, छटनी, हडताल अथवा तालाबंदी अथवा कर्मचारी के दोष के बिना काम पर नहीं रहने के कारण बाधित होने वाली सेवावधि शामिल होगी।

केन्द्रीय क्षेत्र में अधिनियम के अंतर्गत नियंत्रक प्राधिकारी कौन है ?
संबंधित सहायक श्रमायुक्त (केन्द्रीय)

अधिनियम के अंतर्गत कौन अपीलीय प्राधिकारी है ?
संबंधित क्षेत्र का क्षेत्रीय श्रमायुक्त (केन्द्रीय)

उपदान का आवेदन कैसे किया जाना चाहिए ?
अधिनियम के अंतर्गत उपदान संदाय के लिए पात्र कोई भी कर्मचारी अथवा लिखित में उसकी ओर से कार्य करने के लिए प्राधिकृत व्यक्ति सामान्यतया उपदान देय होने की तिथि से तीस दिनों के अंदर नियोक्ता के पास प्रपत्र - I में आवेदन करेगा।

उपदान संदाय के लिए कौन आवेदन कर सकता है ?
कर्मचारी, नामिति अथवा कर्मचारी का कानूनी उत्तराधिकारी

किस परिस्थिति में श्रमिक निर्देश हेतु नियंत्रक प्राधिकारी के पास आवेदन कर सकता है ?
यदि नियोक्ता मनोनयन स्वीकार करने से अथवा नियम के अंतर्गत मांगे गए आवेदन लेने से मना करता है।

क्या अधिनियम के अंतर्गत नियोक्ता से उपदान की वसूली के लिए कोई प्रावधान उपलब्ध है ?
जहाँ नियोक्ता उपदान का भुगतान नहीं कर पाता है, संबंधित कर्मचारी अथवा नामिति अधिनियम की धारा 8 के अंतर्गत उसकी वसूली के लिए प्रपत्र-I में नियंत्रक प्राधिकारी के पास आवेदन कर सकता है।

बोनस संदाय अधिनियम

बोनस संदाय अधिनियम के मुख्य प्रावधान क्या हैं ?
इस अधिनियम में कतिपय प्रतिष्ठानों में मुनाफों के आधार पर अथवा उत्पादन अथवा उत्पादकता और उससे जुडे मामलों के आधार पर नियुक्त व्यक्तियों को बोनस के भुगतान का प्रावधान किया गया है।

अधिनियम के अंतर्गत किन प्रतिष्ठानों को शामिल किया गया है ?
प्रत्येक कारखाना और प्रत्येक प्रतिष्ठान जहाँ वित्त वर्ष के दौरान किसी भी दिन 20 अथवा इससे अधिक व्यक्तियों को नियुक्त किया जाता है, अधिनियम के अंतर्गत शामिल होगा।

अधिनियम के अंतर्गतबोनस संदाय के लिए पात्रता हेतु वेतन की अधिकतम सीमा क्या है ?
10,000/- रु

अधिनियम के अंतर्गत नियोक्ता द्वारा रखे जाने वाले रजिस्टर/ रिकार्ड क्या हैं ?
प्रपत्र क, ख, ग, घ रजिस्टर (सहायक सामग्रियों को भी रखा जाना चाहिए)।

क्या मैं 20% बोनस के लिए पात्र हूँ ?
जब आवंटीय अतिरिक्त राशि कर्मचारियों को देय न्यूनतम बोनस की राशि से अधिक हो जाए तो नियोक्ता लेखा वर्ष के दौरान कर्मचारी के वेतन अथवा उसके द्वारा अर्जित मज़दूरी के अनुपात में राशि प्रत्येक कर्मचारी को देने के लिए बाध्य है, परन्तु यह राशि अधिकतम 20% होगी।

क्या प्रथागत बोनस अनिवार्य है ?
हाँ
मैं नई कम्पनी में काम कर रहा हूँ, क्या मैं बोनस का पात्र हूँ ?
जिस लेखा वर्ष में नियोक्ता उत्पादित अथवा विनिर्मित माल को बेचता है अथवा उस प्रतिष्ठान में सेवा प्रदान करता है, जैसा भी मामला हो, उस वर्ष के बाद प्रथम पाँच लेखा वर्षों में बोनस केवल उस लेखा वर्ष के संबंध में देय होगा जिस वर्ष में नियोक्ता ऐसे प्रतिष्ठान से मुनाफ़ा अर्जित करता है।

न्यूनतम/ अधिकतम देय बोनस क्या है ?
न्यूनतम 8.33% और अधिकतम 20%

यदि नियोक्ता मुनाफ़ा अर्जित नहीं करता है तो क्या मैं बोनस प्राप्त करने का पात्र हूँ ?
हाँ,
बोनस कब देय होता है ?
बोनस लेखा वर्ष समाप्त होने से आठ महीने की अवधि के अन्दर देय होता है।

औद्योगिक विवाद अधिनियम,1947

औद्योगिक विवाद अधिनियम,1947के अंतर्गत अवार्ड क्या है ?
अवार्ड का अर्थ किसी औद्योगिक विवाद अथवा उससे संबंधित किसी प्रश्न का अंतरिम अथवा अंतिम निर्धारण है। निर्धारण अनिवार्य रूप से किसी श्रम न्यायालय, औद्योगिक न्यायाधिकरण अथवा राष्ट्रीय न्यायाधिकरण द्वारा ही होना चाहिए। इसमें धारा 10 क के अंतर्गत दिया गया मध्यस्थ अवार्ड शामिल है।

औद्योगिक विवाद अधिनियम,1947 के अंतर्गत बन्दी क्या है ?
बन्दी का अर्थ रोज़गार के किसी स्थान अथवा उसके किसी भाग को स्थाई रूप से बन्द करना है।

औद्योगिक विवाद अधिनियम,1947के अंतर्गत छटनी क्या है ?
छटनी का अर्थ श्रमिकों को अस्थाई रूप से हटा देना है। नियोक्ता जब नियुक्त करने का इच्छुक हो, परन्तु अपने नियंत्रण से परे कारणों से रोज़गार देने में विफल हो जाता है अथवा मना करता है अथवा असमर्थ हो जाता है।

औद्योगिक विवाद अधिनियम,1947के अंतर्गत तालाबंदी क्या है ?
तालाबंदी का अर्थरोज़गार की पदस्थापना को बन्द करना, कार्य को लंबित रखना अथवा नियोक्ता द्वारा अपने द्वारा नियुक्त कुछ व्यक्तियों को रोज़गार पर रखने से मना करना है।

क्षतिपूर्ति के लिए छटनी किए गए श्रमिकों के क्या अधिकार हैं ?
एक वर्ष की सेवा पूरी करने वाले श्रमिक कुल मूल मज़दूरी का पचास प्रतिशत और महँगाई भत्ता के रूप में क्षतिपूर्ति के पात्र होंगे।

औद्योगिक विवाद अधिनियम,1947 के अंतर्गत कटौती क्या है ?
कटौती का अर्थ अनुशासनात्मक कार्रवाई के तौर पर दंड के रूप में छोडकर अन्य किसी कारण से नियोक्ता द्वारा अतिरिक्त श्रमिकों की कटौती है।
छटनी की प्रक्रिया क्या है ?
नियोक्ता औरश्रमिक के बीच किसी करार के अभाव में नियोक्ता सामान्यतया संवर्ग में सबसे आखिर में नियुक्त श्रमिक की छटनी करेगा।

औद्योगिक विवाद अधिनियम,1947 के अंतर्गत समाधान क्या है ?
समाधान में दो प्रकार के समाधानों की परिकल्पना की गई है। एक समाधान मध्यस्थता की कार्यवाहियों के क्रम में प्राप्त समाधान है और दूसरा मध्यस्थता कार्यवाही के क्रम से हटकर नियोक्ता और श्रमिकों के बीच लिखित करार द्वारा प्राप्त समाधान है।

औद्योगिक विवाद अधिनियम,1947के अंतर्गत निर्माण समिति क्या है ?
निर्माण समिति में नियोक्ता और प्रतिष्ठान में लगाए गए श्रमिकों के बीच सौहार्द और अच्छे संबंधों को सुनिश्चित और संरक्षित रखने के उपायों को प्रोत्साहन देने के लिए नियोक्ता और श्रमिकों के बराबर प्रतिनिधि शामिल होंगे।

निर्माण समिति गठित करने के लिए किसी औद्योगिक प्रतिष्ठान में कितने श्रमिकों का होना अपेक्षित है ?
सौ अथवा इससे अधिक

औद्योगिक विवाद अधिनियमके अंतर्गत मध्यस्थता कार्यवाही की विफ़लता का क्या अर्थ है ?
यदि मध्यस्थता के दौरान कोई समाधान नहीं निकलता है तो मध्यस्थता अधिकारी धारा 12 (4) के अंतर्गत जाँच की समाप्ति के शीघ्र बादसरकार को समाधान के लिए विवाद संबंधी तथ्यों और परिस्थितियों का पता लगाने के लिए ऐसे तथ्यों और परिस्थितियों के विवरण तथा उनके दृष्टिकोण से समाधान नहीं होने के कारणों सहित उनके द्वारा उठाए गए कदमों से संबंधित रिपोर्ट भेजेगा।

धारा 10 के अंतर्गत न्याय-निर्णयन के लिए भेजने का क्या अर्थ है ?
जहाँ उपयुक्त सरकार की यह राय होती है कि कोई औद्योगिक विवाद है अथवा उसकी आशंका है तो वह किसी भी समय लिखित में विवाद को उसके समाधान के लिए बोर्ड के पास भेज सकती है अथवा किसी मामले जो विवाद से जुडा अथवा सम्बद्ध प्रतीत हो को जाँच के लिए न्यायालय के पास भेज सकती है अथवा किसी भी मामले के विवाद जो विवाद से जुडा अथवा सम्बद्ध प्रतीत हो, श्रम न्यायालय के पासन्याय-निर्णयन के लिए भेज सकती है यदि विवाद दूसरी अनुसूची में विनिर्दिष्ट किसी मामले से सम्बद्ध हो अथवा विवाद अथवा विवाद से जुडे या सम्बद्ध प्रतीत होने वाले किसी मामले को चाहे वह दूसरी अनुसूची अथवा उनकी अनुसूची में विनिर्दिष्ट मामले से जुडा हो अथवा नहीं न्याय-निर्णयन के लिए न्यायाधिकरण के पास भेज सकती है।

धारा 25 च (अध्याय V क) में छटनी के लिए पूर्ववर्ती शर्तें क्या है ?
किसी नियोक्ता के अंतर्गत कम से कम एक वर्ष की निरंतर सेवा में रहने वाले किसी उद्योग में नियुक्त किसी भी श्रमिक की छटनीनियोक्ता द्वारा तब तक नहीं की जाएगी जब तक की श्रमिक को एक महीने की नोटिस, पन्द्रह दिनों के औसत वेतन के बराबर क्षतिपूर्ति और विहित प्रपत्र में उपयुक्त सरकार को नोटिस नहीं दे दी जाए।

औद्योगिक विवाद अधिनियमके अंतर्गत अध्याय V क और V ख क्या है ?
अध्याय V क और V ख छंटनी और कटौती तथा कतिपय प्रतिष्ठानों में बन्दी से संबंधित हैं।

श्रम न्यायालय का क्षेत्राधिकार क्या है ?
उपयुक्त सरकार दूसरी अनुसूची में विनिर्दिष्ट किसी मामले से संबंधित औद्योगिक विवादों के न्याय-निर्णयन के लिए तथा अधिनियम के अंतर्गत सौंपे गए कुछ अन्य कार्यों के लिए सरकारी राजपत्र में अधिसूचित करते हुए एक अथवा इससे अधिक श्रम न्यायालयों का गठन कर सकती है।

औद्योगिक न्यायाधिकरण क्या है ?
किसी भी मामले, चाहे दूसरी अनुसूची अथवा तीसरी अनुसूची में विनिर्दिष्ट हो अथवा नहीं,से संबंधित औद्योगिक विवादों के न्याय-निर्णयन के लिए मंच।


धारा 9 क के अंतर्गत सेवा शर्त में परिवर्तन क्या है ?
चौथी अनुसूची में विनिर्दिष्ट किसी मामले के संबंध में किसी श्रमिक के लिए लागू सेवा शर्त में परिवर्तन का प्रस्ताव करने वाला कोई भी नियोक्ता विहित तरीके से ऐसे परिवर्तन संबंधी नोटिस ऐसे परिवर्तन से प्रभावित होने वाले श्रमिक को बिना दिए ऐसा नहीं कर सकता है। यह धारा कुछ ही स्थितियों में लागू होती है।


धारा 9 क की चौथी अनुसूची के अंतर्गत उल्लिखित बिन्दुएँ क्या हैं ?
औद्योगिक विवाद अधिनियम की चौथी अनुसूची।

रेलवे कर्मचारियों के लिए रोज़गार के घंटे संबंधी विनियमन

ड्यूटी रोस्टर क्या है ?
दस्तावेज़ जो कर्मचारी के कार्य के घंटों और विश्राम की अवधि को दर्शाता हो।

आवधिक विश्राम क्या है ?
रेलवे कर्मचारी को प्रत्येक सप्ताह अथवा आवधिक रूप से दिया जाने वाला विश्राम आवधिक विश्राम कहलाता है।

निष्क्रियता की अवधि क्या है ?
निष्क्रियता की अवधि समय की वह अवधि है जिसके दौरान कर्मचारी कार्य स्थल पर अथवा कार्य पर अनिवार्य रूप से उपस्थित रहता है, परन्तु कोई शारीरिक कार्य कलाप अथवा निरंतर ध्यान रखने वाला कोई कार्य नहीं करता है।

लांग ऑन क्या है ?
लांग ऑन गहन श्रमिकों के मामले में 8 घंटे से अधिक की कार्यावधि, निरंतर कार्य करने वाले श्रमिकों के मामले में 10 घंटे से अधिक की कार्यावधि तथा अनिवार्य रूप से विरामी कार्य करने वाले श्रमिकों के मामले में 12 घंटे से अधिक की कार्यावधि है।

एच ओ ई आर के अंतर्गत रात की ड्यूटी क्या है ?
ड्यूटी के रोस्टर घंटे का वह भाग जो रात 10 बजे से सुबह 6 बजे के बीच आता है, रात की ड्यूटी है।

गहन वर्गीकरण क्या है ?
निरंतर ध्यान केन्द्रित करने अथवा कठिन शारीरिक श्रम करने की अनिवार्यता वाली और थका देने वाली प्रकृति की ड्यूटी जिसमें छूट की कोई अवधि नहीं हो।

अनिवार्य रूप से विरामी वर्गीकरण क्या है ?
रेलवे कर्मचारी का वह रोज़गार जिसमें दैनिक कार्य के घंटों में 6 घंटे अथवा इससे अधिक की निष्क्रियता की अवधि शामिल होती है और इसमें कम से कम एक घंटे की कम से कम एक अवधि अथवा कम से कम आधे घंटे की कम से कम दो अवधि शामिल हैं जिनके दौरान रेलवे कर्मचारी ड्यूटी पर होता है, परन्तु उसे शारीरिक कार्यकलाप के लिए अथवा निरंतर ध्यान रखने के लिए नहीं कहा जाता है।

बाल श्रम (निषेध और विनियमन) अधिनियम, 1986

अधिनियम के अंतर्गत शामिल प्रतिष्ठान (केन्द्रीय क्षेत्र के अंतर्गत) कौन कौन हैं ?
केन्द्र सरकार अथवा रेलवे प्रशासन के नियंत्रण के अधीन प्रतिष्ठान अथवा महत्वपूर्ण बन्दरगाह अथवा खदान अथवा तेल क्षेत्र से संबंधित।

अधिनियम के अंतर्गत बच्चा कौन है?
बच्चा का अर्थ है व्यक्ति जिसने चौदह वर्ष की आयु पूरी नहीं की हो।

किन पेशों में बच्चे का नियोजन प्रतिबंधित है?
अनुसूची के भाग क में निर्धारित किसी भी पेशे में अथवा किसी भी कार्यशाला में जिसमें अनुसूची ख में निर्धारित प्रक्रियाओं में कोई भी प्रक्रिया चलाई जाती है, किसी भी बच्चे को नियुक्त करने अथवा कार्य करने की अनुमति नहीं होगी।

अधिनियम के अंतर्गत रखे जाने वाले रजिस्टर कौन कौन से हैं ?
ऐसे नियुक्त अथवा कार्य के लिए अनुमति प्राप्त प्रत्येक बच्चे का नाम और जन्म तिथि, ऐसे बच्चे के कार्य के घंटे और अवधियाँ, विश्राम के अन्तराल तथा ऐसे किसी बच्चे के कार्य की प्रकृति को दर्शानेवाला रजिस्टर।

अधिनियम के अंतर्गत प्रदर्शित की जाने वाली नोटिसें क्या हैं ?
स्थानीय भाषा में और अंग्रेज़ी में अधिनियम की धारा 3 और 14 का सार

प्रसूति लाभ अधिनियम,1961

इस अधिनियम के अंतर्गत शामिल प्रतिष्ठान (केन्द्रीय क्षेत्र के अंतर्गत) कौन कौन से हैं ?
खान वाले प्रतिष्ठान अथवा ऐसे प्रतिष्ठान जिनमें व्यक्तियों को घुड़सवारी, कलाबाजी और अन्य प्रकार के प्रदर्शन के लिए नियुक्त किया जाता है।

अधिनियम के अंतर्गत बच्चा कौन है?
बच्चे में मृतजात बच्चा शामिल है।

अधिनियम के अंतर्गत प्रसव का क्या अर्थ है?
प्रसव का अर्थ बच्चे का जन्म है।

अधिनियम के अंतर्गत कब महिलाओं का नियोजन प्रतिबंधित है?
प्रसव अथवा गर्भपात के दिन से छ: सप्ताह के दौरान।

अधिनियम के अंतर्गत उपलब्ध लाभ क्या हैं?
गर्भपात के दिन से छ: सप्ताह की अवधि के लिए मज़दूरी सहित अवकाश।

अधिनियम के अंतर्गत मैं लाभ का पात्र कब हो सकता हूँ ?
कोई भी महिला कर्मचारी जिसने वास्तव में उस नियोक्ता के प्रतिष्ठान में काम किया हो जिससे वह प्रसव की अनुमानित तिथि से पूर्व बारह महीने में कम से कम 80 दिनों की अवधि के लिए प्रसूति लाभ का दावा करती है,प्रसूति लाभ का पात्र होगा।


कार्यशाला में प्रदर्शित की जाने वाली सूचना क्या है ?
अधिनियम के प्रावधानों का सार।

औद्योगिक रोज़गार (स्थाई आदेश) अधिनियम, 1946

स्थाई आदेश क्या है ?
रोज़गार की शर्तों को दर्शानेवाला विवरण


अधिनियम के लागू होने का मानदंड क्या है ?
अधिनियम उन औद्योगिक प्रतिष्ठानों पर लागू है जिनमें सौ और इससे अधिक श्रमिक नियुक्त हैं।


इस अधिनियम के अंतर्गत प्रारूप स्थाई आदेशों को प्रस्तुत करने की समय सीमा क्या है ?
किसी औद्योगिक प्रतिष्ठान पर जब से यह अधिनियम लागू हो जाता है तब से छ: महीने के अन्दर।


अधिप्रमाणन अधिकारी कौन है ?
संबंधित क्षेत्र का क्षेत्रीय श्रमायुक्त (केन्द्रीय)

 

 

स्रोत: भारत सरकार का मुख्य श्रम आयुक्त (केन्द्रीय)कार्यालय

2.95454545455

Ganga Banjare Oct 29, 2018 04:24 PM

Sir Mujhe Bhilai still plant ke khadan me 9 sal teka majduri karte ho gaya or usme 138 mjdur Karya me to ham log ko chatni kar sakte hai kya

Vivek Oct 08, 2018 07:25 PM

मेरा नाम विवेक यादव है मैं जिला शाहजहांXुर यूपी के ग्राम मुकरमपुर तसील सदर का रहने वाला हूं मैंने अगस्त 2012 से भूमि परीक्षण प्रXोगशाला कृषि विभाग शाहजहांXुर में सितम्बर 2018 तक निरंतर कार्य किया है । इतने दिन सरकारी दफ्तर में कार्य करने के बाद मुझे 01-10-2018 को हटा दिया गया।। क्या मैं कोर्ट में जाकर नियमित होने के लिए केस कर सकता हूं।। उचित मार्गXर्शX देने का कष्ट करें।।

नीरज सिंह ,शहडोल म.प्र. Sep 23, 2018 01:29 PM

मै पुणे चाकन मे Davi engineering कम्पनी मे काम किया था ,अक्टूबर - नवंबर 2017 मे और ,आवश्क कार्य पड़ जाने के कारण मुझे 6 नवंबर को गांव जाना पडा़ ,जब मै गांव से आया तो मुझे अक्टूबर- नवंबर का पेमेंट नही दिया जा रहा है ,contract पंकज पाण्डे ,कहता है कि एक माह लगेगा ,रजिसटर खोजने मे ,, मै विX्Xार्थी हूँ ,पं. शंभूनाथ विश्वविX्XालX AM हिंदी की पढाई कर रहा हूँ, mob... 88XXX 8

राजीव नयन जोशी Sep 08, 2018 11:12 PM

मुझे सरकारी नौकरी में अस्थाई रूप से कार्य करते हुए 10 वषों से अधिक हो गया है, क्या मुझे समानांतर वेतन पाने का हक है ?

उत्तम kumawat Sep 06, 2018 02:27 PM

मेने प्राइवेट शेयर मार्किट एडवाइजरी कंपनी में जॉब के दौरान मेरा इन्सेन्टिस २०६०० रूपए बना था लेकिन कंपनी देने से मना कर रही ह क्या करना चाहिए

अपना सुझाव दें

(यदि दी गई विषय सामग्री पर आपके पास कोई सुझाव/टिप्पणी है तो कृपया उसे यहां लिखें ।)

Enter the word
नेवीगेशन
Back to top

T612019/10/15 02:12:5.352033 GMT+0530

T622019/10/15 02:12:5.379130 GMT+0530

T632019/10/15 02:12:5.379799 GMT+0530

T642019/10/15 02:12:5.380070 GMT+0530

T12019/10/15 02:12:5.319047 GMT+0530

T22019/10/15 02:12:5.319201 GMT+0530

T32019/10/15 02:12:5.319365 GMT+0530

T42019/10/15 02:12:5.319497 GMT+0530

T52019/10/15 02:12:5.319594 GMT+0530

T62019/10/15 02:12:5.319676 GMT+0530

T72019/10/15 02:12:5.320385 GMT+0530

T82019/10/15 02:12:5.320559 GMT+0530

T92019/10/15 02:12:5.320786 GMT+0530

T102019/10/15 02:12:5.320985 GMT+0530

T112019/10/15 02:12:5.321060 GMT+0530

T122019/10/15 02:12:5.321159 GMT+0530